Top
समाज

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने साक्षी-अजितेश की शादी को बताया वैध, दिया सुरक्षा देने का आदेश

Prema Negi
15 July 2019 9:57 AM GMT
इलाहाबाद हाईकोर्ट ने साक्षी-अजितेश की शादी को बताया वैध, दिया सुरक्षा देने का आदेश
x

साक्षी मिश्रा ने अपने पिता और भाजपा विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल पर दलित युवक अजितेश से शादी करने पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाते हुए कोर्ट में लगाई थी सुरक्षा की गुहार...

जेपी सिंह की रिपोर्ट

बरेली से भाजपा विधायक राजेश मिश्रा की बेटी साक्षी और उनके पति अजितेश कुमार अपनी सुरक्षा की मांग को लेकर आज 15 जुलाई की सुबह इलाहाबाद हाईकोर्ट पहुंचे, जहां कुछ काले कोट पहनकर परिसर में पहुंचे कुछ लोगों ने अजितेश से मारपीट की। पहले भी ऐसे मामलों में हाइकोर्ट हो या ज़िला कचहरी काले कोट पहने मोरल पुलिसिंग करके आरोपियों और विजातीय प्रेमियों की सरेआम पिटाई करते हैं।

हालांकि जिले के एसएसपी अतुल शर्मा ने साक्षी—अजितेश के साथ किसी भी तरह की मारपीट की घटना से इनकार किया है। गौरतलब है कि साक्षी मिश्रा ने अपने पिता राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल पर दलित युवक से शादी करने पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाते हुए कोर्ट से सुरक्षा की गुहार लगाई थी।

साक्षी-अजितेश के मामले की सुनवाई जस्टिस सिद्धार्थ वर्मा की कोर्ट में हुई। उच्च न्यायालय ने तमाम कागजातों की जांच करने के बाद दोनों की शादी को वैध ठहराया है। अपनी सुरक्षा की मांग को लेकर अदालत पहुंचे साक्षी और अजितेश की शादी का प्रमाणपत्र कोर्ट ने देखा। इसके साथ ही अदालत ने दोनों की उम्र की जांच के लिए शैक्षिक प्रमाणपत्रों की भी जांच पड़ताल की। सभी कागजातों से संतुष्ट होकर कोर्ट ने शादी को वैध बताया है। कोर्ट ने कहा कि दोनों बालिग हैं इसलिए ये पति-पत्नी की तरह रह सकते हैं।

ससे पहले साक्षी और अजितेश दोनों उत्तर प्रदेश पुलिस की कड़ी सुरक्षा में दिल्ली से प्रयागराज पहुंचे। अजितेश के वकील के अनुसार उच्च न्यायालय के परिसर में कुछ लोगों ने अजितेश के साथ मारपीट की।

जितेश की पिटाई के मामले में पुलिस अधिकारियों को कोर्ट ने तलब किया और सुरक्षा देने को कहा। इसके साथ ही अजितेश को कोर्ट नंबर 2 में बैठाया गया। अजितेश की कोर्ट परिसर में पिटाई मामले को लेकर कोर्ट ने नाराजगी जाहिर की और दंपती को सुरक्षा मुहैया करने का आदेश दिया। मामले का स्वतः संज्ञान लेते हुए कोर्ट ने पुलिस अधिकारियों को तलब किया। अदालत ने कहा कि साक्षी-अजितेश को सुरक्षा दी जाए। सुनवाई पूरी होने के बाद कड़ी सुरक्षा के बीच दोनों सुरक्षित स्थान पर भेजे गए।

संबंधित खबर : दलित युवक से प्रेम विवाह के बाद विधायक राजेश मिश्रा की बेटी ने की सुरक्षा की मांग, कहा बाप-भाई और उनके गुंडों से खतरा

गौरतलब है कि भाजपा विधायक की बेटी से प्रेम विवाह करने के बाद अजितेश और साक्षी द्वारा जारी किए गये वीडियो से दोनों चर्चा में हैं। साक्षी मिश्रा ने वीडियो में कहा था कि उन्हें अपने पिता राजेश कुमार मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल से जान का खतरा है, क्योंकि उसने दलित लड़के से प्रेम विवाह किया है।

सके बाद सोशल मीडिया पर जिस लड़के से साक्षी ने शादी की है, उसे लेकर तरह—तरह की खबरें आ रही हैं। मीडिया को भी जैसे मसाला मिल गया है, वह इस मामले का पोस्टमार्टम करने पर तुली है। इस बीच अजितेश ने अपना सोशल मीडिया डिलीट कर दिया है। उसके दलित होने को लेकर भी तरह—तरह की खबरें आ रही हैं।

Next Story

विविध

Share it