Top
उत्तर प्रदेश

यूपी के 40 जिलों में नहीं हो रहा लॉकडाउन का पालन, योगी सरकार ने सख्ती बरतने को कहा

Janjwar Team
19 April 2020 11:43 AM GMT
यूपी के 40 जिलों में नहीं हो रहा लॉकडाउन का पालन, योगी सरकार ने सख्ती बरतने को कहा
x

सरकार ने कहा गया है कि कई जनपदों में लॉकडाउन की स्थिति संतोषजनक नहीं पाई गई है. ऐसे जनपदों में लॉक डाउन का और कठोरता से पालन कराने प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित करवाई जाए...

मनीष दुबे की रिपोर्ट

लखनऊ, जनज्वारः

उत्‍तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दी है, विपरीत इसके कोरोना पर अभी लगाम लगती नहीं दिख रही है। यूपी के मुख्य गृह सचिव अवनीश कुमार अवस्थी के मुताबिक, प्रदेश में अब तक कई जिले कोरोना मुक्त हो चुके हैं। जिसमे पीलीभीत, महराजगंज, हाथरस, बरेली और प्रयागराज शामिल हैं, तो वहीं अब शाहजहांपुर भी कोरोना मुक्त होने की कगार पर बताया जा रहा है।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में शनिवार तक कोविड-19 के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 974 हो चुकी है, जिसने मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ और राज्य प्रशासन को पशोपेश में डाल रखा है। इसके चलते उत्तर प्रदेश के अपर मुख्‍य सचिव अवनीश अवस्‍थी ने एक पत्र जारी किया है, जिमसें प्रदेश के कई जिलों में लॉकडाउन की स्थिति असंतोषजनक बताई गई है। साथ ही यह भी कहा गया है कि इन जिलों में लॉकडाउन का पालन कठोरता व गंभीरता से नहीं हो रहा है।

यह भी पढ़ें- दिल्ली में देश के 12 फीसदी कोरोना मामले, लॉकडाउन में 20 अप्रैल से कोई छूट नहीं: केजरीवाल

अवनीश अवस्थी ने कहा कोरोना वायरस दिनोदिन अपने पैर पसार रहा है क्योंकि लॉकडाउन का पालन कठोरता के साथ नहीं हो पा रहा है। तो दूसरी तरफ सरकार के चेहरे पर परेशानी की लकीरें दिखाई दे रही हैं। यूपी के मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी द्वारा जारी पत्र में कहा गया है कि लॉकडाउन का पालन कठोरता से कराने हेतु जिला प्रशासन प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित करे।

हालांकि सरकार द्वारा जारी पत्र में साफ कहा गया है कि असंतोषजनक जिलों में पुलिस प्रशासन में सुधार की जरूरत है, जबकि कई जिलों को लेकर सरकार ने साफ तौर पर लिखा है कि यहां पुलिस में आपसी तालमेल की कमी है। इस दौरान जहां जहां पुलिस या फिर मेडिकल टीम पर हमला हुआ है वहां असंतोषजनक हालात करार दिए गये हैं। इसके साथ ही पत्र में कई जगह जामतियों और अन्‍य लोगों द्वारा हंगामे की भी बात कही लिखी गई है।

यह भी पढ़ें- यूपी के कानपुर में फसल काटने गए किसान के घर लगी आग, 3 बच्चों की जलकर मौत

उत्तर प्रदेश सरकार ने जिन जिलों को लॉकडाउन का पालन करवा पाने में असंतोषजनक बताया है, उनमें मेरठ, बागपत, हापुड़, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, बुलंदशहर, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, शामली, आगरा, मथुरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी, बरेली, बदायूं, मुरादाबाद, बिजनौर, रामपुर, अमरोहा, संभल, लखनऊ, खीरी, रायबरेली, सीतापुर, बाराबंकी, सुल्‍तानपुर, कानपुर नगर, कानपुर देहात, कन्‍नौज, जालौन, प्रयागराज, प्रतापगढ़, वाराणसी, गाजीपुर,आजमगढ़, कुशीनगर, बस्‍ती, गोंडा, बहराइच तथा बलरामपुर शामिल हैं।

यह भी पढ़ें- मेरठ के प्राइवेट अस्पताल ने अखबार में छपवाया मुस्लिमों का इलाज न करने वाला ​विज्ञापन, फिर मांगी माफी

उत्‍तर प्रदेश सरकार के गृह सचिव द्वारा जारी पत्र में सूबे के 75 जिलों के 40 जिलों में लॉकडाउन के पालन की स्थिति असंतोषजनक है तो 35 जिलों को लेकर योगी सरकार राहत की सांस ले रही है। इन जिलों में अलीगढ़, एटा, हाथरस, कासगंज, पीलीभीत, शाहजहांपुर, हरदोई, उन्‍नाव, अयोध्‍या, अम्‍बेडकरनगर, अमेठी, इटावा, फतेहगढ़, औरैया, झांसी, ललितपुर, फतेहपुर, कौशाम्‍बी, चित्रकूट, महोबा, हमीरपुर, बांदा, चंदौली, जौनपुर, सोनभद्र, मिर्जापुर, संतरविदासनगर, मऊ, बलिया, गोरखपुर, देवरिया, श्रावस्ती, महाराजगंज, सिद्धार्थनगर और संतकबीरनगर शामिल हैं.

Next Story

विविध

Share it