समाज

पति के एनकाउंटर की धमकी देकर पुलिसवालों ने 5 महीने तक किया महिला का बलात्कार

Prema Negi
12 July 2019 4:33 AM GMT
पति के एनकाउंटर की धमकी देकर पुलिसवालों ने 5 महीने तक किया महिला का बलात्कार
x

जैसा 'आर्टिकल 15' फिल्म में होता दिखता है, हू-ब-हू ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के एटा में सामने आया है, जिसमें दो पुलिस वाले एक महिला का 5 महीने तक बलात्कार करते रहे, यह सिलसिला तब तक चलता रहा जब तक पीड़ित महिला गर्भवती होने के बाद अपनी शिकायत लेकर पुलिस के बड़े अधिकारियों के पास नहीं पहुंची...

जनज्वार। पुलिस की जिम्मेदारी आमजन की रक्षा करने की होती है, मगर जब रक्षक ही भक्षक बन जाये तो क्या कहा जाये। आये दिन पुलिसवालों का भ्रष्टाचार और इंसानियत को शर्मसार करने वाली करतूतें उजागर होती रहती हैं। ऐसी ही एक घटना अब योगीराज में उत्तर प्रदेश के एटा जनपद में सामने आयी है। यहां दो पुलिसकर्मी पति को फर्जी एनकाउंटर में मारने की धमकी देकर एक महिला का 5 महीने तक बलात्कार करते रहे। इस पुलिसिया ज्यादती का खुलासा शायद हो पाता, अगर महिला गर्भवती न हो गयी होती।

जानकारी के मुताबिक उत्तर प्रदेश पुलिस के दो दारोगा एक महिला को यह धमकी देकर कि तुम्हारे पति को फर्जी एनकाउंटर में खल्लास कर देंगे, 5 महीने तक रेप करते रहे। घटना का खुलासा तब हुआ जब पीड़ित महिला 2 महीने की गर्भवती हो गयी। महिला की शिकायत के मुताबिक पति को फर्जी एनकाउंटर में मारने की धमकी देकर दो पुलिसवाले 5 महीने तक उसका बलात्कार करते रहे, जिसके बाद वह गर्भवती हो गई। महिला का कहना है कि उसके पेट में जो गर्भ है, वह दारोगाओं के बलात्कार की निशानी है। इतना ही नहीं बलात्कारी दारोगाओं ने उसके गैंगरेप का वीडियो भी बनाया था, जिसे वायरल करने की धमकी भी वो महिला को देते थे।

यह भी पढ़ें : यूपी पुलिस ने गोकशी के आरोप में सतवीर को जहीर बताकर भेज दिया जेल

पीड़ित महिला ने पुलिस वालों की इस घिनौनी और इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना की शिकायत एटा एसएसपी कार्यालय में जाकर की। महिला की शिकायत के बाद मामले की गंभीरता को देखते हुए एटा के प्रभारी एसएसपी संजय कुमार ने दोनों आरोपी दारोगाओं के खिलाफ अवागढ़ थाने में एफआईआर दर्ज करा दी है और तत्काल कार्रवाई करते हुए उन्हें निलंबित भी कर दिया गया है।

पीड़ित महिला का कहना है कि यह सिलसिला तब शुरू हुआ जब उसके पति के खिलाफ अवागढ़ क्षेत्र के एक व्यक्ति ने एएसपी संजय कुमार को शिकायती पत्र दिया था। शिकायती पत्र में लिखा था कि उसके पति के खिलाफ कोर्ट से वारंट जारी किया गया था। कोर्ट का वारंट लेकर अवागढ़ में पोस्टेड दारोगा योगेश कुमार तिवारी उनके घर आये। तब वह घर पर अकेली थी तो दारोगा उसका नंबर अपने साथ लेकर चला गया। महिला का कहना है कि मुझे देखते ही दारोगा की नीयत खराब हो गयी थी।

यह भी पढ़ें : थाने गए दलित युवक की हिरासत में मौत, परिजनों ने कहा पुलिस ने की हत्या

हिला का नंबर मिलने के बाद दारोगा योगेश कुमार तिवारी उसके पति को फर्जी एनकाउंटर में मारने की धमकी देकर अपने साथी दारोगा के साथ लगातार अपने कमरे पर बुलाकर उसका गैंगरेप करता रहा। इसी दौरान बलात्कार करने वाले दारोगा योगेश कुमार तिवारी के और उसके दूसरे आरोपी साथी प्रेमपाल गौतम ने महिला के रेप की वीडियो क्लिप भी बना ली।

वीडियो क्लिप बनाने के बाद दोनों दारोगा पति को फेक एनकाउंटर में मारने और वीडियो वायरल करने के नाम पर महिला का लगातार 5 म​हीने तक गैंगरेप करते रहे।

Next Story

विविध

Share it