राजनीति

कौन है गुंजा कपूर जो शाहीनबाग में बुर्का पहन बना रही थी वीडियो, जिसे फॉलो करते हैं पीएम मोदी

Prema Negi
5 Feb 2020 11:19 AM GMT
कौन है गुंजा कपूर जो शाहीनबाग में बुर्का पहन बना रही थी वीडियो, जिसे फॉलो करते हैं पीएम मोदी
x

फेसबुक और ट्विटर पर एक्टिव रहने वाली गुंजा ने पीएम के द्वारा फॉलो करने के ट्वीट को अपने ट्वीटर पर पिन टू टॉप किया हुआ है। यही नहीं उनके यू ट्यूट चैनल पर लगे कई वीडियो में शाहीन बाग में चल रहे प्रदर्शन का विरोध किया गया है…

जनज्वार। दिल्ली के शाहीनबाग में पिछले लंबे समय से CAA-NRC के खिलाफ आंदोलन चल रहा है जिसमें बड़ी संख्या में महिलायें भागीदारी कर रही हैं। राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय मीडिया में भी शाहीनबाग अपने आंदोलन के चलते छाया हुआ है, वहीं लगातार 3 बार गोलीकांड होने के चलते भी शाहीनबाग चर्चा में है।

यह भी पढ़ें : जामिया गोलीकांड के बाद CAA के खिलाफ रणनीति में बदलाव करेंगे शाहीनबाग के आंदोलनकारी?

ब एक बार फिर शाहीनबाग चर्चा में है गुंजा कपूर को लेकर। आरोप है कि गुंजा कपूर यहां पर बुर्का पहनकर गयी थीं और बुर्के में वह यहां वीडियो बना रही थीं। उन्हें जब बुर्के में वीडियो बनवाते हुए महिलाओं ने देखा तो हंगामा किया और उन्हें वहां से बाहर निकालने के लिए हल्ला मचा दिया। बाद में किसी तरह पुलिस ने गुंजा कपूर को बाहर निकाला और उनसे पूछताछ की जा रही है कि आखिर ऐसी क्या मजबूरी थी कि वह बुर्का पहन वहां गयीं और वीडियो फिल्मा रहीं थीं।

संबंधित खबर : क्या अनुराग ठाकुर के गोली मारने के बयान से उत्साहित था यह दंगाई युवक ?

ज 5 फरवरी की दोपहर को शाहीनबाग में उस समय माहौल गर्मा गया था और अफरा-तफरी मच गयी जब लोगों को पता चला कि गुंजा कपूर प्रदर्शनकारियों के बीच बुर्का पहनकर मौजूद हैं और उनका वीडियो बना रही है। इस बात को जानने के बाद प्रदर्शनकारी गुस्से में आ गए और उन्होंने गुंजा के साथ धक्का-मुक्की शुरू कर दी।

पुलिस का कहना है कि जैसे ही हमें गुंजा कपूर के बारे में पता चला हमने वहां से उन्हें तुरंत बाहर निकाला और उनसे पूछताछ कर रहे हैं।

गौरतलब है कि शाहीनबाग में लगभग डेढ़ महीने से ज्यादा समय से CAA-NRC के खिलाफ व्यापक पैमाने पर धरना प्रदर्शन हो रहा है। हालांकि अब दिल्ली चुनाव करीब हैं तो शाहीन बाग को लेकर जमकर राजनीति भी हो रही है। भाजपा दिल्ली विधानसभा चुनावों के बीच आक्रामक रुख अपनाते हुए आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर शाहीन बाग के लोगों का समर्थन करने और उनका सहयोग करने का आरोप लगाती आ रही है। तमाम भाजपा नेता शाहीनबाग को लेकर गलतबयानियां कर रहे हैं।

संबंधित खबर : जामिया मिल्लिया के छात्र को हिंदूवादी युवक ने मारी गोली, पुलिस ने किया गिरफ्तार

मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक, गुंजा कपूर बुर्का पहनकर शाहीन बाग पहुंची थीं और वीडियो रिकॉर्ड करते हुए अपना नाम बरखा बता रही थीं, जो कि उनका असली नाम नहीं है। प्रदर्शनकारियों को महिला पर तब शक हुआ, जब उन्होंने वहां बैठी महिलाओं से कई सवाल करने शुरू कर दिये। महिलाओं ने देखा कि गुंजा के हाथ में मौजूद मोबाइल कैमरा चालू था, और वह महिलाओं से तरह—तरह के सवाल कर रही हैं। इसके बाद महिलाओं ने गुंजा को पकड़ लिया और उनके साथ धक्कामुक्की करते हुए उन्हें पुलिस के हवाले कर दिया।

