राजनीति

BJP-RSS Meeting : पांच राज्यों के चुनाव से पहले बीजेपी और संघ कर रहे रणनीतिक मंथन, आज से शुरू हो रही अहम बैठक

Janjwar Desk
19 Oct 2021 4:03 AM GMT
BJP-RSS Meeting : पांच राज्यों के चुनाव से पहले बीजेपी और संघ कर रहे रणनीतिक मंथन, आज से शुरू हो रही अहम बैठक
x

(बीजेपी और आरएसएस की अहम बैठक होने जा रही है)

BJP-RSS :उत्तरप्रदेश, पंजाब आदि कई राज्यों में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक दलों ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं, खासकर उत्तरप्रदेश में सभी दलों के बीच अभी से घमासान होने लगा है..

BJP-RSS :उत्तरप्रदेश, पंजाब (Punjab) आदि कई राज्यों में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक दलों ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। खासकर उत्तरप्रदेश (Uttarpradesh) में सभी दलों के बीच अभी से घमासान होने लगा है।

इस क्रम में भारतीय जनता पार्टी (BJP) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) की दो दिवसीय समन्वय बैठक आज मंगलवार, 19 अक्टूबर 2021 से दिल्ली में शुरू होने जा रही है। कहा जा रहा है कि इस बैठक में चुनावी रणनीति संबंधी मुद्दों पर अहम विचार विमर्श किया जाएगा।

न्यूज़ एजेंसी पीटीआई ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि इस बैठक में बीजेपी के महासचिव (संगठन) बीएल संतोष व अन्य पादाधिकारियों के साथ-साथ केंद्रीय मंत्रियों के भी शामिल होने की संभावना है। इसके अलावा आरएसएस से जुड़े शिक्षा, संस्कृति जैसे विभिन्न संगठन बंद दरवाजे के भीतर होने वाली इस बैठक में शामिल हो सकते हैं।

सूत्रों ने बताया कि बैठक में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के शीर्ष पदाधिकारियों के भी शामिल होने की संभावना है। विचारों को साझा करने और सरकारी नीतियों पर प्रतिक्रिया देने के लिए आरएसएस-भाजपा और उसकी सरकार के प्रतिनिधियों के बीच इस तरह की बैठकें होती रहती हैं।

बता दें कि प्रमुख चुनावी राज्य उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनावों (Uttarpradesh Assembly Election) को लेकर सियासी हलचल बढ़ी हुई है। सत्ताधारी दल बीजेपी सहित प्रमुख विपक्षी दल समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस सभी के द्वारा चुनावी तैयारी शुरू की जा चुकी है।

राजनीतिक दलों द्वारा जनता की नब्ज टटोलने की कोशिश हो रही है तो एक-दूसरे के साथ गठबंधन को लेकर भी संभावनाएं टटोली जा रही हैं। प्री-पोल गठबंधन को लेकर राजनीतिक दल अपनी तरफ से बयान दे रहे हैं और उस बयान को लेकर दूसरे दल की हो रही प्रतिक्रिया पर नजर बनाए हुए हैं।

भारतीय जनता पार्टी ने 2017 के विधानसभा चुनाव और 2019 के लोकसभा चुनाव में विभिन्न जाति आधारित छोटे दलों के साथ गठबंधन कर बड़ी कामयाबी हासिल की थी। राजनीतिक विश्लेषकों का अनुसार पार्टी उसी तरीके को अपना कर फिर से वही सफलता दोहराना चाहती है।

चर्चाओं के अनुसार भारतीय समाज पार्टी, फूलन सेना, जयहिंद समाज पार्टी जैसे छोटे दल बीजेपी के साथ आ सकते हैं। फूलन सेना निषादों की पार्टी है, जबकि जयहिंद समाज पार्टी बिंदों की है। इन तीनों जातियों का यूपी में अच्छा खासा जनाधार है। इसके अलावा बाबू सिंह कुशवाहा की पार्टी जनअधिकार मंच भी बीजेपी गठबंधन का हिस्सा बन सकती है। हालांकि बाबू को लेकर बीजेपी का रुख अभी साफ नहीं है।

Next Story