वीडियो

'दूसरा बिकरू कांड करने की तैयारी जंगल में मिलेगी हमारी लाश' घर में छापे के बाद बोले शायर मुनव्वर राना

Janjwar Desk
2 July 2021 10:51 AM GMT
दूसरा बिकरू कांड करने की तैयारी जंगल में मिलेगी हमारी लाश घर में छापे के बाद बोले शायर मुनव्वर राना
x

(मशहूर शायर मुनव्वर राना ने खुद की जान को खतरा बताते हुए वीडियो जारी किया है.)

मुनव्वर ने आगे कहा कि 'पुलिस ने गुंडागर्दी की। इनमें से कोई मुझे मार भी देगा और न भी मारे तो मैं इन हालात में मर जाऊंगा। कहा कि पुलिस वाले मुझे हटने के लिए बोल रहे थे, मैं कैसे हट जाऊं। वो मेरा बेटा है। मेरी सबसे बड़ी गलती है कि मैंने उसे पैदा किया है...

जनज्वार, लखनऊ। मशहूर शायर मुनव्वर राना (Munavvar Rana) शुक्रवार की सुबह अचानक से सुर्खियों में आ गए और इसका कारण था उनके बेटे द्वारा खुद पर कराया गया हमला। पुलिस ने मामले की जांच कि और मुनव्वर राना के बेटे तबरेज को गिरफ्तार करने के लिए गुरूवार को रात करीब 2 बजे उनके निवास स्थान पर पहुंची।

लखनऊ और रायबरेली पुलिस (POLICE) की इस संयुक्त कार्रवाई के दौरान फ्लैट का कोना-कोना छान मारा गया लेकिन तबरेज का वहां कोई सुराग नहीं मिला। पुलिस द्वारा की गई इस कार्रवाई से मुनव्वर राना के परिवार वाले काफी नाराज दिखे। मुनव्वर राना और उनकी बेटी ने पुलिस पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं।

पुलिस की छापेमारी के बाद शायर ने वीडियो जारी किया। वीडियो में उन्होंने कहा कि 'एक दिन हमारी जंगल में लाश पड़ी मिलेगी। पुलिस दूसरा बिकरू कांड करने की तैयारी में है। इसमें इतना हंगामा करने की क्या जरूरत है। अब ये मुनव्वर राना बिकरू कांड हो गया है। जब पुलिसकर्मियों से वारंट के बारे में पूछा तो उन्होंने मुझे हटने के लिए बोल दिया।'

मुनव्वर ने आगे कहा कि 'पुलिस ने गुंडागर्दी की। इनमें से कोई मुझे मार भी देगा और न भी मारे तो मैं इन हालात में मर जाऊंगा। कहा कि पुलिस वाले मुझे हटने के लिए बोल रहे थे, मैं कैसे हट जाऊं। वो मेरा बेटा है। मेरी सबसे बड़ी गलती है कि मैंने उसे पैदा किया है।' तबरेज ने आरोप लगाया था कि उसे मारने के लिए किसी ने उसकी कार पर गोलियां चलाई थी।

रात को एफआई टावर (FI TOWER) अपार्टमेंट में उनके फ्लैट पर पहुंची। वहीं, रायबरेली के आवास पर भी छापा डाला गया। लेकिन पुलिस के हाथ तबरेज (Tabrej) नहीं लगा। मुन्नवर राना का आरोप है कि छापा डालते वक्त महिलाओं और उनसे अभद्रता की गई। सभी के मोबाइल पुलिस ने छीन लिए थे। पुलिस खुलेआम गुंडागर्दी कर रही थी।

रायबरेली पुलिस के मुताबिक, 28 जून को शायर मुनव्वर के बेटे तबरेज राना पर हुए जानलेवा हमले का मामला फर्जी था। जमीन की लड़ाई में तबरेज ने अपने चाचा और भाइयों को फंसाने के लिए खुद अपने ऊपर हमला (Attack) करवाया था। रायबरेली पुलिस ने तबरेज की तरफ से दर्ज कराए गए मुकदमे में उल्टा तबरेज राना को ही मुलजिम बना दिया है।

मुनव्वर और उनके भाईयों के बीच एक पुश्तैनी जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। 28 जून को मुनव्वर के बेटे तबरेज पर रायबरेली के त्रिपुला चौराहे के पास पेट्रोल पंप के पास दो बाइक सवार युवकों ने हमला कर दिया। युवकों ने तबरेज की कार पर फायरिंग की। तबरेज का कहना है कि जब तक उसने अपनी लाइसेंसी गन निकाली तब तक दोनों भाग खड़े हुए। इस मामले में तबरेज ने सदर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया था।

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज निकालकर जांच की। पुलिस का दावा है कि तबरेज पर हमले की पूरी कहानी फर्जी (FAKE STORY) है। खुद तबरेज ने अपने चाचा और चचेरे भाइयों को फंसाने के लिए मुकदमा दर्ज कराया था।

Next Story

विविध

Share it