Top
राजनीति

अर्णब गोस्वामी पर हमला सुरक्षाकर्मियों की नाकामी है? अर्नब को सरकारी सुरक्षा लौटा देनी चाहिए

Raghib Asim
23 April 2020 6:00 AM GMT
अर्णब गोस्वामी पर हमला सुरक्षाकर्मियों की नाकामी है? अर्नब को सरकारी सुरक्षा लौटा देनी चाहिए
x

जनज्वार, दिल्ली। विवादित पत्रकार अर्णब गोस्वामी पर दफ्तर से घर जाने के दौरान कथित हमला हुआ. इस दौरान अर्णब की पत्नी भी गाड़ी में थीं. वही अर्णब गोस्वामी ने इस हमले का सीधा आरोप यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर लगाया है. घटना अर्णब गोस्वामी के निवास स्थान गणपतराव कदम मार्ग से थोड़ी दुर हुआ. इसमें वाहन को मामूली नुकसान पहुंचा है. हादसे के बाद वीडियो जारी कर अर्णब ने इसका सीधा आरोप कांग्रेस पर लगाया है.

संबंधित खबर : सोशल मीडिया पर लोगों ने कसा तंज, पत्रकार अर्णब गोस्वामी को जेल नहीं दिमागी इलाज की जरूरत

र्णब ने वीडियो जारी कर कहा ” रात 12:15 मिनिट पर में टोयोटा पत्नी संग कार में सवार होकर लोअर परेल स्थित अपने दफ्तर से घर जा रहा था. दो बाइक सवार लोगों द्वारा मेरे कार को पीछा किया गया. थोड़ी दूर आगे जाने पर ही उनमें से एक युवक ने, मेरे कार के शीशे चोट कर उसे तोड़ने की कोशिश की. वो बार-बार गाड़ी के शीशे पर ऐसा कर रहे थे. इसके बाद मैं थोड़ी देर के लिए नीचे झुक गया. तब जाकर मुझे एहसास हुआ कि मुझपर हमला हो रहा है. हमलावर मेरे ऊपर कुछ द्रव्य पदार्थ भी फेंक रहे थे. इसके बाद मैंने एक्सलेटर पर पांव रखकर गाड़ी की गति तेज की. करीब 50 मीटर आगे जाने के बाद मैंने देखा कि मेरे सुरक्षाकर्मी ने दो हमलावरों को पकड़ रखा है. कुछ ही देर अपने अपार्टमेंट पहुंचकर अपने सुरक्षाकर्मियों से बात की तो उन्होंने कहा कि वे लोग यूथ कांग्रेस कार्यकर्ता थे. जिनको मुझ पर हमला करने को कहा गया था. ऐसा करने को उन्हें आदेश मिल रहे थे.

यह भी पढ़ें- अर्णब गोस्वामी की सोनिया गांधी पर की गई टिप्पणी पर मचा बवाल, गहलोत ने की कार्रवाई की मांग

क्या है पूरा विवाद?

बीते दिनों पालघर में हुए दो साधुओं की मॉब लिंचिंग पर अर्णब गोस्वामी अपने चैनल में चर्चा कर रहे थे. उन्होंने अपने इस कार्यक्रम में कहा कि सोनिया गांधी साधुओं की हत्या पर खुश है. इसी कार्यक्रम में अरब में सोनिया गांधी को लेकर संतो को मरवाने जैसी कई टिप्पणियां भी की. इस कार्यक्रम में उन्होंने यह भी कहा कि पालघर की घटना को 5 दिन हो गए. यह झूठे सेक्युलर गैंग सन्नाटे में है . मोमबत्ती गैंग गायब है. इसी शो के दौरान गोस्वामी ने आगे कहा ” मैं खुलकर कह दूं आज जिस देश के 80% से ज्यादा आबादी हिंदू है ..सनातनी है क्या वहां हिंदू होना और गेरूआ पहनना अपराध हो गया है.”

जिसके तुरंत बाद मामले ने तूल पकड़ा और ट्विटर जैसे सोशल मीडिया अर्नब गोस्वामी के समर्थन और विरोध दोनों में हजारों की संख्या में ट्वीट ट्रेंड करने लगे. सोनिया गांधी पर इस तरीके के बयान के बाद कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं ने इसकी आलोचना की और एडिटर्स गिल्ड से करवाई की मांग की. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट किया और कहा कि सोनिया गांधी पर अर्णब गोस्वामी का हमला निंदनीय है. उन्होंने सारी सीमाएं लाँघ दी है, उन्हें खुद पर शर्म आनी चाहिए. मैं एडिटर गिल्ड से बात करता हूं कि उन्हें तुरंत बर्खास्त किया जाए. इसके अलावा छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल,मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ समेत कई नेताओं ने अर्नब गोस्वामी के इस बयान की निंदा की. झारखंड और उत्तर प्रदेश कई राज्यों में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने अर्णब गोस्वामी पर लिखित शिकायत की.

Next Story

विविध

Share it