Top
शिक्षा

जम्मू-कश्मीर बोर्ड ने जारी किए कश्मीर डिवीजन 12वीं के नतीजे, लड़कियों ने मारी बाजी

Nirmal kant
23 Jan 2020 10:01 AM GMT
जम्मू-कश्मीर बोर्ड ने जारी किए कश्मीर डिवीजन 12वीं के नतीजे, लड़कियों ने मारी बाजी

10780 छात्र एक या एक से अधिक विषयों में अनुत्तीर्ण (Fail) हुए हैं और 365 सभी विषयों में फेल हुए हैं। 55 छात्र परीक्षा में उपस्थित नहीं हुए और 128 छात्रों के परिणाम रोक दिए गए हैं। आठ छात्रों की परीक्षा रद्द कर दी गई थी...

श्रीनगर से फैजान मीर की रिपोर्ट

लंबे समय के इंतजार के बाद जम्मू-कश्मीर विद्यालयी शिक्षा बोर्ड ने कश्मीर डिवीजन के नतीजे बुधवार 22 जनवरी को घोषित कर दिया गए। इन परीक्षा परिणामों में लड़कियों ने लड़कों को पछाड़ते हुए बाजी मार दी है। नतीजे दोपहर करीब 12 बजे जारी किए गए।

नुच्छेद 370 को निरस्त किए जाने के बाद से इंटरनेट पर लगी पाबंदी के चलते स्टुडेंट्स को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। कुछ छात्रों ने अपने परीक्षा परिणाम ऑनलाइन जानने के लिए अपने रिश्तेदारों से राज्य से बाहर संपर्क किया।

संबंधित खबर : कश्मीर पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी मॉड्यूल का किया भंडाफोड़, पांच आतंकी गिरफ्तार, भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद

इंटरनेट सुविधा के अभाव में परिणाम पुराने गजट प्रारूप में जारी किये गए। गजट एक पीडीएफ में था जो एक पेन ड्राइव से दूसरे तक वायरल होता रहा।

ऐसे रहे परीक्षा के नतीजे

बारहवीं की बोर्ड परीक्षा में कुल 46,599 स्टुडेंट्स शामिल हुए थे जिनमें से 35,454 स्टुडेंट्स उत्तीर्ण हुए। बीते सालों की तुलना में अनुत्तीर्ण हुए स्टुडेंट्स की संख्या कम रही। बीते साल 2019 में 76 प्रतिशत स्टुडेंट्स अनुत्तीर्ण हुए। नतीजों के मुताबिक कुल 12 टॉपर्स में से केवल दो लड़के हैं।

के अधिकारियों द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के अनुसार, 10408 छात्र डिस्ट्रीब्यूशन होल्डर हैं, 15684 स्टूडेंट्स फर्स्ट डिवीजन में पास हुए हैं, 7756 को सेकंड डिविजन और 1606 स्टूडेंट्स को थर्ड डिवीजन मिला है।

समें कहा गया है कि 10780 छात्र एक या एक से अधिक विषयों में अनुत्तीर्ण (Fail) हुए हैं और 365 सभी विषयों में फेल हुए हैं। 55 छात्र परीक्षा में उपस्थित नहीं हुए और 128 छात्रों के परिणाम रोक दिए गए हैं। आठ छात्रों की परीक्षा रद्द कर दी गई थी।

संबंधित खबर : कश्मीर की जनता बोली, इंटरनेट तो छीन लिया अब पेट्रोल तो मत छीनो

स बार भी लड़कियों ने शीर्ष स्थान हासिल किया। चौंकाने वाली बात यह है कि गृह विज्ञान में सभी शीर्ष दस स्थानों पर कश्मीर घाटी के विभिन्न इलाकों की लड़कियां रहीं। दिलचस्प बात यह है कि ये सभी सरकार द्वारा संचालित स्कूलों से हैं।

अलावा कला वर्ग में कुल सोलह टॉपर हैं जो कि सभी लड़कियां हैं। कला वर्ग के बहुत सारे टॉपर्स में एचएसएस सतुरा के एजाज अहमद मीर हैं। विज्ञान और वाणिज्य संकाय के टॉपर्स निजी और सरकारी दोनों अलग-अलग स्कूलों से हैं।

Next Story

विविध

Share it