वीडियो

3 FIR दर्ज होते ही निकली नरसिम्हानंद की हेकड़ी, अब देखिए कैसे कर रहा है अनुनय-विनय

Janjwar Desk
2 Sep 2021 6:28 AM GMT
3 FIR दर्ज होते ही निकली नरसिम्हानंद की हेकड़ी, अब देखिए कैसे कर रहा है अनुनय-विनय
x

बड़बोला संत यति नरसिंहानंद (फाइल फोटो)

यति नरसिम्हानंद सरस्वती के खिलाफ दिल्ली से सटे गाजियाबाद में तीन मुकदमे दर्ज हुए हैं, मुकदमे दर्ज होने और बयान पर विवाद बढ़ता देख महंत ने सफाई दी है। कहा है कि किसी ने साजिश के तहत छेड़छाड़ कर इसे सार्वजनिक कर दिया...

जनज्वार। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद (Ghaziabad) स्थित डासना में शिव शक्ति धाम के पुजारी यति नरसिंहानंद (yati Narsimhanand Sarswati) मुश्किलें बढ़नी शुरू हो गई हैं। दरअसल, नरसिंहानंद का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें वे भाजपा की महिला नेताओं को लेकर अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते सुनाई दे रहे हैं।

नरसिंहानंद का सामने आया पुराना जहर, BJP की महिला नेताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी का वीडियो वायरल

इस वीडियो को लेकर डासना मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद (Yati narsingh) सरस्वती के खिलाफ दिल्ली से सटे गाजियाबाद में तीन मुकदमे दर्ज हुए हैं। मुकदमे दर्ज होने और बयान पर विवाद बढ़ता देख महंत ने सफाई दी है। नरसिंहानंद सरस्वती ने गाजियाबाद सदर के सीओ को पत्र लिखकर वीडियो से छेड़छाड़ का आरोप लगाया।

यति नरसिंहानंद का भड़काऊ बयान, पैगंबर मोहम्मद को बताया 'औरतों का सौदागर', गिरफ्तारी की मांग उठी

यति ने कहा है कि किसी ने साजिश के तहत छेड़छाड़ कर इसे सार्वजनिक कर दिया। महंत यति नरसिंहानंद ने अपनी सफाई में कहा है कि व्यक्तिगत वार्ता का वीडियो किसी ने रिकॉर्ड कर साजिश के तहत छेड़छाड़कर सार्वजनिक किया है। छेड़छाड़ के कारण मेरी बातों के अर्थ का अनर्थ हो गया। हालांकि, वीडियो करीब सात महीने पहले का है।

नरसिंहानंद सरस्वती ने सीओ सदर (CO Sadar) गाजियाबाद को पत्र लिखकर कहा है कि कभी भी मातृशक्ति के लिए सार्वजनिक रूप से कोई अपमानजनक या उपहासजनक टिप्पणी नहीं की। वायरल वीडियो को लेकर नरसिंहानंद ने कहा कि इससे शर्मिंदा हूं, आहत हूं। नरसिंहानंद सरस्वती ने कहा कि इस वीडियो के कारण जिन्हें भी ठेस पहुंची हो, हम क्षमा प्रार्थी हैं। सीओ को लिखे पत्र में नरसिंहानंद ने उन्हें आश्वस्त किया है जीवन में फिर कभी ऐसा नहीं होगा।

यति नरसिंहानंद के खिलाफ प्रदर्शन करने पर 1 गिरफ्तार, 100 से ज्यादा के खिलाफ मामला दर्ज, लेकिन महंत की अबतक नहीं हुई गिरफ्तारी

गौरतलब है कि, इस वीडियो के वायरल होने के बाद डासना मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती के खिलाफ गाजियाबाद में तीन मुकदमे दर्ज हुए हैं। नरसिंहानंद के खिलाफ मसूरी थाने में भी मामला दर्ज किया गया। नरसिंहानंद के खिलाफ धारा 504/505/509 सहित IPC 67 के तहत मामले दर्ज किए गए हैं। मामले दर्ज होने के बाद यति नरसिंहानंद ने सफाई दी है।

इस बीच एक बात जो गौरेकाबिल है, वह ये की यति ने जो सफाई दी है जिसमें कहा गया है कि यह व्यक्तिगत वार्ता का वीडियो था किसी ने सार्वजनिक कर दिया। तो क्या किसी ऐसे व्यक्ति, जो खुद को संत कहता है, पुजारी कहता है उसे व्यक्तिगत वार्ता में इस तरह की बातें और आपत्तिजनक शब्दों को बोलने की कहां तक छूट है। फिर यह उसके कामों पर सवाल भी खड़ा करता है।

देश के मुसलमानों पर हमेशा आक्रोशित रहने वाले महंत नरसिंहानंद के भड़काऊ बयान पिछले लंबे समय से चर्चा में रहते आये हैं। यति नरसिंहानंद ने कथित तौर पर पैगंबर मोहम्मद पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी, जिसके बाद से सोशल मीडिया पर यति नरसिंहानंद की गिरफ्तारी की मांग उठी।

यति नरसिंहानंद ने पैगंबर मोहम्मद को लेकर कहा कि अगर इस्लाम की असलियत जिसके लिए मौलाना कहते हैं कि अगर मोहम्मद के बारे में बोला तो सर काट देंगे, यह भय हिंदू अपने दिमाग से निकाल दें। हम हिंदू हैं हम राम के चरित्र की मीमांसा कर सकते हैं। हम परशुराम के चरित्र की मीमांसा कर सकते हैं तो हमारे लिए मोहम्मद क्या चीज हैं। हम मोहम्मद की मीमांसा क्यों नहीं करेंगे और क्यों सच नहीं बोलेंगे।

उन्होंने आगे कहा था कि अगर मोहम्मद का असलियत दुनिया के मुसलमानों को पता चल जाए तो उन्हें अपने मुसलमान होने पर शर्म आएगी। उन्हें शर्म आएगी क्योंकि हर आदमी के अंदर भगवान एक नेचुरल सी चीज बनाकर भेजता है कि क्या अच्छा है और क्या बुरा है। सबकी अंतर्रात्मा होती है।

यति नरसिंहानंद यहीं नहीं रुके, उन्होंने आगे लिखा था, अगर किसी को पता चले कि तू एक लूटेरे, डकैत और जल्लाद को फॉलो कर रहा था। ऐसा व्यक्ति जो बलात्कारी था जो औरतों की सौदागरी करता था, पता है इस क्या बोलते है हमारे यहां...द*** बोलते हैं। जब उसे पता चलेगा तो उसे शर्म आएगी। यह तो हिन्दुस्तान के घटिया नेता हैं और नकली धर्म गुरु हैं जिन्होंने ग्लोरीफाई कर दिया है इस्लाम जैसी गंदगी को..अगर इस्लाम के बारे में छाती खोलकर बोला जाता तो आज हर मुसलमान, दुनिया के हर मुसलमान को अपने मुसलमान होने पर शर्म आती। मुसलमान को शर्म आती कि अगर वो हिंदुओं के साथ बैठता तो उसे थूककर खाना देता। उसे शर्म आती कि उसने अपने दोस्तों के साथ क्या किया है। उसे शर्म आती कि तू अपने दोस्त जैसे भाई कि पत्नी पर और उसकी बेटी पर गलत निगाह रखा हुआ है क्योंकि तू एक लूटेरे को फॉलो करता है।'

Next Story

विविध

Share it