Top
उत्तर प्रदेश

हाथरस के पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे राहुल गांधी से धक्का-मुक्की, जमीन पर गिरे

Janjwar Desk
1 Oct 2020 9:52 AM GMT
हाथरस के पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे राहुल गांधी से धक्का-मुक्की, जमीन पर गिरे
x
राहुल गांधी ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि अभी अभी पुलिस ने मुझे धक्का दिया, लाठी मारी और मुझे जमीन पर फेंक दिया। उन्होंने कहा कि मैं पूछना चाहता हूं कि क्या इस देश में सिर्फ मोदी जी को पैदल चलने का अधिकार है, हमारे जैसे आम लोग पैदल नहीं चल सकते....

हाथरस। उत्तर प्रदेश के हाथरस कांड को लेकर विपक्षी राजनीतिक पार्टियों है। इसी क्रम में पीड़ित परिवार से मिलने के लिए राहुल गांधी और प्रियंका गांधी हाथरस के लिए रवाना हुए। हालांकि यमुना एक्सप्रेसवे पर दोनों अपनी गाड़ियों से उतरकर पैदल ही हाथरस के लिए निकल पड़े। इस बीच एक तस्वीर यह भी देखने को मिली कि राहुल गांधी धक्का-मुक्की के बाद जमीन पर गिर पड़े। जिसके बाद उनकी सुरक्षा में लगे जवानों ने उठाया। तस्वीरों में दिख रहा है कि राहुल गांधी कार्यकर्ताओं के धक्के से गिरे, लेकिन उनका आरोप है कि पुलिस ने उन्हें धक्का दिया और लाठियों से मारा।

राहुल गांधी ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि अभी अभी पुलिस ने मुझे धक्का दिया, लाठी मारी और मुझे जमीन पर फेंक दिया। उन्होंने कहा कि मैं पूछना चाहता हूं कि क्या इस देश में सिर्फ मोदी जी को पैदल चलने का अधिकार है। हमारे जैसे आम लोग पैदल नहीं चल सकते। हमारी गाडियां रोकी गई इसलिए हम पैदल चल रहे हैं।

उधर मामले में बीजेपी ने इसे सियासी ड्रामा करार दिया है। बीजेपी प्रवक्ता चंद्रमोहन ने कहा कि दोनों भाई बहन सियासी रोटी सकने के लिए सडक पर ड्रामा कर रहे हैं। जब उन्हें इस बात की जानकारी दे दी गई है कि धारा 144 लागू है तो फिर क्यों कानून का पालन नहीं कर रहे। जब उनकी गाडियां रोकी नहीं गई तो पैदल चलकर क्या दिखाना छह रहे हैं।

उन्होंने कहा कि मामले में एसआईटी जांच कर रही है। आरोपी सलाखों के पीछे हैं। परिवार की पूरी मदद की जा रही है। चंद्रमोहन ने कहा कि सिर्फ राजनीति के लिए यह ड्रामा किया जा रहा है।

Next Story

विविध

Share it