समाज

यति नरसिंहानंद ने PM को भी नहीं छोड़ा, कहा स्मृति ईरानी- नरेंद्र मोदी के संबंधों की वजह से देश-धर्म प्रताड़ित

Janjwar Desk
2 Nov 2021 1:12 PM GMT
यति नरसिंहानंद ने PM को भी नहीं छोड़ा, कहा स्मृति ईरानी- नरेंद्र मोदी के संबंधों की वजह से देश-धर्म प्रताड़ित
x

(डासना मंदिर के महंत नरसिंहानंद का नया वीडियो वायरल, पीएम-केंद्रीय मंत्री पर की आपत्तिजनक टिप्पणी)

Yati Narsihanand : नरसिंहानंद कहते हैं- "मैं स्मृति ईरानी- नरेंद्र मोदी को उनके व्यक्तिगत संबंध के लिए गलत नहीं बताऊंगा पर उन संबंधों की वजह से देश-धर्म प्रताड़ित होता हो तो ये चिंता का विषय है।

Yati Narsihanand। अपने विवादित बयानों व भड़काऊ भाषणों से सुर्खियों में रहने वाले जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद सरस्वती (Yati Narisinhanand) फिर चर्चाओं में आ गए हैं। इस बार उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) के संबंधों को लेकर टिप्पणी की है। नरसिंहानंद का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि वह स्मृति ईरानी-नरेंद्र के व्यक्तिगत संबंध को गलत नहीं बताएंगे लेकिन उनके संबंधों की वजह से देश-धर्म प्रताड़ित होता है तो ये चिंता का विषय है।

वीडियो को फिल्ममेकर विनोट कापड़ी ने अपने ट्वीट में साझा किया है। इस वीडियो में वह न्यूज वर्ल्ड इंडिया नाम के किसी चैनल को इंटरव्यू देते हुए दिखाई दे रहे हैं। इस दौरान नरसिंहानंद कहते हैं- "मैं स्मृति ईरानी- नरेंद्र मोदी को उनके व्यक्तिगत संबंध के लिए गलत नहीं बताऊंगा पर उन संबंधों की वजह से देश-धर्म प्रताड़ित होता हो तो ये चिंता का विषय है।

विनोद कापड़ी ने यह ट्वीट राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा को टैग करते हुए लिखा कि ये व्यक्ति यति नरसिंहानंद सारी मर्यादा तोड़ रहा है। आप सब चुप हैं?

यह पहली बार नहीं है जब यति नरसिंहानंद ने महिलाओं के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की हो। इससे पहले वह बीजेपी की महिला नेताओं के खिलाफ भी अभद्र टिप्पणी कर चुके हैं। उनका वीडियो काफी वायरल हुआ था। वीडियो में वह कहते हुए सुनाई देते हैं- 'ये अमूल्य ज्ञान कहीं दुनिया में सुनने को नहीं मिलेगा। राजनीति में जो महिलाएं दिखाई पड़ती थीं वो किसी न किसी एक नेता की **** हुआ करती थीं। या किसी बड़े नेता की बेटी-बहन या बहू-पत्नी...उसके बाद आई समाजवादी पार्टी वालों की सरकार, वहां भी महिला किसी एक की ही होती थी। फिर आई मायावती की सरकार, ये औरतों वाला मामला उनकी सरकार में नहीं चलता था। वहां कोई भी नेता किसी भी औरत को टिकट नहीं दिलवा सकते। न वादा कर सकते कि मैं तुम्हारी सिफारिश बहनजी से कर दूंगा। पता चला कि बहनजी ने उसका ही टिकट काट दिया..।''

इसके बाद भाजपा नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने भी यति नरसिंहानंद को फ्रॉड बताते हुए यूपी पुलिस से उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।

हालांकि बाद में नरसिंहानंद ने सफाई देते हुए कहा था कि कई महीने पहले वह अपने समर्थकों के साथ बैठकर सामान्य बातचीत कर रहे थे। नरसिंहानंद ने कहा था कि वह सिर्फ राजनीति में महिलाओं को लेकर जो गंदगी फैली हुई है उस पर चर्चा कर रहे थे। उन्होंने महिलाओं के सम्मान को ठेस पहुंचाने वाली कोई बात नहीं की। किसी ने उनकी वीडियो एडिट करके सोशल मीडिया पर डाल दी।

नरसिंहानंद के खिलाफ देशभर में कई थानों में एफआईआर दर्ज है लेकिन उन्हें अब तक कोई भी पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पा रही है। पुलिस उनके खिलाफ कोई बड़ा एक्शन भी नहीं ले पा रही है।

यही नहीं नरसिंहानंद पहले पैगंबर मोहम्मद पर भी कथित तौर पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर चुके हैं। नरसिंहानंद ने कथित तौर पर कहा था कि अगर इस्लाम की असलियत जिसके लिए मौलाना कहते हैं कि अगर मोहम्मद के बारे में बोला तो सर काट देंगे, यह भय हिंदू अपने दिमाग से निकाल दें। हम हिंदू हैं हम राम के चरित्र की मीमांसा कर सकते हैं। हम परशुराम के चरित्र की मीमांसा कर सकते हैं तो हमारे लिए मोहम्मद क्या चीज हैं। हम मोहम्मद की मीमांसा क्यों नहीं करेंगे और क्यों सच नहीं बोलेंगे।

नरसिंहानंद आगे कहता है, 'अगर किसी को पता चले कि तू एक लूटेरे, डकेत और जल्लाद को फॉलो कर रहा था। ऐसा व्यक्ति जो बलात्कारी था जो औरतों की सौदागरी करता था, पता है इस क्या बोलते है हमारे यहां...द*** बोलते हैं। जब उसे पता चलेगा तो उसे शर्म आएगी। यह तो हिन्दुस्तान के घटिया नेता हैं और नकली धर्म गुरु हैं जिन्होंने ग्लोरीफाई कर दिया है इस्लाम जैसी गंदगी को..अगर इस्लाम के बारे में छाती खोलकर बोला जाता तो आज हर मुसलमान, दुनिया के हर मुसलमान को अपने मुसलमान होने पर शर्म आती।'

Next Story

विविध

Share it