राजनीति

Subramanian Swami : BJP सांसद का वार- घमंडी है मोदी सरकार, विदेश नीति और अर्थव्यवस्था दोनों मे फेल

Janjwar Desk
15 Oct 2021 7:39 AM GMT
Subramanian Swami : BJP सांसद का वार- घमंडी है मोदी सरकार, विदेश नीति और अर्थव्यवस्था दोनों मे फेल
x

सुब्रमण्यम स्वामी ने फिर साधा निशाना, बोले- घमंडी है मोदी सरकार

Subramanian Swami : स्वामी ने एक बार फिर केंद्र सरकार की नीतियों की तीखी आलोचना की है, स्वामी ने कहा है कि अर्थव्यवस्था और विदेश नीति में मोदी सरकार पूरी तरह से फेल रही है..

Subramaiam Swami : बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी (Subramanian Swami) अपनी बेबाक बातों से हमेशा सुर्खियों में रहते हैं। वे केंद्र की मोदी सरकार की कई नीतियों के भी आलोचक रहे हैं। खासकर मोदी सरकार (Modi Government) की विनिवेश नीतिः, निजीकरण और विदेश नीति के वे कटु आलोचक रहे हैं और अक्सर ट्वीट कर इन नीतियों की तर्कपूर्ण आलोचना करते रहे हैं।

इसी क्रम में स्वामी ने एक बार फिर केंद्र सरकार की नीतियों की तीखी आलोचना की है। स्वामी ने कहा है कि अर्थव्यवस्था (Economy) और विदेश नीति में मोदी सरकार पूरी तरह से फेल रही है। बीजेपी सांसद ने यह भी कहा है कि मैं मदद करने के लिए तैयार हूं लेकिन घमंड इसमें सबसे बड़ी बाधा है। यह पहली बार नहीं है जब स्वामी ने अपनी ही सरकार को घेरा है बल्कि केंद्र की नाकामियों पर वे हमेशा मुखर रहे हैं।

भाजपा से राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने एक बार फिर से प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार को निशाने पर लिया। भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा कि अर्थव्यवस्था और विदेश नीति में मोदी सरकार फेल रही है। साथ ही उन्होंने कहा कि वे सरकार की मदद करने के लिए तैयार हैं लेकिन अभिमान इसमें बड़ी बाधा है।

भाजपा से राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने यह ट्वीट कर फिर से मोदी सरकार पर निशाना साधा है। सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि अब यह स्पष्ट है कि मोदी सरकार अर्थव्यवस्था और विदेश नीति (Foreign Policy) में "विकास" देने में विफल रही है।

उन्होंने कहा कि लद्दाख के मामले में हमारी रक्षा नीति अब तक बड़ी विफलता के रूप में नजर आती है। मैं सरकार की विफल नीतियों को रीसेट करने में मदद करने के लिए तैयार हूं लेकिन अभिमान ही एक बड़ी बाधा है।

सुब्रमण्यम स्वामी ने अपने ट्विटर हैंडल से इकोनॉमिक्स टाइम्स का एक आर्टिकल शेयर करते हुए ट्वीट कर इसे पोंजी स्कीम बताया था। स्वामी ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि टाटा द्वारा एयर इंडिया की खरीद के लिए कर्ज के रूप में 15,000 करोड़ रुपये जुटाने की संभावना है। मतलब जिस एयर इंडिया को भारत सरकार ने बेचा, उसे सरकारी बैंक ही फाइनेंस कर रही है। ये पोंजी स्कीम है।

स्वामी ने सरकारी विमानम कंपनियों को बेचे जाने के खिलाफ भी आवाज उठाया था। स्वामी ने इसे एक घोटाला करार दिया था। इसके पहले वे भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर भी मोदी सरकार को कठघरे में खड़े करते रहे हैं।

उन्होंने एक ट्वीट में लिखा था कि पांच बार पीएम मोदी की चीन यात्रा के बाद भी कुछ हासिल नहीं हुआ। हम अभी भी चीन से बात करने के लिए तरस रहे हैं?

इससे पहले पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर भी स्वामी ने निशाना साधा था। पिछले हफ्ते सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट करते हुए लिखा था- "पेट्रोल, डीजल और दूसरे ईंधन की कीमतें भारत के ईमानदार लोगों के लिए एक त्रासदी बन गई हैं। लगातार बढ़ती कीमते मांग को कम कर देंगी। साथ ही ये देश में आर्थिक सुधारों को और ज्यादा मुश्किल बना देगा।"

Next Story

विविध

Share it