Top
अंधविश्वास

अंधविश्वास के खिलाफ रामनगर में कार्यशाला आयोजित, वक्ता बोले वैज्ञानिक चेतना से करना होगा समाज को पाखंडों से मुक्त

Prema Negi
19 Jan 2020 11:18 AM GMT
अंधविश्वास के खिलाफ रामनगर में कार्यशाला आयोजित, वक्ता बोले वैज्ञानिक चेतना से करना होगा समाज को पाखंडों से मुक्त

आधुनिक युग में भी हम कई कुरीतियों और अंधविश्वास के मकड़जाल में फंसे हुए हैं, कभी धर्म के नाम पर तो कभी परंपराओं और रिवाजों के नाम पर....

रामनगर, जनज्वार। साइंस फार सोसायटी द्वारा समाज में वैज्ञानिक चेतना को बढ़ाने के लिए आज 19 जनवरी को एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में साइंस फॉर सोसायटी के सदस्य और समाज के चिंतनशील लोगों, विद्यार्थियों ने भागीदारी की।

स कार्यशाला का मकसद चमत्कार का वैज्ञानिक स्वरूप क्या है, इसको जानना-समझना था। इसके अलावा समाज में अंधविश्वास से क्या-क्या कुरीतियां फैल रही हैं, उन्हें दूर करने को लेकर इस दौरान प्रशिक्षण दिया गया तथा चमत्कार के पीछे वैज्ञानिक आधार को प्रयोगों के माध्यम से प्रमाणित कर दिखाया।

कार्यशाला में तर्कशील सोसायटी, पंजाब से हरचंद्र व राम कुमार ने चमत्कार के नाम पर कई प्रयोग कर सबको वैज्ञानिक तकनीकें सिखाई और अपना अपना अनुभव इस कार्यक्रम में लोगों के साथ साझा किये।

संबंधित खबर : अंधविश्वास के खिलाफ वैज्ञानिक चेतना बढ़ाने के लिए रामनगर में होगी कार्यशाला आयोजित

इस दौरान अपनी बात रखते हुए जनज्वार के संपादक अजय प्रकाश ने कहा कि इस आधुनिक युग में भी हम कई कुरीतियों और अंधविश्वास के मकड़जाल में फंसे हुए हैं। कभी धर्म के नाम पर तो कभी परंपराओं और रिवाजों के नाम पर। हम सबको वैज्ञानिक चेतना समृद्ध कर सारे पाखण्डों से मुक्त होना होगा।

गौरतलब है कि तर्कशील सोसायटी पिछले लंबे समय से पंजाब, हरियाणा तथा देश के दूसरे हिस्सों में ज्ञान विज्ञान को स्थापित करने तथा अंधविश्वास को दूर करने के लिए कार्य कर रही है।

कार्यशाला में सवाल पूछते एक स्रोता

कार्यक्रम की अगली कड़ी में 20 जनवरी को ग्राम थारी में ग्रामीण जनता के बीच वैज्ञानिक चेतना को बढ़ाने के लिए एक प्रदर्शन कार्यक्रम सुबह 11 बजे से थारी मंदिर के पास किया जाएगा।

तर्कशील सोसायटी, पंजाब से हरचंद्र व राजकुमार ने चमत्कार के नाम पर कई प्रयोग कर सबको सिखाईं वैज्ञानिक तकनीकें

कार्यशाला के आयोजक मंडल में शामिल केसर राणा, संजय रावत, प्रकाश भट्ट, गोपाल गोदियाल, मदन मेहता, जमन राम, मुकेश, सरस्वती,फैज़ान, सुहैल, आजम, निखलेश, प्रियंका, संस्कृति भट्ट, अस्तित्व, इदरीश अहमद ने तर्कशील सोसायटी के तकनीकी प्रयोगों में सहयोग किया। कार्यक्रम का मीडिया सहयोगी जनज्वार है।

Next Story

विविध

Share it