Top
राजनीति

ताजमहल आते जाते समय बदबू से परेशान ना हों ट्रंप, योगी सरकार ने चेन्नई से मंगाया केमिकल

Vikash Rana
22 Feb 2020 10:47 AM GMT
ताजमहल आते जाते समय बदबू से परेशान ना हों ट्रंप, योगी सरकार ने चेन्नई से मंगाया केमिकल
x

ताजगंज के सीवर को लेकर यमुना में गिर रहे पूर्वी गेट नाले की दुर्गंध से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ परेशान हुए तो पूरी मुशीनरी बदबू रोकने में जुट गई। नगर निगम ने चेन्नई से 25 लीटर के चार कैन केमिकल ईको क्लीन मंगवाया है...

जनज्वार। अमेरिकन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 24 फरवरी से भारत के बहुप्रतीक्षित दौरे पर आने वाले हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आगरा दौरे को देखते हुए जबरदस्त सुरक्षा इंतजाम किया जा रहा है। हालांकि, राष्ट्रपति ट्रंप और उनके परिवार की सुरक्षा का जिम्मा अमेरिकी सीक्रेट सर्विस के पास होगी। लेकिन बाहरी सुरक्षा की जिम्मेदारी एनएसजी और यूपी पुलिस के हवाले है। इसके अलावा आगरा में ट्रंप

गरा नगर निगम ने चेन्नई से फ्लाइट के जरिए दो तरह के 100 लीटर केमिकल मंगवाए और शुक्रवार दोपहर में ही ट्रीटमेंट शुरू कर दिया। बैक्टीरिया आधारित ट्रीटमेंट के जरिए नाले की बदबू 72 घंटे के अंदर खत्म होने का दावा किया जा रहा है।

संबंधित खबर: ट्रंप का भारत दौरा: अमेरिकी राष्ट्रपति की सुरक्षा में तैनात होंगे ‘लंगूर’, जानें क्या है मामला

ताजगंज के सीवर को लेकर यमुना में गिर रहे पूर्वी गेट नाले की दुर्गंध से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ परेशान हुए तो पूरी मशईनरी बदबू रोकने में जुट गई। नगर निगम ने चेन्नई से 25 लीटर के चार कैन केमिक ईको क्लीन मंगवाया है। केमिकल को मगांने लिए करीब 2 लाख 79 हजार रुपए की लागत आएगी। चेन्नई से विमान के जरिए इन्हें आगरा मंगवाया गया है। केमिकल को लान पर ही 6750 रुपए का खर्च होगा।

ये केमिकल बैक्टीरिया आधारित है। जो नाले का ट्रीटमेंट कर दुर्गेंध को खत्म कर देगी। नीम से बनी ये री-एजेंट कचरे को खत्म करने में उपयोग किया जा रहा है।नाले में मौजूद कचरे को नष्ट करने के साथ इससे ताजगंज पूर्वी गेट क्षेत्र के मक्खी और मच्छर भी दूर रहेंगे। निगम के अधिकारियों ने शुक्रवार की दोपहर को ट्रीटमेंट शुरु कर दिया है। 78 घंटे बाद सोमवार दोपहर तक नाले की बदबू दूर हो जाएगी।

न पर 2.79 लाख रुपये की लागत आई है। चेन्नई से विमान के जरिए इन्हें आगरा मंगवाया गया। केमिकल को लाने पर ही 6750 रुपये खर्च हुए। ये केमिकल बैक्टीरिया आधारित है जो नाले का ट्रीटमेंट कर दुर्गंध को खत्म कर देंगे। नीम से निर्मित री-एजेंट कचरे को खत्म करने में उपयोग किया जा रहा है।

संबंधित खबर: भारत दौरे से पहले ट्रंप ने ट्रेड डील से किया इनकार, लेकिन नहीं रुकेगा हथियारों का सौदा

हीं नाले की सफई को लेकर नगर आयुक्त अरुण प्रकाश ने बताया कि पूर्वी गेट नाले की तलीझाड़ सफाई के साथ इसका बैक्टीरियल ट्रीटमेंट भी किया जा रहा है। दो दिन में बैक्टीरिया के जरिए नाले की दुर्गंध दूर हो जाएगी। स्थायी समाधान के जरिए फाइटो रेमेडिएशन की योजना बनाई गई है।

ससे पहले भी ट्रंप के दौरे से पहले अहमदाबाद नगर निगम की ओर से मोटेरा स्टेडियम के करीब डेढ़ किलोमीटर नजदीक झुग्गी-झोपड़पट्टियों में रहने वाले 45 परिवारों को नोटिस थमा दिया गया था। और उन्हें जगह को खाली करने का आदेश दिया गया है।निर्माण कार्य में लगे झुग्गी में रहने वाले करीब 200 परिवारों का कहना है कि उन्हें यहां से जाने के लिए कहा गया है।

टना पर परिवारों का कहना था कि वे दो दशक से यहां रह रहे हैँ और ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम की वजह से उन्हें यहां से हटाया जा रहा है। हालांकि अहमदाबाद नगर निगम के अधिकारियों ने इस पर सफाई देते हुए कहा है कि नोटिस का ट्रंप के कार्यक्रम से किसी भी तरह का कोई संबंध नहीं है।

Next Story
Share it