यह भी पढ़ें : डीएम की मौजूदगी में CAA-NRC के खिलाफ प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज

कौन है गुंजा कपूर

बुर्के में शाहीनबाग पहुंची गुंजा कपूर यूट्यूबर हैं, जिन्हें हमारे प्रधानमंत्री भी फॉलो करते हैं। यूट्यूब के राइट-नैरेटिव वेब चैनल में गुंजा कपूर वीडियो बनाती है। फेसबुक और ट्विटर पर एक्टिव रहने वाले गुंजा ने पीएम के द्वारा फॉलो करने के ट्वीट को अपने ट्वीटर पर पिन टू टॉप किया हुआ है। यही नहीं उनके यू ट्यूट चैनल पर लगे कई वीडियो में शाहीन बाग में चल रहे प्रदर्शन का विरोध किया गया है।



संबंधित खबर : ख्यात IIT प्रोफेसर से असम में CAA के खिलाफ भड़की हिंसा मामले में NIA 2 बार कर चुकी पूछताछ, देशभर के बुद्धिजीवियों ने की निंदा

गुंजा कपूर अपने एक वीडियो में कह रही हैं, '‘जिस तरीके के सांप्रदायिक नारे प्रोटेस्ट में लग रहे हैं, जिस तरीके से कानून की आड़ में CAA के विरोध में सांप्रदायिक दंगे भड़काने का प्रयास विपक्ष कर रहा है वो हम सबको दिख रहा है। ये नारे कोई सौम्य नारे नहीं हैं। ये हिंसक हैं, जब-जब ये आकाश में गूंजे हैं, तब-तब धरती रक्त रंजित हुई है। 30 साल पहले ये नारे कश्मीर में गूंजे थे, परिणाम हम सबने देखा था। सैंकड़ों कश्मीरी पंडित अपने घर से विस्थापित हो गए थे।’

हां गुंजा का विपक्ष कहने का अंदाज ऐसा है जैसे वह खुद सत्ता में बैठी हों। इसके अलावा तमाम जगहों पर वह शाहीनबाग के आंदोलन को गलत ठहराने की हरसंभव कोशिश करती नजर आ रही हैं। शायद आज भी जो वह शूट कर रही थीं उसका इरादा भी शाहीनबाग आंदोलन को टारगेट करना ही रहा हो।

यह भी पढ़ें : राजधानी दिल्ली में CAA-NRC का विरोध करने वाले निशाने पर, 4 दिन में तीसरी बार दागी गोली

बुर्का में पकड़ी गयी गुंजा कपूर के बारे में राजनीतिक कार्यकर्ता इंद्रेश मैखुरी कहते हैं, 'गुंजा कपूर बुर्का पहन कर शाहीन बाग में वीडियो बनाते पकड़ी गई। भाजपा की ट्रोल सेना में है, ट्विटर पर मोदी जी फॉलो करते हैं। शाहीन बाग आंदोलन की धुर विरोधी हैं। प्रतिदिन ट्विटर पर उसके खिलाफ पोस्ट कर रही थीं। राजनीतिक विश्लेषक का तमगा लगाए हुए हैं, इसी तमगे के साथ चैनल्स पर भाजपा के पक्ष में नमूदार होती रहती हैं।"Love to play gods advocate"- ट्विटर पर अपने परिचय में लिखा है। फिलहाल वकील की जरूरत इन्हें पड़ेगी! सवाल ये है कि इरादे नेक हैं तो बुर्के की आड़ लेकर, अपनी पहचान छुपा कर वहां जाने की जरूरत क्या थी? कल जो केजरीवाल को गालियां दे रही थी कि वो शाहीन बाग में गोली चलवाना चाहते हैं, आज खुद वहां बुर्के में कैमरा छुपा कर क्या करने गयी थी? निकृष्टता और क्षुद्रता के नित नए कीर्तिमान रच रही है भाजपा! शाहीन बाग के आंदोलन को सलाम कि वे गोली चलाने वालों से लेकर बुर्का पहन कर आने वाले षड्यंत्र कारियों के साथ शांतिपूर्ण, मनुष्योचित व्यवहार कर रहे हैं।'

Next Story

विविध

Share it