राष्ट्रीय

अहमदाबाद में 'फर्जी वेंटिलेटर' से हुई 300 से ज्यादा लोगों की मौत, कांग्रेस ने CM विजय रूपाणी पर लगाया आरोप

Nirmal kant
20 May 2020 1:14 PM GMT
अहमदाबाद में फर्जी वेंटिलेटर से हुई 300 से ज्यादा लोगों की मौत, कांग्रेस ने CM विजय रूपाणी पर लगाया आरोप
x

गुजरात कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अमित चावड़ा ने कहा कि रूपाणी सरकार ने बिना मेडिकल ट्रायल के वेंटिलेटर का शुभारंभ किया और इसके बारे में किसी से भी सलाह नहीं ली। यह सब सीएम विजय रूपाणी के देखरेख में हुआ...

जनज्वार ब्यूरो। गुजरात की राजधानी अहमदाबद में फर्जी वेटिंलेटर लगाने की खबरों के बाद विपक्षी कांग्रेस ने सरकार पर कई आरोप लगाए हैं। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि गुजरात सरकार के फर्जी वेंटिलेटर से अहमदाबाद मे 300 से अधिक लोगों की मौत हुई। इसमें सीएम विजय रूपाणी की भूमिका अहम है।

संबंधित खबर : वकील को पीटने के बाद मध्यप्रदेश पुलिस ने माफी मांगते हुए कहा-हमने दाढ़ी देखकर सोचा आप मुस्लिम हो

गुजरात कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अमित चावड़ा ने एक प्रेस कांग्रेस में कहा कि रूपाणी सरकार ने बिना मेडिकल ट्रायल के वेंटिलेटर का शुभारंभ कर दिया और इसके बारे में किसी से भी सलाह नहीं ली। चावड़ा ने आगे कहा कि यह सब सीएम विजय रूपाणी के देखरेख में हुआ। उन्होंने अपने निजी मित्रों को फायदा पहुंचाने के लिए इसका उपयोग किया। उन्होंने कहा कि यह अमानवीय कृत्य है।



चावड़ा ने आगे कहा कि अहमदाबाद के जिस अस्पताल में इसका उपयोग किया गया, वहां 300 से अधिक लोगों की जान चली गयी, डॉक्टरों ने कहा कि वेंटिलेटर के कारण यह हुआ। हम चाहते हैं कि इसकी उच्चस्तरीय जांच हो। बता दें कि गुजरात में अहदमाबाद सबसे अधिक कोरोना प्रभावित है जहां अबतक 56 मौतें हो चुकी हैं।

हमदाबाद मिरर की रिपोर्ट के अनुसार, गुजरात के सरकारी अस्पतालों में जो फर्जी वेंटिलेटर लगाए गए हैं, उनके पास ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया का अनिवार्य लाइसेंस नहीं है। इसके अलावा उपकरणों का ट्रायल केवल एक रोगी पर किया गया था और उसके लिए नैतिक समिति जिसकी निगरानी जरुरी होता है, लेकिन इन्हें मेडिकल उपकरण नियमावली, 2017 के अनुसार नहीं बनाया गया था।

संबंधित खबर : गुजरात से यूपी-बिहार के प्रवासी मजदूरों को सरकारी वादे के बाद नहीं मिली ट्रेन तो फूटा गुस्सा, रोड जाम कर की तोड़फोड़

रिपोर्ट के मुताबिक, 4 अप्रैल को गुजरात के सीएम विजय रूपाणी ने अंबु बैग को गुजरात बेस्ड वेंटिलेटर बताकर उद्घाटन कर सिविल अस्पताल में लगवाया। यह दमन-1 नामक अंबु बैग वेंटिलेटर की तरह काम नहीं कर रही है, जिसके राज्य में राजनीतिक आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया।

हमदाबाद में कोरोना वायरस के 262 नये मामले सामने आने के बाद मामलों की संख्या 8,945 हुई, महामारी से 21 लोगों की मौत होने के बाद मृतकों की संख्या 576 हुई। बता दें कि गुजरात का लगभग 70 फीसदी केस अहमदाबाद में ही है।

Next Story
Share it