Top
उत्तराखंड

उत्तराखंड: ऑनलाइन पढ़ाई से नहीं जुड़ पा रहे सुदूरवर्ती ग्रामीण इलाकों के 60,000 छात्र

Nirmal kant
12 May 2020 11:01 AM GMT
उत्तराखंड: ऑनलाइन पढ़ाई से नहीं जुड़ पा रहे सुदूरवर्ती ग्रामीण इलाकों के 60,000 छात्र
x

उत्तराखंड के डिग्री कॉलेजों 1.32 लाख छात्रों में से 60,000 को ऑनलाइन पढ़ाई के लिए करना पड़ रहा कई किलोमीटर तक का सफर, कोरोना संकट के चलते छुट्टी में ग्रामीण इलाकों में रह रहे अधिकांश छात्र....

जनज्वार ब्यूरो। कोरोना वायरस की महामारी के चलते अब सभी छात्र ऑनलाइन पढ़ाई के लिए मजबूर हैं। उत्तराखंड के डिग्री कॉलेजों में भी लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन पढ़ाई को बढ़ावा दिया जा रहा है। छात्रों पर पढ़ाई के साथ असाइनमेंट जमा करने का दबाव है। लेकिन सुदूर इलाकों में मोबाइल नेटवर्क न होने से बड़ी संख्या में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

संबंधित खबर : सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज ने ‘आरोग्य सेतु’ पर उठाए सवाल, पूछा अगर डेटा लीक हुआ तो जिम्मेदार कौन होगा?

स्थानीय मीडिया की रिपोर्ट्स के मुताबिक, छात्रों को ऑनलाइन पढ़ाई और असाइनमेंट जमा करने के लिए 26 किलोमीटर तक पैदल चलना पड़ रहा है। इस समय उत्तराखंड में 105 डिग्री कॉलेज हैं जिनमें लगभग 1.32 लाख विद्यार्थी पढ़ते हैं। लॉकडाउन होने की वजह से छात्रों को पढ़ाई का ज्यादा नुकसान न हो इसके लिए शिक्षकों के द्वारा ऑनलाइन पढ़ाई करवाई जा रही है।

इसकी समीक्षा भी कर रहा है। छात्रों पर भी ऑनलाइन पढ़ाई के साथ असाइनमेंट जमा करने का दबाव है। मगर हकीकत सुदूर क्षेत्रों में ऑनलाइन पढ़ाई सिरे नहीं चढ़ पा रही है।

बरों के मुताबिक, हालात ये है कि 1.32 लाख छात्रों में करीब आधे यानी 60 हजार छात्र ऑनलाइन पढ़ाई से नहीं जुड़ पा रहे हैं। छुट्टी के चलते अधिकांश छात्र ग्रामीण क्षेत्रों में हैं, जहां से असाइनमेंट जमा करने कई किलोमीटर की दौड़ लगानी पड़ रही है।

संबंधित खबर : स्कूल की फीस के खिलाफ पेरेंट्स ने चलाया अभियान, ‘स्कूल नहीं तो फीस नहीं’

स खबर को लेकर ट्वीटर यूजर अनुपम सवाल उठाते हुए लिखते हैं, 'कभी सोचा था आपने कि ऐसा भी ज़माना आएगा जब इंडिया इतना आगे बढ़ जाएगा कि कॉलेजों की पढ़ाई भी ऑनलाइन हो पाएगी और भारत इतना पीछे रह जायेगा कि उस ऑनलाइन पढ़ाई के लिए भी 26 किलोमीटर पैदल चलेगा? दोस्तों ये #DigitalIndia है या #DigitalDivide?!'

Next Story
Share it