Top
समाज

Lockdown के बीच Punjab में अधिकारियों को कॉल कर मांग रहे लोग लस्सी-नूडल्स

Janjwar Team
30 March 2020 3:33 PM GMT
Lockdown के बीच Punjab  में अधिकारियों को कॉल कर मांग रहे लोग लस्सी-नूडल्स
x

कैबिनेट मिनिस्टर सुखजिंद्र सिंह रंधावा ने बताया कि उनके विधानसभा क्षेत्र से एक कॉल आयी कि घर में नूडल्स खत्म है। बच्चे नूडल्स की मांग कर रहे हैं। कृपया हमें नूडल्स भिजवाया जाये...

जनज्वार ब्यूरो चंडीगढ़। एक ओर तो पूरा पंजाब कोरोना वायरस की वजह से कर्फ्यू का सामना कर रहा है। लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। दूसरी ओर अधिकारियों को लोग इस तरह की कॉल कर इस तरह की चीजों की डिमांड कर रहे हैं जिनका कोई मतलब कम से कम इस वक्त नहीं बनता।

डीसी मोहम्मद इश्फाक ने बताया कि सुबह करीब साढ़े चार बजे एक महिला ने उन्हें कॉल कर बोला कि उनके घर पर दही नहीं है। उनके पति ने ज्यादा शराब पी है। इस वजह से उन्हें हैंगओवर हो गया है। दही भिजवाने की व्यवस्था की जाए। उन्होंने बताया कि इस तरह की कॉल न सिर्फ परेशान करती है, बल्कि रात में ऐसे वक्त आती है जब सब आराम कर रहे होते हैं।

खबर : क्या पानी से भी फैल सकता है कोरोना वायरस, दुनियाभर के वैज्ञानिक बता रहे ये बातें

डीसी ने एक ओर घटना के बारे में बताया कि सुबह करीब साढ़े चार बजे एक व्यक्ति ने उन्हें वीडियो भेजा। इसमें वह रोते हुए कह रहा था कि उसके घर में राशन खत्म है। दुकानदार से उसे राशन नहीं दिया। इस वजह से वह परेशान है।

स पर डीसी ने तुरंत ही एक टीम व्यक्ति के घरपर राशन लेकर भेजी। टीम ने जब उसके घर जाकर देखा तो पाया कि वहां राशन के कई डिब्बे पहले ही रखे हुए थे। इतना ही नहीं उसके घर पर खूब सामान रखा था। टीम ने इसकी जानकारी डीसी को दी।

डीसी ने जब उस व्यक्ति से बात की तो उसने जवाब दिया कि यह राशन तो उसके बेटे की शादी का है। पंडित ने इसे हाथ लगाने से मना किया है।

न्होंने बताया कि इसी तरह के एक कॉलर ने अदरक की मांग कर ली। डीसी ने बताया कि यह मुश्किल वक्त है। इसके बाद भी कुछ लोग समझ नहीं रहे हैं कि उन्हें सहयोग करना चाहिए। इस तरह की कॉल न सिर्फ उन्हें परेशान करती हैं बल्कि तनाव भी बढ़ाती हैं। सिर्फ डीसी ही इस तरह कॉल से परेशान नहीं है।

कैबिनेट मिनिस्टर सुखजिंद्र सिंह रंधावा ने बताया कि उनके विधानसभा क्षेत्र से एक कॉल आयी कि घर में नूडल्स खत्म है। बच्चे नूडल्स की मांग कर रहे हैं। कृपया हमें नूडल्स भिजवाया जाये।

ने बताया कि इस मुश्किल वक्त में इस तरह की चीजों की डिमांड करना सही नहीं है। न तो यह सामान्य दिन है, न ही अधिकारी लोगों की इस तरह की डिमांड पूरी कर सकते हैं।

संबंधित खबर : क्वारेंटाइन में भेजे गये राम मनोहर लोहिया मेडिकल स्टाफ के 14 लोग, 6 डॉक्टर भी शामिल

धिकारियों ने बताया कि हमने अपने नंबर इसलिए जारी किये हैं, जिससे यदि कोई परेशान है। किसी तरह से राशन आदि की दिक्कत आ रही है तो उसे तुरंत पूरा कराया जा सके। लेकिन अब उन्हें इस तरह की कॉल आ रही है, जिससे वह परेशान हो रहे हैं।

न्होंने बताया कि हालांकि पंजाब में कहीं भी राशन की कमी नहीं है। कर्फ्यू के दौरान लोगों को जरुरी सामान की आपूर्ति होती रहे इसका पूरा ध्यान रखा जा रहा है। मंत्री रंधावा ने बताया कि यदि किसी की समस्या वाजिब है तो निश्चित ही उनकी मदद की जाएगी। लेकिन इस तरह की काल न की जाए, जिससे ऐसी चीजों की डिमांड करें जो गैर जरूरी है, इससे उनका और काल करने वाले का समय ही खराब होता है।

Next Story

विविध

Share it