Top
शिक्षा

पूरे स्कूल के खिलाफ 'देशद्रोह' का मामला दर्ज : गणतंत्र दिवस पर CAA-NRC के खिलाफ किया था नाटक का मंचन

Nirmal kant
29 Jan 2020 7:30 AM GMT
पूरे स्कूल के खिलाफ

कर्नाटक के बीदर जिले की शाहीन स्कूल के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज, शिकायतकर्ता का आरोप- नाटक के दौरान नाटक में पीएम मोदी का किया गया अपमान...

जनज्वार। कर्नाटक में एक स्कूल के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया है। दरअसल देश जब 71वां गणतंत्र दिवस मना रहा था तभी कर्नाटक के बीदर जिले के शाहीन स्कूल में भी गणतंत्र दिवस को मनाया जा रहा था। इस दौरान छात्रों ने सीएए-एनआरसी के खिलाफ नाटक का मंचन किया। इस दौरान छात्रों ने कम रोशनी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फोटो को रखा। इसके खिलाफ बीदर के नीलेश रक्षित्याल नाम के एक शख्स ने मामला दर्ज करवाया है।

शिकायतकर्ता का आरोप है कि बीदर के शाहीन स्कूल में 26 जनवरी को सीएए, एनआरसी के खिलाफ किये गए नाटक में छात्रों ने कहा था कि अगर किसी ने भी दस्तावेज मांगे तो उन्हें चप्पलों से मारना चाहिए।

संबंधित खबर : देशद्रोह का आरोप झेल रहे जेएनयू के छात्र शरजील इमाम जहानाबाद से गिरफ्तार

नीलेश रक्षित्याल ने आरोप लगाया है कि शाहीन स्कूल में 26 जनवरी को सीएए, एनआरसी के खिलाफ नाटक किया गया था जिसमें छात्रों ने प्रधानमंत्री मोदी को गाली दी थी। उन्होंने ये भी आरोप लगाया कि स्कूल प्रशासन ने सीएए, एनआरसी के विरोध के लिए छात्रों का इस्तेमाल किया। छात्रों द्वारा किए गए नाटक में नागरिकता संशोधन अधिनियम और नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर को पेश करने के लिए मोदी को गाली दी गई थी।

स्कूल प्रबंधन पर भारतीय दंड संहिता की धारा 124 (ए) और 153 (ए) के तहत 'विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने' का भी आरोप लगाया गया है। पुलिस ने बताया कि 26 जनवरी को सामाजिक कार्यकर्ता नीलेश रक्षित्याल की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया था।

शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया कि स्कूल के लोगों ने सीएए, एनआरसी के खिलाफ छात्रों को 26 जनवरी को एक नाटक करने के लिए इस्तेमाल किया, जिसमें उन्होंने नागरिकता संशोधन अधिनियम और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर को पेश करने के लिए मोदी की फोटो का 'दुरुपयोग' किया गया।

न्होंने ये भी आरोप लगाया है कि स्कूल प्रबंधन ने मुसलमानों के बीच डर पैदा करने की कोशिश की कि अगर सीएए और एनआरसी लागू किया जाता है तो उन्हें देश छोड़ना पड़ेगा। एक स्थानीय निवासी ने अपने फेसबुक पेज पर समारोह का एक वीडियो अपलोड किया।

संबंधित खबर : गांधी की प्रतिमा तोड़ने वालों के खिलाफ़ लखनऊ में धरना आयोजित, देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की रखी मांग

बीदर जिले के एसपी ने रिपोर्टों की पुष्टि की और कहा कि वे छात्रों से पूछताछ कर रहे हैं। इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार पुलिस ने बताया कि अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है।

जनता पार्टी की स्टुडेंट विंग अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने इस नाटक को अपमानजनक बताते हुए विरोध किया था।

Next Story

विविध

Share it