Top
राजनीति

ताजमहल पर योगी का यू टर्न, कहा भारत माता के सपूतों के खून पसीने से बना

Janjwar Team
18 Oct 2017 7:57 AM GMT
ताजमहल पर योगी का यू टर्न, कहा भारत माता के सपूतों के खून पसीने से बना

26 अक्तूबर को योगी खुद देखने जाएंगे ताजमहल, संगीत सोम को किया नोटिस जारी

कुशीनगर, उत्तर प्रदेश। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कल मंगलवार 17 अक्तूबर को ताजमहल विवाद मामले में यू टर्न लेते हुए बिल्कुल अचंभित कर देने वाला बयान दिया है। उन्होंने कहा कि ताजमहल भारत माता के सपूतों के खून और पसीने से बना है। इस बहस का कोई मतलब नहीं कि उसने उसे क्यों और किस कारण से बनाया है।

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक कार्यक्रम में बोलते हुए उन्होंने यह भी कहा कि ताजमहल हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है, खासकर पर्यटन की दृष्टि से। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ताज के लिए 370 करोड़ का एक स्पेशल पैकेज घोषित करते हुए बीजेपी एमएलए संगीत सोम को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया है।

मुजफ्फरनगर दंगे के आरोपी विधायक संगीत सोम ने ताजमहल को गद्दारों का बनवाया हुआ बताकर भारत के लिए एक कलंक बताया था। उनके इस बयान के बाद पूरे देश में भाजपा के प्रति तीखी प्रतिक्रिया हुई। दो दिन से ट्विटर ट्रेंड करता रहा जिसके कारण योगी आदित्यनाथ को यू टर्न लेना पड़ा। क्योंकि इससे पहले खुद योगी आदित्यनाथ एक कार्यक्रम में ताजमहल को महत्वहीन भारतीय धरोहर बता चुके थे।

ताजमहल के मामले में बैकफुट पर आई सरकार के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने कुशीनगर के कार्यक्रम में विशेष तौर पर ताजमहल का उल्लेख करते हुए बताया कि बौद्ध सर्किट और आध्यात्मिक सर्किट के साथ ताजमहल के लिए अलग प्रोजेक्ट बनाया गया है।

उन्होंने टूरिस्ट बुकलेट में ताजमहल को जगह नहीं दी जाने को लेकर भी सफाई दी। कहा कि चूंकि बौद्ध सर्किट और आध्यात्मिक सर्किट के साथ ताजमहल के लिए अलग प्रोजेक्ट बनाया गया है। ताजमहल, फतेहपुर सीकरी और रिवर फ्रंट के संरक्षण के लिए 370 करोड़ का स्पेशल पैकेज सरकार ने तैयार किया है। उसे संस्तुति के लिए विश्व बैंक के पास भेज दिया गया है।

Next Story

विविध

Share it