Top
उत्तर प्रदेश

UP : जिसका हुआ था मुंडन वो निकला भारतीय, 1 हजार रुपये लालच में बना था नेपाली

Janjwar Desk
19 July 2020 10:57 AM GMT
UP : जिसका हुआ था मुंडन वो निकला भारतीय, 1 हजार रुपये लालच में बना था नेपाली
x
वाराणसी पुलिस का कहना है कि जिस युवक के साथ ये घटना हुई वो नेपाली नहीं, बल्कि भारतीय है. उसका जन्म वाराणसी में ही हुआ है...

जनज्वार। वाराणसी में नेपाली युवक के सिर मुंडाने के मामले में पुलिस ने अब चौंकाने वाला खुलासा किया है. वाराणसी पुलिस का कहना है कि जिस युवक के साथ ये घटना हुई वो नेपाली नहीं, बल्कि भारतीय है. उसका जन्म वाराणसी में ही हुआ है.

पुलिस ने कहा कि युवक का आधार और वोटर आईडी कार्ड भी वाराणसी का है. आरोपियों को वह पहले से जानता था. युवक को अपने बाल को साफ कराने के एवज में एक हजार रुपए भी मिले थे. पुलिस ने इस पूरे मामले में 6 लोगों को गिरफ्तार किया है.

वाराणसी के एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि हमारा संपर्क वीडियो में दिख रहे व्यक्ति से हुआ. वह वाराणसी में ही रहता है और जल संस्थान की सरकारी कॉलोनी में उसका आवास है. युवक के पिता और माता दोनों ही सरकारी नौकरी में हैं. जिन व्यक्तियों द्वारा वीडियो बनाया गया उससे इनका पूर्व का परिचय भी पाया गया.

अमित पाठक के मुताबिक, युवक ने बताया कि उन व्यक्तियों के कहने पर वह उनके साथ गए और वीडियो को बनवाने के एवज में इन्हें 1000 रुपये की धनराशि भी प्राप्त हुई. इस पूरे घटनाक्रम में और सबूत जुटाए जा रहे हैं.

एसएसपी ने आगे बताया कि 16 जुलाई शाम को अरुण पाठक नामक एक व्यक्ति की ओर से अपने फेसबुक अकाउंट से एक वीडियो जारी किया गया. उस वीडियो का संज्ञान लेते हुए थाना भेलूपुर में मामला दर्ज किया गया. वीडियो में पड़ोसी देश के व्यक्तियों और राजनीतिक लोगों के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी थी. इस क्रम में वाराणसी पुलिस शुक्रवार को चार व्यक्ति और आज दो व्यक्तियों को गिरफ्तार की.

गिरफ्तार किए गए आरोपियों के नाम संतोष पांडे, आशीष मिश्रा, राजू यादव, अमित दुबे, राजेश राजभर, जय गणेश शर्मा है. इस पूरे मामले में विश्व हिंदू सेना का अध्यक्ष और मुख्य अभियुक्त अरुण पाठक अभी तक गिरफ्तार नहीं हुआ है.

Next Story

विविध

Share it