Top
राजनीति

'बेटी' बलात्कार के आरोपी गोपाल कांडा अब 'बेटी बचाओ' वाली भाजपा में बनेंगे मंत्री?

Prema Negi
25 Oct 2019 1:58 AM GMT
बेटी बलात्कार के आरोपी गोपाल कांडा अब बेटी बचाओ वाली भाजपा में बनेंगे मंत्री?
x

रात को एक बजे भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा से दिल्ली में हुई गोपाल कांडा की मुलाकात, गोपाल कांडा ने दिया भाजपा को हरियाणा में सरकार बनाने का बिना शर्त समथर्न, गोपाल कांडा बने भाजपा को सबसे पहले समर्थन देने वाले विधायक

जनज्वार, दिल्ली। हरियाणा विधानसभा परिणामों के बाद 40 विधायकों के साथ पूर्ण बहुमत से दूर खड़ी भाजपा के लिए जबसे गोपाल कांडा बिना शर्त समर्थन देने प्राइवेट जेट से एक अन्य विधायक के साथ भाजपा के दिल्ली दफ्तर की ओर उड़े हैं, तबसे मीडिया से लेकर सोशल मीडिया पर यही सवाल घूम रहा है कि क्या बेटी बचाओ का नारा देने वाली भाजपा एक बेटी — ​गीतिका शर्मा के बलात्कार के आरोपी और अदालत द्वारा दो आत्महत्याओं के लिए सजायाफ्ता हो चुके गोपाल कांडा सरीखों के बूते हरियाणा की सत्ता पर काबिज होगी?

गोपाल कांडा को हरियाणा से लिफ्ट कराने वाली सिरसा बीजेपी सांसद सुनीता दुग्गल ने पार्टी को इत्तला कर दिया है कि कांडा सहित दूसरी पार्टियों के भी कुछ नेता बिना शर्त बीजेपी को समर्थन देने के लिए तैयार हैं, और वह सबको मैनेज कर रही हैं।

गोपाल कांडा बिना शर्त भाजपा को समर्थन देने प्राइवेट जेट से एक अन्य विधायक के साथ भाजपा के दिल्ली दफ्तर की ओर उड़े

वृहस्पतिवार 24 अक्टूबर को हरियाणा-महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव परिणामों के आने के बाद भाजपा में उस समय बेचैनी बढ़ गयी जब 90 विधानसभा सीटों के हरियाणा में पार्टी 40 के आंकड़े के पास आकर सीमट गई। बहुमत के आंकड़े के लिए न्यूनतम 46 सीटें चाहिए तब कहीं जाकर भाजपा दुबारा सत्ता को दोहरा पाएगी। हरियाणा विधानसभा के इतिहास में कांग्रेस को छोड़ कोई दूसरी पार्टी अबतक दो बार लगातार सत्ता में नहीं आ सकी है।

र लगता है भाजपा अबकी नया इतिहास रचेगी और उसके तारणहार होंगे, स्वतंत्र प्रत्याशी के रूप में सिरसा से विधायक बने गोपाल कांडा। प्राकृतिक-अप्राकृतिक तरीके एयरहोस्टेस ​गीतिका शर्मा के बलात्कार के आरोपी गोपाल कांडा, गीतिका और उसकी मां की आत्महत्या के लिए सजायाफ्ता हैं। गोपाल कांडा मार्च 2014 से जमानत पर रिहा हैं।

यह भी पढ़ें - हरियाणा लाइव : बीजेपी के 7 मंत्री और अध्यक्ष हारे, सत्ता की चाबी दुष्यंत चौटाला की जेब में

गौरतलब है कि एयरहोस्टेस की नौकरी कर रहीं 23 साल की गीतिका शर्मा ने अगस्त 2012 में दिल्ली के अशोक विहार में अपने आवास पर आत्महत्या कर ली थी। गीतिका ने सुसाइड नोट में लिखा कि वह तीन साल से गोपाल कांडा के प्राकृतिक और अप्राकृतिक बलात्कारों से तंग होकर आत्महत्या कर रही है।

नोट में गीतिका ने बताया कि हरियाणा के तत्कालीन गृहमंत्री गोपाल कांडा से छुटकारा पाने के लिए उसने दुबई में एक दूसरी नौकरी कर ली थी, लेकिन कांडा ने अपने रसूख का इस्तेमाल कर उसे नौकरी से निकलवाकर फिर अपने पास काम करने को मजबूर किया। तब गोपाल कांडा कांग्रेस की भूपेंद्र सिंह हुड्डा सरकार में गृहमंत्री थे। गीतिका के पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गीतिका के साथ अप्राकृतिक बलात्कार की पुष्टी हुई थी। वारदात के छह महीने बाद फरवरी 2013 में गीतिका की मां ने भी घर में उसी पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली, जहां गीतिका ने अपने जीवन का अंत किया था।

गीतिका को न्याय दिलाने और गोपाल कांडा की गिरफ्तारी के लिए प्रदर्शन (file photo)

ब इतने चरित्रवान गोपाल कांडा चाल-चरित्र-चिंतन की भाजपा के नए तारणहार बनेंगे। सवाल ये है कि पार्टी फिर बेटी किससे बचाएगी?

स समय भाजपा महिला मोर्चा की तत्कालीन प्रमुख रहीं केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी ने गोपाल कांडा के खिलाफ हरियाणा प्रदेश की महिला मोर्चा के साथ मिलकर राज्यभर में आंदोलन व अभियान चलाया था। स्मृति इरानी ने रेखांकित करते हुए कार्यकर्ताओं से कहा था कि कांडा की पोल ग्रामीण और शहरी महिलाओं में जरूर खोलनी है, क्योंकि वह संत तारा बाबा की ​ख्याति का फायदा उठाकर राजनीतिक रसूख दोबारा हासिल करना चाहता है।

कांडा की इस समय भाजपा चहेती बनी है और वह भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिल आता है और आश्वस्त भी कर आता है कि हम आपको बिना शर्त समर्थन देंगे। हो सकता है इस बीच भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष, कार्यकर्ता और महिला सांसद सो रही हों, क्योंकि समर्थन तो रात एक बजे देने पहुंचे थे कांडा!

Next Story

विविध

Share it