Top
राजनीति

अनुराग ठाकुर के खड़े होते ही "गोली मंत्री GO BACK" के नारे लगे लोकसभा में

Vikash Rana
3 Feb 2020 6:45 AM GMT
अनुराग ठाकुर के खड़े होते ही गोली मंत्री GO BACK के नारे लगे लोकसभा में
x

विपक्षी सांसदों ने नारे लगाते हुए कहा कि- गोली मारना बंद करो, देश को तोड़ना बंद करो। पिछले एक हफ्ते के दौरान शाहीनबाग और आसपास गोलीबारी की तीन घटनांए हुई है...

जनज्वार। सोमवार को लोकसभा में कार्रवाई शुरू होने से पहले ही विपक्ष द्वारा CAA और NRC को लेकर हंगामा शुरू हो गया है। लोकसभा शुरू होेते ही विपक्षी सांसदों ने दिल्ली के जमिया और शाहीनबाग में हुई गोलीबारी के विरोध में नारा लगाना शुरू कर दिया। विपक्षी सांसदों ने नारे लगाते हुए कहा कि- गोली मारना बंद करो, देश को तोड़ना बंद करो। पिछले एक हफ्ते के दौरान शाहीनबाग और आसपास गोलीबारी की तीन घटनांए हुई है।

सी बीच लोकसभा में जैसे ही अनुराग ठाकुर ने बोलना शुरू किया विपक्षी दलों के सांसदों ने हंगामा शुरू कर दिया। सांसदों ने नारे लगाते हुए गोली मंत्री गो बैक के नारा लगाना शुरू कर दिया।

संबंधित खबर: भाजपा के स्टार प्रचारकों की बस एक ही तमन्ना, किसी तरह सांप्रदायिक बन जाए दिल्ली चुनाव

दिल्ली में एक चुनावी रैली के दौरान मंच से केंद्रीय मंत्री ने देश के गद्दारों को गोली मारने के नारे लगवाए। अनुराग ठाकुर ने रैली को संबोधित करते हुए नारा लगाया, “देश के गद्दारों को, गोली मारो सालों को” अनुराग ठाकुर ने कहा कि गद्दारों को भगाने के लिए नारे भी चाहिए।

न्होंने दिल्ली विधानसभा चुनाव को भारत की अस्मिता को बचाने का चुनाव बताते हुए कहा कि मुस्लिम देश के लिए खतरा हैं। मंच पर मौजूद एक और अन्य केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने तो यहां तक बोल दिया कि कमल का बटन दबाने पर ही ये गद्दार मरेंगे। इसी बीच राज्यसभा की कार्यवाही को स्थगित कर दिया गया है।

संबंधित खबर: क्या अनुराग ठाकुर के गोली मारने के बयान से उत्साहित था यह दंगाई युवक ?

वहीं कांग्रेस समेत अन्य विपक्ष सदन में स्थगन प्रस्ताव देने की मांग है। विपक्ष की मांग है कि CAA और NRC को लेकर सदन में बहस की जाए। विपक्ष ने संसद द्वारा पारित CAA कानून को असंवैधानिक करार दिया है। जिस पर विपक्ष द्वारा इस कानून को उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी गई है। जिस पर इसी महीने सुनवाई भी की जानी है। विपक्षी दलों ने सीएए का विरोध करने वाले राज्यों के मुख्यमंत्रियों से एनपीआर नहीं कराने का भी आग्रह किया है।

ससे पहले भी जामिया और शाहीनबाग में हुए हमले पर भाजपा सांसद अर्जुन सिंह कहते हैं, मुस्लिम लोगों को विपक्ष के लोगों ने आंदोलन का नाम देकर शाहीन बाग में बिठाया है। ऐसे में जो घटना जामिया में घटी उसका CAA से कोई मतलब नहीं है। हमारे कम उम्र के बच्चे भम्रित होकर के गोली चला रहे हैं।

[yotuwp type="videos" id="ocCzMA2gyQc" ]

हीं कांग्रेस के नेता एआर चौधरी का कहना है कि रात में कल 2 फरवरी की रात को जामिया विश्वविद्यालय में जो घटना हुई है, वो दिखाती है कि सरकार आंदोलनकारियों से डर गई है। सरकार के गुंडे आंदोलनकारियों पर हमला कर रहे हैं और सरकार चुप बैठी हुई है। दिल्ली की सुरक्षा गृह मंत्री के हाथों में है, लेकिन सरकार की तरफ से कुछ नहीं किया जा रहा।

जिसके बाद चुनाव आयोग ने विवादित बयान देने वाले भाजपा नेता अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा पर कार्रवाई करते हुए भारतीय जनता पार्टी को इन दोनों नेताओं को पार्टी के स्टार प्रचारकों की लिस्ट से हटाया जाने का निर्देश दिया था।

Next Story

विविध

Share it