Top
राजनीति

देश के हर चैलेंज में हारने वाले मोदी को अब दो कौड़ी के चैलेंज का सहारा

Janjwar Team
24 May 2018 3:46 PM GMT
देश के हर चैलेंज में हारने वाले मोदी को अब दो कौड़ी के चैलेंज का सहारा
x

न खाऊंगा न खाने दूंगा के नारे से शुरू हुए हमारे प्रधानसेवक रोजगार, महंगाई, स्वास्थ्य, स्त्री सुरक्षा, नागरिक अधिकार, राष्ट्रीय सुरक्षा, आतंकवाद, दंगा-फसाद, सामाजिक समरसता जैसे तमाम राष्ट्रीय चैलेंज में जब पूरी तौर पर फेल हो गए तो वह अब मनोरंजन कराने वाले चैलेंज लेने लगे हैं, मानो उनको देश ने प्रधानमंत्री नहीं स्टंटमैन और विदूषक चुना हो...

जनज्वार, दिल्ली। इंतजार कीजिए अब जल्दी ही हमारे प्रधानमंत्री महोदय का पुशअप्स वाला वीडियो नजर आएगा। क्योंकि पीएम से जनता के सवाल हल करने वाले चैलेंज तो स्वीकार हो नहीं पाए, न ही इतनी जल्दी वे जनता की परेशानी वाले ट्वीटों का जवाब देते हैं, जितनी जल्दी सिनेमा और खेल जगत के खिलाड़ियों वाले चैलेंज का जवाब दिया है। वो भी इतनी जल्दी कि अभी उस पर किसी हीरो—हीरोइन या खिलाड़ी की प्रतिक्रिया आनी बाकी ही थी।

गौरतलब है कि #HumFitTohIndiaFit हैशटैग नाम से केंद्रीय मंत्री और ओलिंपिक सिल्वर मेडलिस्ट राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने टि्वटर पर एक फिटनेस चैलेंज के साथ शुरू की है। उन्होंने विराट कोहली, रितिक रोशन और सायना नेहवाल को इसके लिए चैलेंज किया था। जवाब में विराट कोहली ने चैलेंज स्वीकार करते हुए पुश अप्स वाला वीडियो अपलोड किया।

इसके साथ ही विराट ने ट्वीट किया था, 'मैं राठौर सर का दिया फिटनेस चैलेंज स्वीकार करता हूं. अब मैं ये चैलेंज अपनी पत्नी अनुष्का शर्मा, हमारे पीएम नरेंद्र मोदी और धोनी भाई को देता हूं।' इनमें से सबसे पहले पीएम मोदी का ट्वीट आया और उन्होंने विराट का चैलेंज स्वीकार करते हुए लिखा, 'मैं चैलेंज स्वीकार करता हूं विराट, मैं अपना फिटनेस चैलेंज वीडियो जल्द अपलोड करूंगा।' इसके साथ ही मोदी ने #HumFitTohIndiaFit हैशटैग भी इस्तेमाल किया।

#HumFitTohIndiaFit में खिलाड़ियों और फिल्मी हस्तियों का शामिल होना तो समझ में आता है, मगर पीएम मोदी का चैलेंज स्वीकार करना क्या है, इसे लेकर तमाम तरह की टिप्पणियां हो रही है। राजनीतिक विश्लेषक भी कहने लगे हैं कि जब तमाम राष्ट्रीय चैलेंजों जो कि आम जनता से जुड़े थे, में प्रधानमंत्री महोदय फेल हो गए तो अब ये मनोरंजन करने वाले चैलेंज लेने लगे हैं।

#फिटनेसचैलेंज पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमत्री मोदी को ट्वीट किया, 'ये देखकर अच्छा लगा कि आपने @imVkohli का फिटनेस चैलेंज कबूल किया। एक हमारा भी चैलेंज है फ्यूल के दाम कम करें या कांग्रेस देशव्यापी प्रदर्शन करेगी और आप ऐसा करने पर मजबूर होंगे, मुझे आपके जवाब का इंतजार है।'

देखादेखी मोदी कैबिनेट के अन्य मंत्री भी इस फिटनैस मनोरंजन कैंपेन में बढ़—चढ़कर हिस्सेदारी करने लगे हैं। किरण रिजिजू ने तो ड्रग्स इस्तेमाल न करने की सलाह दी है तो हर्षवर्धन ने अपने वॉक वाला वीडियो ही अपलोड कर दिया है, मानो कि इसमें हर कोई प्रथम आना चाहता है।

इस चैलेंज को स्वीकार करने पर लालू यादव के बेटे और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया, 'हम विराट कोहली के चैलेंज को स्वीकार करने के खिलाफ नहीं हैं। मैं आपको चैलेंज देता हूं कि आप युवाओं को रोजगार, किसानों को राहत के साथ-साथ दलितों और अलपसंख्यंकों के खिलाफ हिंसा ना हो इसका वादा करें। क्या आप मेरे इस चैलेंज को स्वीकार करेंगे नरेंद्र मोदी सर?'

तेजस्वी ने अगला ट्वीट किया है, 'BJP शासित राज्यों में लोग भूख से मर रहे है लेकिन साहब को खाए,पिए,अघाए संपन्न लोगों के पेट व फ़िटनेस की चिंता है। ग़रीब किसान-मज़दूर पूरे दिन धूप में खटता है, कड़ा परिश्रम करता है उन्हें फ़िटनेस की चिंता होगी या पेट भरने की? बताईए?? पहले भूखें को रोटी व बेरोज़गार को नौकरी दो?'

Next Story

विविध

Share it