Top
दिल्ली

कोरोना के बीच आया सर्वे, न्यूज चैनलों और अखबारों पर देशवासियों का भरोसा घटा

Nirmal kant
4 May 2020 2:30 AM GMT
कोरोना के बीच आया सर्वे, न्यूज चैनलों और अखबारों पर देशवासियों का भरोसा घटा
x

साल 2018 में 44 प्रतिशत लोगों को टेलीविजन पर खूब यकीन था, जो अब गिरकर 42.3 प्रतिशत तक हो गया है। टीवी चैनलों के प्रति लोगों का विश्वास राष्ट्रीय स्तर पर घटकर 35.9 प्रतिशत से 32.2 प्रतिशत हो गया...

जनज्वार ब्यूरो, नई दिल्ली। आईएएनएस-सीवोटर सर्वेक्षण ने रविवार को इस बात का खुलासा किया कि भारत में टेलीविजन न्यूज चैनलों, अखबारों व सोशल मीडिया के प्रति लोगों के विश्वास में उल्लेखनीय रूप से कमी आई है। देश भर में किए गए इस सर्वेक्षण के नतीजों के मुताबिक, साल 2018 की तुलना में इन तीनों माध्यमों में दिखाए जाने वाले समाचारों के प्रति लोगों के भरोसे में भारी गिरावट देखने को मिली है।

साल 2018 में 44 प्रतिशत लोगों को टेलीविजन पर खूब यकीन था, जो अब गिरकर 42.3 प्रतिशत तक हो गया है। टीवी चैनलों के प्रति लोगों का विश्वास राष्ट्रीय स्तर पर घटकर 35.9 प्रतिशत से 32.2 प्रतिशत हो गया।

संबंधित खबर : दिल्ली के इस इलाके में एक ही बिल्डिंग में 41 लोग पाए गए कोरोना पॉजिटिव, स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप

ठीक इसी तरह दो साल पहले 41.8 भारतीयों को अखबारों पर यकीन था, लेकिन अब 34.5 प्रतिशत पाठक ही ऐसे हैं, जिन्हें इन पर भरोसा है। यानी कि विश्वास की दर में 5.5 फीसदी की कमी आई है। इस बीच महज 12.5 प्रतिशत लोग ही ऐसे हैं, जो ट्विटर और फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर साझा की जाने वाली जानकारियों पर यकीन रखते हैं।

के विश्वास के आधार पर किए गए इस सर्वेक्षण में पर्वितन सभी भौगोलिक सीमाओं, आय व शिक्षा के विभिन्न स्तरों व समस्त जाति, धर्म व समुदायों में देखा गया। सर्वेक्षण के मुताबिक, केवल देश के पश्चिमी भाग, ग्रामीण, पुरुषों व वरिष्ठ नागरिकों को इन माध्यमों में दिखाए जाने वाले समाचारों पर भरोसा है।

संबंधित खबर : दिल्ली के इस इलाके में एक ही बिल्डिंग में 41 लोग पाए गए कोरोना पॉजिटिव, स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप

दूसरी ओर, 25 वर्ष से कम उम्र की आबादी, उच्च शिक्षित, मध्यम आय वर्ग और अर्ध-शहरी क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को इन माध्यमों में पेश किए जाने वाले सामाचारों व जानकारियों पर यकीन नहीं है।

Next Story

विविध

Share it