Top
राजनीति

कपिल सिब्बल ने सचिन पायलट को दी नसीहत, 'आप जनता के सामने पार्टी का तमाशा नहीं बना सकते'

Janjwar Desk
24 July 2020 3:38 PM GMT
कपिल सिब्बल ने सचिन पायलट को दी नसीहत, आप जनता के सामने पार्टी का तमाशा नहीं बना सकते
x
कपिल सिब्बल ने कहा कि आपके (सचिन पायलट) इन कृत्यों से पार्टी में घमासान मचा हुआ है, आप ऐसे जनता के सामने पार्टी का तमाशा नहीं बना सकते हैं, मुझे पूरा विश्वास है कि आपकी ऐसी कोई मंशा नहीं है.....

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ बगावत करने वाले पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट पर निशाना साधा। सिब्बल ने कहा कि आप सिर्फ 20-25 विधायकों के समर्थनक के साथ एक राज्य के मुख्यमंत्री नहीं हो सकते। सिब्बल ने यह बात राजस्थान हाईकोर्ट की ओर से शुक्रवार को राहत मिलने के बात कही। सिब्बल ने यह भी कहां कि आप जनता के सामने पार्टी का तमानशा नहीं बना सकते।

पूर्व केंद्रीय मंत्री सिब्बल ने आगे कहा, 'मैं सचिन से पूछना चाहता हूं, क्या आप मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं? हमें बताएं? विरोध क्यों? अगर आप कहते हैं कि आप बीजेपी में शामिल नहीं हो रहे हैं, तो आप हरियाणा में क्यों बैठे हैं? आप कांग्रेस की बैठकों में क्यों नहीं आए? क्या तुम अपनी अलग पार्टी बनाना चाहते हो? जो भी हो, लेकिन तुम्हे सामने आकर अपनी बात रखनी चाहिए, होटल के अंदर मत बैठे रहो।'

वरिष्ठ वकील सिब्बल सुप्रीम कोर्ट में सचिन पायलट के खिलाफ राजस्थान के स्पीकर की तरफ से पक्ष रख रहे हैं। उन्होंने कहा, 'आपके इन कृत्यों से पार्टी में घमासान मचा हुआ है, आप ऐसे जनता के सामने पार्टी का तमाशा नहीं बना सकते हैं, मुझे पूरा विश्वास है कि आपकी ऐसी कोई मंशा नहीं है।'

बता दें कि पिछले दो सप्ताह में, पायलट ने 18 अन्य विधायकों के समर्थन के साथ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ बगावत का बिगुल फूंक दिया है, जोकि बीजेपी शासित हरियाणा में कहीं रुके हुए हैं। कांग्रेस के पास विपक्ष पर मामूली बढ़त है और राजस्थान के 200 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत के लिए आवश्यक 101 विधायकों में से दो विधायक अधिक है। टीम पायलट में 19 विधायक हैं और बीजेपी के पास 72 विधायक हैं। छोटे दलों और निर्दलीय सदस्यों को शामिल करते हुए, विपक्ष के पास इस समय 97 हैं।

कांग्रेस ने शुक्रवार को कहा कि वह राजस्थान उच्च न्यायालय के फैसले के बाद सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएगी, जिसमें कहा गया है कि सचिन पायलट और पार्टी के अन्य बागी नेताओं के खिलाफ अब कोई कार्रवाई नहीं की जा सकती।

Next Story

विविध

Share it