Top
शिक्षा

मिर्जापुर में मिड-डे मील की खौलती सब्‍जी में गिरी 3 साल की मासूम, बच्ची को निकालने के बजाय भाग गयीं रसोइया तो झुलसने से हो गयी मौत

Prema Negi
4 Feb 2020 6:33 AM GMT
मिर्जापुर में मिड-डे मील की खौलती सब्‍जी में गिरी 3 साल की मासूम, बच्ची को निकालने के बजाय भाग गयीं रसोइया तो झुलसने से हो गयी मौत
x

3 साल की आंचल मिड डे मील के लिए बन रही खौलती सब्जी के भगौने में गिर गयी, मगर बजाय उसे भगौने से निकालने के इयरफोन लगाकर गाना सुन रहीं सभी रसोइयां वहां से भाग गयीं

मिर्जापुर से पवन जायसवाल की रिपोर्ट

जनज्वार। सोमवार 3 फरवरी की दोपहर को जब प्राथमिक विद्यालय के बच्चों के लिए मिड-डे-मील पकने के बाद परोसने की तैयारी चल रही थी, तभी तीन साल की आंचल नामक बच्ची इसमें गिरकर बुरी तरह झुलस गई।

ड़िहान थाना क्षेत्र के रामपुर अतरी गांव में मिड डे मिल के बनाई गई सब्जी के भगौने में 3 साल की बच्ची गिर गयी। भगौने की सब्जी बहुत गर्म थी, जिससे बच्ची गंभीर रूप से झुलस गयी और उसकी अस्पताल में 3 फरवरी को ही उपचार के दौरान मौत हो गयी। बच्ची का इलाज कर रहे डॉक्टरों ने कहा कि वह 80 फीसदी से भी ज्यादा झुलस चुकी थी, जिससे उसका बच पाना मुश्किल था। अगर उसे तुरंत सब्जी से बाहर निकाल दिया जाता तो शायद वह बच जाती।

संबंधित खबर : सोनभद्र के सरकारी स्कूल में पानी मिलाकर 81 छात्रों में बांटा 1 लीटर दूध, आरोपी शिक्षक हुए निलंबित

गौरतलब है कि तीन वर्षीय आंचल पढ़ने की जिद करके अपने भाइयों के साथ स्कूल में जाकर बैठना सीख रही थी। कल 3 फरवरी की दोपहर हादसा उस वक्त हुआ जब रसोइया कान में इयर फोन लगाकर गाना सुनने में लगी थी। खेलते वक्त बच्ची के गिर जाने के बाद उसे निकालने के बजाय रसोई में तैनात सभी महिलायें भाग गयीं। इस मामले में जिलाधिकारी ने प्रधानाध्यापक को निलंबित करने के साथ ही मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है।

संबंधित खबर : जनज्वार EXCLUSIVE – यूपी के सोनभद्र में सरकारी स्कूल का रखा गया जातिसूचक नाम, भीम आर्मी ने दी चेतावनी

जानकारी के मुताबिक यह घटना उस वक्त घटी जब रामपुर अतरी विद्यालय में बच्चों के लिए मिड डे मील बनाया जा रहा था। इस दौरान वहां तैनात रसोईया ईयर फोन लगाकर गाना सुनने में लगी थी। इसी दौरान पढने की जिद्द करके अपने भाइयों के साथ गांव की ही 3 वर्षीय आंचल नामक बालिका भी आती थी। कुछ माह से वह स्कूल आ रही थी। इसी दौरान जब वह बच्चों के साथ खेल रही थी तो सब्जी के भगौने में गिर गयी। रसोई में तैनात महिलायें तो उसे छोड़कर भाग गयीं, मगर वहां के अन्य लोगों ने बच्ची को निकालकर मंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहा कुछ घंटे इलाज के बाद उसकी मौत हो गयी।

संबंधित खबर : जनज्वार एक्सक्लूसिव – मिड डे मील योजना का खुलासा करने वाले पत्रकार पवन जायसवाल की जान को खतरा

मिड डे मील में गिरने से मरने वाली बच्ची के पिता भागीरथ ने इसके लिए स्कूल प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया है। वो कहते हैं, मेरी बच्ची स्कूल वालों की गलती से मरी है।

हीं इस मामले में खंड शिक्षा अधिकारी राममिलन यादव ने कहा कि इस मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। गौरतलब है कि पिछलेसाल मिर्जापुर का ही एक प्राइमरी स्‍कूल मिड-डे मील में बच्‍चों को नमक रोटी बांटने के कारण चर्चा में आया था और उसे मीडिया में लाने का खामियाजा इसी रिपोर्ट के रिपोर्टर को भुगतना पड़ा था।

यह भी पढ़ें : मिड डे मील में नमक के साथ रोटी का खुलासा करने वाले पत्रकार पवन जायसवाल पर दर्ज मुकदमे वापस, पीसीआई ने पुलिस को फटकारा

बेसिक शिक्षा अधिकारी वीरेंद्र कुमार सिंह हादसे की जानकारी मिलते ही मंडलीय अस्पताल में पहुँचें, जहां उन्होंने जांच के बाद विधिक कार्यवाही करने को कहा। वहीं इस मामले में मिर्जापुर के जिलाधिकारी वीरेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि हादसे की गम्भीरता को देखते हुए प्रधानाध्यापक को निलम्बित करने का आदेश दिया गया है। प्राथमिकी दर्ज कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

संबंधित खबर : मिड डे मील में नमक-रोटी परोसने की खबर ब्रेक करने वाले पत्रकार पर दर्ज हुई एफआईआर

गौरतलब है कि मिर्जापुर जिले के रामपुर अतरी गांव के प्राथमिक विद्यालय व पूर्व माध्यमिक विद्यालय में तकरीबन 100 बच्चे पढ़ते हैं। यहां एक साथ सहायक अध्यापक नवनीत कुमार वर्मा, अनुदेशक अर्जुन के अलावा चार शिक्षामित्र नियुक्त है। इन बच्चों के लिए 6 रसोइया रखी हुई हैं, जो बच्ची को भगौने में गिरा देखने के बाद भी उसे निकालने के बजाय वहां से भाग गयीं।

Next Story

विविध

Share it