Top
समाज

कश्मीर पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी मॉड्यूल का किया भंडाफोड़, पांच आतंकी गिरफ्तार, भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद

Nirmal kant
17 Jan 2020 8:01 AM GMT
कश्मीर पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी मॉड्यूल का किया भंडाफोड़, पांच आतंकी गिरफ्तार, भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद
x

कश्मीर पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी मॉड्यूल का किया भंडाफोड़, पांच आतंकी गिरफ्तार, पुलिस ने ग्रेनेड हमलों के दो मामलों को सुलझाने का किया दावा..

श्रीनगर से फैजान मीर की रिपोर्ट

श्रीनगर। कश्मीर पुलिस को आज एक बड़ी सफलता मिली है। गणतंत्र दिवस पर धमाका करने की फिराक में जुटे जैश-ए-मोहम्मद के पांच आतंकवादियों को कश्मीर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक ये आतंकी गणतंत्र दिवस पर धमाका करने वाले थे। आतंकियों के कब्जे से भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद हुआ है। पुलिस के मुताबिक, इन विस्फोटकों को देख लगता है कि यह पूरे कश्मीर को ही तबाह करने के नापाक कोशिश में थे।

श्मीर में आजादी की मांग का यह भी एक तरीका है। इन बम और बारूदों से भला आजादी लेकर यह आतंकी किस मुल्क और समुदाय को बेहतर बनाएंगे।

संबंधित खबर : जम्मू-कश्मीर के गिरफ़्तार DSP दविंदर सिंह के अफ़ज़ल गुरु से कैसे जुड़े थे तार?

श्मीर पुलिस के डीआईजी ने बताया कि शहर श्रीनगर में कुछ आतंकी घटनाएं हुई थी। जिसमें एक 8 तारीख को हबब में ग्रेनेड हमला हुआ था। उससे पहले 26 नवंबर को कश्मीर यूनिवर्सिटी के नजदीक सर सैय्यद गेट के नजदीक जो बाजार था, उसमें कुछ नागरिक घायल भी हुए थे। श्रीनगर पुलिस ने इस मामले की जांच की थी और ये मामला सुलझा दिया गया है। इस दौरान पांच लोग गिरफ्तार किए गए हैं।

पुलिस के मुताबिक इन आतंकियों के नाम एजाज अहमद खान, उमर हमीद शेख, इम्तियाज अहमद, साहिल अहमद, नसीर अहमद मीर हैं जो सभी सोरा जिले के हजरतबल के रहने वाले हैं। जांच में पता चला है कि हबब में इन्होंने दोपहिया वाहन पर ग्रेनेड हमला किया था। आगे जो पूछताछ के आधार पर कार्रवाई की गई तो इन्होंने दो और लोगों के नाम बताए, फिर पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया।

न्होंने बताया कि इस केस के दौरान शहर श्रीनगर में कई जगह छापेमारी की गई जिसमें कई विस्फोटक सामग्री बरामद की गई है। इस तफ्तीश की मदद से श्रीनगर पुलिस ने आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है।

संबंधित खबर : कश्मीर में नेटबंदी पर सुप्रीम कोर्ट हुआ सख्त, कहा लगातार धारा 144 लागू रखना सरकारी शक्ति का दुरुपयोग

न्होंने आगे बताया कि शुरूआती जांच के हिसाब से इन लोगों का मकसद था कि मार्केट में जो दुकान खुल रही थी और जो नॉर्मल जिंदगी गुजर बसर हो रही थी तो उसमें खलल डालना इनका मकसद था। जिस तरह के विस्फोटक सामग्री बरामद की गई है तो उससे जाहिर है कि इनके मंसूबे नेक नहीं थे। जांच से इनके आतंकी हमले का मंसूबा जाहिर होता है।

पुलिस के मुताबिक इस केस में जांच चल ही रही है। आगे जो भी कार्रवाई होगी आपसे साझा की जाएगी। शुरूआती जांच के मुताबिक ये सभी आतंकी जैश-ए-मोहम्मद से ताल्लुक रखने वाले हैं।

पुलिस के मुताबिक आतंकियों से जिलेटिन रॉड्स/ स्टिक 143, 7 सेकेंडरी एक्सपोलिसेस, 1 साइलेंसर, 42 डेटोनेटर, 1 एक्सोप्लेव्स और बॉल बेयरिंग, बॉडी वेस्ट, IED- 01 के रिमोट ट्रिगर, 01 सीडी ड्राइव आदि बरामद हुए हैं।

Next Story

विविध

Share it