राजनीति

PM मोदी ऐसे दर्जनों नफरती चिंटुओं के फॉलोवर जो करते हैं अभद्र ट्वीट, एक ने ठहराया था गौरी लंकेश की हत्या को जायज

Janjwar Desk
24 Sep 2020 11:41 AM GMT
PM मोदी ऐसे दर्जनों नफरती चिंटुओं के फॉलोवर जो करते हैं अभद्र ट्वीट, एक ने ठहराया था गौरी लंकेश की हत्या को जायज
x
इन लोगों के अकाउंट की पड़ताल में सामने आया था कि इनमें से अधिकांश अपने परिचय में राष्ट्रवादी या हिंदुत्व समर्थक होने का दावा करते हैं....

जनज्वार। पीएम मोदी उस गुंजा कपूर को भी फॉलो करते हैं, जो CAA विरोधी आंदोलन के दौरान चर्चा में आयी थी। गौरतलब है कि गुंजा कपूर शाहीनबाग प्रदर्शन में 5 फरवरी बुर्का पहनकर गयी थीं और बुर्के में वह यहां वीडियो बना रही थीं। उन्हें जब बुर्के में वीडियो बनवाते हुए महिलाओं ने देखा तो हंगामा किया और उन्हें वहां से बाहर निकालने के लिए हल्ला मचा दिया। बाद में किसी तरह पुलिस ने गुंजा कपूर को बाहर निकाला और उनसे पूछताछ की गयी कि आखिर ऐसी क्या मजबूरी थी कि वह बुर्का पहन वहां गयीं और वीडियो फिल्मा रहीं थीं। कहा गया कि वह वहां सीएए आंदोलनकारियों के बीच बवाल मचाने के इरादे से पहुंची थीं।

पीएम मोदी बबीता फोगाट को भी फॉलो करते हैं, जोकि जब भी जुबान खोलती हैं सिवाय गंदगी के कुछ नहीं निकलता। जाहिल जमाती ट्वीट के कारण भी वह खूब ट्रोल हुयी थीं। अपने बयानबाजी के कारण वह ट्वीटर पर ट्रोल होती रहती हैं। हां, ये अलग बात है कि सोशल मीडिया पर रायता फैलाने के लिए उन्हें पदवियों से नवाजा जा चुका है।

यह भी पढ़ें : कौन है गुंजा कपूर जो शाहीनबाग में बुर्का पहन बना रही थी वीडियो, जिसे फॉलो करते हैं पीएम मोदी

पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के बाद निखिल दधीज नाम के एक व्यक्ति ने हत्या को सही ठहराते हुए आपत्तिजनक ट्वीट किया था। इस व्यक्ति को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ट्वीटर पर फॉलो करते हैं। उसके बाद इस बात पर बहस शुरू हो गई थी कि प्रधानमंत्री को क्यों ऐसी अभद्र भाषा में ट्वीट करने वाले लोगों को फॉलो करना चाहिए।

दैनिक भास्कर द्वारा 3 साल पहले नरेंद्र मोदी वैरिफाड ट्वीटर हैंडल से फॉलो किए जाने वाली 1779 (15 सिंतबर 2017 तक की संख्या, अब यह संख्या 2353 है) लोगों के प्रोफाइल के सारे ट्वीट खंगाले, जिन्होंने कुछ खास लोगों के लिए अभद्र भाषा का उपयोग किया था। इनमें से उन लोगों को अलग से छांटा गया जो नियमित तौर पर अभद्र और गालियों वाले ट्वीट धड़ल्ले से करते हैं।

दिल्ली के आइटी विशेषज्ञ अजयेंद्र उर्मिल त्रिपाठी के सहयोग से एक सॉफ्टवेयर की मदद से 20 अभद्र शब्दों के फिल्टर लगाकर ऐसे लोगों की न सिर्फ पहचान की गई, बल्कि उन्होंने किस समय कौन-सा अभद्र ट्वीट किया इसका पूरा ब्योरा भी हासिल किया गया। पड़ताल में पता चला कि प्रधानमंत्री जिन लोगों को फॉलों करते हैं, उनमें से 36 ने पांच या इससे अधिक बार आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग किया है। इन सभी ट्वीटर अकाउंट को ट्वीटर की तरफ से अनवैरीफाइड किया गया था।

इन लोगों के अकाउंट की पड़ताल में सामने आया कि इनमें से अधिकांश अपने परिचय में राष्ट्रवादी या हिंदुत्व समर्थक होने का दावा करते हैं और इनमें से कई डंके की चोट पर ऐलान करते हैं कि प्रधानमंत्री उन्हें फॉलो करते है।

इनमें से कई ने मोदी को फोटो अपने कवर पर लगा रखी है। इन लोगों की कारगुजारियों पर नजर डालें तो एक व्यक्ति मिलेंगे ईशान। उन्होंने प्रोफाइल पिक्चर में नाचते हुए माइकल जैक्सन जैसा कैरिकेचर डाला था। तब उनके 5 हजार से ज्यादा फॉलोवर्स थे। ये अलग-अलग समय पर करण जौहर, वेंकैया नायडू, योगेंद्र यादव, पृथ्वी राज चव्हाण के बारे में आपत्तिजनक ट्वीट कर चुके हैं।

एक अन्य व्यक्ति का ट्वीटर नाम है आशीष मिश्रा पुणे। ट्वीटर पर इनके 17812 फॉलोअर थे। यह अपने आप को आईआईटी बॉम्बे से शिक्षा प्राप्त राजनीतिक रणनीतिकार बताते हैं। ऐसे ही अन्य व्यक्ति हैं अभिषेक राज पांडेय। इन्होंने अपनी कवर फोटो में वह स्क्रीनशॉट लगा रखा है।

जिसमें लिखा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आपको फॉलो करते हैं। इनके फॉलोअर्स की फेहरिस्त में रेल मंत्री पीयूष गोयल का नाम भी शामिल है। इनके राष्ट्रवाद का नजला सबसे ज्यादा गीतकार जावेद अख्तर पर तरता दिखता है। 9 जनवरी 2015 के एक ट्वीट में वे जावेद अख्तर को पाकिस्तानी तो कहते ही हैं, साथ ही उनके माता-पिता को निशाना बनाते हुए उनके खिलाफ अभद्र शब्दों का इस्तेमाल भी करते हैं। ऐसे ही करीब सभी 36 अकाउंट्स की लोकप्रियता भी है।

Next Story

विविध

Share it