समाज

हरदोई में ट्रिपल मर्डर कांड, आश्रम संचालक, पत्नी और बेटे की ईंट-पत्थरों से कुचलकर नृशंस तरीके से हत्या

Janjwar Desk
1 Sep 2020 7:30 AM GMT
हरदोई में ट्रिपल मर्डर कांड, आश्रम संचालक, पत्नी और बेटे की ईंट-पत्थरों से कुचलकर नृशंस तरीके से हत्या
x

हरदोई में आश्रम संचालक की पत्नी और बेटे के साथ बेरहमी से ईंट-पत्थरों से कुचलकर कर दी गयी हत्या

योगी आदित्यनाथ सरेआम कहते हैं कि उनके शासनकाल में यानी 2017 के बाद से यूपी में अपराधों में भारी गिरावट आई है, शायद वे ऐसी घटनाओं को अपराध नहीं मानते...

हरदोई। एक तरफ योगी सरकार दावा करती है कि प्रदेश से अपराधियों का सफाया हो चुका है या फिर इसके लिए वह तत्पर है, मगर दूसरी तरफ योगी आदित्यनाथ सरेआम कहते हैं कि उनके शासनकाल में यानी 2017 के बाद से यूपी में अपराधों में भारी गिरावट आई है, शायद वे ऐसी घटनाओं को अपराध नहीं मानते... की वारदातें जिस तरह बेखौफ अंजाम ​दी जा रही हैं, उससे लगता है कि सरकारी दावे मात्र हवा-हवाई हैं। कई घटनाओं में तो पुलिस प्रशासन भी अपराधियों के साथ संलिप्त रहता है।

एक के बाद जुर्म की बड़ी वारदातें योगी राज में आम हो गयी हैं। हालांकि दूसरी तरफ योगी दावा करते हैं कि उनके सत्ता में आने के बाद से यूपी में जुर्म नगण्य हो चुके हैं। योगी आदित्यनाथ सरेआम कहते हैं कि उनके शासनकाल में यानी 2017 के बाद से यूपी में अपराधों में भारी गिरावट आई है, शायद वे ऐसी घटनाओं को अपराध नहीं मानते। अब एक बाद फिर यूपी में एक ऐसी घटना सामने आयी है, जिससे सनसनी फैली हुई है।

यूपी के हरदोई जिले में ट्रिपल मर्डर की वारदात सामने आयी है। हरदोई स्थित टड़ियावां थाना क्षेत्र में आश्रम संचालक और उनके परिजनों की अपराधियों ने ईंट-पत्थर से कूचकर नृशंस तरीके से हत्या कर दी है।

इस घटना की जानकारी मिलने पर एसपी समेत तमाम आलाधिकारी मौके पर पहुंचे गये और घटना की पड़ताल की जा रही है। गांव में हिंसा की आशंका के मद्देनजर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

जानकारी के मुताबिक हरदोई स्थित टड़ियावां के ग्राम कुआंमऊ निवासी 70 वर्षीय हीरादास मूल रूप से गंगई के रहने वाले थे। 20 साल पहले वह कुआंमऊ में आकर बस गये और उसके बाद उन्होंने यहां एक आश्रम बना लिया। यहां पर वह अपनी 65 वर्षीय पत्नी मीरादास और 45 वर्षीय पुत्र नेतरामके साथ रहते थे। अपराधियों ने कल सोमवार 31 अगस्त की रात को तीनों लोगों की ईंट-पत्थर से कूचकर नृशंसता से हत्या कर दी।

इस जघन्य हत्याकांड की सूचना पुलिस को ग्रामीणों ने दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। आसपास के लोगों से बातचीत पर आधारित जानकारी के मुताबिक आश्रम संचालक हीरादास, उनकी पत्नी और बेटा तीनों खाना खाने के बाद सो गये थे। किसी ने सोते हुए ही उनकी हत्या की है।

पुलिस इस ट्रिपल मर्डर केस को जमीन विवाद से जोड़कर देख रही है। आशंका जताई जा रही रही है कि सोते समय गला दबाकर हत्या करने के बाद शवों को पत्थरों से कुचला गया होगा।

इस मामले में घटनास्थल पर छानबीन के लिए पहुंचे हरदोई के एसपी अमित कुमार ने मीडिया केा बताया, 'यह परिवार गांव के बाहर रहता था। तीनों के सर पर वार किया गया। पुलिस मौके पर है। जांच की जा रही है। कई सारे बिंदुओं पर जांच हो रही है। संपत्ति को लेकर, जमीन को लेकर विवाद हो सकता है। और भी कई ऐंगल हैं, जिन पर जांच की जा रही है। गांव के व्यक्तियों से पूछताछ की जा रही है। गांव के प्रधान और चौकीदार से भी पूछताछ की जा रही है। पुलिस इस घटना को बहुत गंभीरता से ले रही है।'

Next Story

विविध