राजनीति

भाजपा सांसद ने कहा ममता राज में मुझे जान का खतरा तो भाजपा महासचिव ने पुलिस को बता दिया सुपारी डॉन

Prema Negi
15 May 2020 12:02 PM GMT
भाजपा सांसद ने कहा ममता राज में मुझे जान का खतरा तो भाजपा महासचिव ने पुलिस को बता दिया सुपारी डॉन
x

भाजपा महा​सचिव ने ममता बनर्जी को दी चेतावनी कि अगर हमारे सांसद के साथ कुछ गलत हुआ तो ज्वाइंट सीपी अजय ठाकुर जिम्मेदार होंगे...

जनज्वार। पश्चिम बंगाल में सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस के खिलाफ भाजपा ने मोर्चा खोल रखा है। अब बैरकपुर से भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने ममता बनर्जी सरकार की पुलिस पर हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया है, जिस पर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और पश्चिम बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने पुलिस पर निशाना साधा है।

कैलाश विजयवर्गीय ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर हमारे सांसद के साथ कुछ गलत हुआ तो ज्वाइंट सीपी अजय ठाकुर जिम्मेदार होंगे। कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट कर कहा, "पुलिस है या सुपारी डॉन। पश्चिम बंगाल पुलिस भाजपा के एक सांसद की जान की दुश्मन बनी हुई है। करीब सालभर से कई तरह के हथकंडे अपनाकर बैरकपुर के जॉइंट सीपी अजय ठाकुर उनके पीछे पड़े हैं। यदि हमारे सांसद के साथ कुछ भी अनिष्ट होता है तो इसके जिम्मेदार अजय ठाकुर होंगे!"



?s=20

रअसल सांसद अर्जुन सिंह ने शुक्रवार 15 मई को पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ को लिखे पत्र में ज्वाइंट सीपी अजय ठाकुर से जान को खतरा बताते हुए हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया है।



?s=20

र्जुन सिंह ने इससे पहले अपने एक ट्वीट में कहा था, "जिस दिन मैंने तृणमूल छोड़ने का मन बनाया था, उस दिन से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मुझसे राजनीतिक नहीं, व्यक्तिगत लड़ाई मानकर लड़ रही हैं। माना कि आज दीदी के पास पुलिस है और सरकारी मशीनरी है। मेरे पास भी संविधान है। लोगों का समर्थन और प्रेम है। जय श्री राम।"

यह भी पढ़ें : ममता सरकार के पीछे पड़े बीजेपी IT सेल के हेड अमित मालवीय, कोरोना के बहाने शुरू किया मिशन 2021

भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय अपने एक अन्य ट्वीट में ममता बनर्जी को असफल मुख्यमंत्री ठहराते हुए कह चुके हैं, 'ममता सरकार ने #Covid19 मरीजों की संख्या छुपाने के लिए क्या कुछ नहीं किया। कोरोना मृतकों के शवों को गुप्त रूप से जलाया गया, लॉक डाउन नियमों का खुला उल्लंघन किया गया और केंद्र के साथ असहयोग किया। ममता राज का ये सबसे असफल दौर है।'



?s=20

भाजपा सांसद अर्जुन सिंह और भाजपा के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के तमाम ट्वीटस को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि वो ममता बनर्जी को लगातार एक असफल मुख्यमंत्री सिद्ध करने पर तुले हुए हैं। हालांकि पश्चिम बंगाल में प्रवासियों और मजदूरों की हालात बताते हुए यह भूल जाते हैं कि भाजपा शासित राज्यों में स्थिति इससे कहीं ज्यादा भयावह है।

यह भी पढ़ें : कोरोना मौतों को लेकर फर्जी सूचना फैलाने के आरोप में BJP सांसद के खिलाफ FIR दर्ज, जानिए कहां का है मामला

बैरकपुर के भाजपा सांसद अर्जुन सिंह पहले भी ममता सरकार पर तमाम आरोप लगा चुके हैं। उन्होंने कोरोना से लॉकडाउन के बाद ही कहा था कि उन्हें उत्तर 24 परगना जिले में पुलिस ने राहत सामग्री वितरित करने से रोक दिया और उन पर बिना पूर्व अनुमति के अपने घर से बाहर निकलने और खाद्य पदार्थ वितरित करने का आरोप लगाया था। इससे पहले, अलीपुरद्वार और जलपाईगुड़ी के सांसद, क्रमशः जॉन बारला और संजय रे ने भी ऐसे ही आरोप लगाए थे। इन पर तृणमूल कांगेस ने भाजपा नेताओं के आरोपों को निराधार बताया और कहा कि भाजपा को संकट के इस समय में सस्ती राजनीति से बचना चाहिए।

गौरतलब है कि कैलाश विजयवर्गीय समेत तमाम भाजपा नेता लगातार सोशल मीडिया के जरिए बंगाल सरकार को निशाने पर ले रहे हैं। बीते दिनों कैलाश विजयवर्गीय ने तो सोशल मीडिया पर लाइव आकर ही धरना ने दिया था।2021 में पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव होने हैं, ऐसे में राजनीतिक बयानबाजी तेज हो गई है और कोरोना के नाम पर ममता बनर्जी को लगातार घेरा जा रहा है।

Next Story

विविध

Share it