दुनिया

अफगानिस्तान से भागकर कहां गए राष्ट्रपति अशरफ गनी हो गया खुलासा, परिवार सहित इस देश में ली है शरण

Janjwar Desk
18 Aug 2021 4:10 PM GMT
अफगानिस्तान से भागकर कहां गए राष्ट्रपति अशरफ गनी हो गया खुलासा, परिवार सहित इस देश में ली है शरण
x

अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद अशरफ गनी देश छोड़कर भाग गए थे (file pic.)

गनी कहां गए हैं, इसे लेकर तरह तरह की अटकलें लगाई जा रही थीं,. मीडिया में भी गनी के कभी किसी देश में तो कभी किसी और देश में शरण लेने की खबरें आ रहीं थीं..

जनज्वार। अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद वहां के राष्ट्रपति अशरफ गनी विदेश भाग गए थे। गनी कहां गए हैं, इसे लेकर तरह तरह की अटकलें लगाई जा रही थीं। मीडिया में भी गनी के कभी किसी देश में तो कभी किसी और देश में शरण लेने की खबरें आ रहीं थीं। अब इन अटकलों पर विराम लग गया है क्योंकि अशरफ गनी के यूएई में होने की खबर की पुष्टि हो गई है। यूएई की तरफ से कहा गया है कि उसने अशरफ गनी और उनके परिवार को मानवीय आधार पर यूएई में रहने की इजाजत दी है।

बता दें कि तालिबान द्वारा काबुल पर कब्जा करने के बाद अशरफ गनी अफगानिस्तान छोड़ कर भाग गये थे। यूएई के राज्य संचालित न्यूज एजेंसी 'WAM' ने बुधवार को गनी के यूएई में होने की जानकारी दी है। उल्लेखनीय है कि यूएई सऊदी अरब और पाकिस्तान सहित तीन देशों में से एक है, जिसने पिछले तालिबान शासन को मान्यता दी थी, जिसने 1996 से 2001 तक शासन किया था।

काबुल न्यूज ने भी ट्वीट कर दावा किया कि अशरफ गनी चार दिन पहले काबुल से भागकर संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी में बस गए हैं। पहले सूत्रों ने बताया था कि पूर्व राष्ट्रपति पड़ोसी ताजिकिस्तान या उज्बेकिस्तान जा सकते थे, बीच में ये भी खबर आई थी कि अशरफ गनी ओमान में रूके हैं।


उधर ताजिकिस्तान स्थित अफगानिस्तान दूतावास ने इंटरपोल से अशरफ गनी को हिरासत में लेने को कहा है। एंबेसी ने इंटरपोल से अशरफ गनी, हमदल्लाह मोहिब और फजल महमूद फाजली को सार्वजनिक संपत्ति चुराने के आरोप में हिरासत में लेने को कहा है ताकि इन फंड्स को अफगानिस्तान को वापस किया जा सके।

अफगानिस्तान के प्रमुख टीवी चैनल टोलो न्यूज ने सूत्रों के हवाले से खबर चलाई है कि अशरफ गनी पर खजाना चोरी का आरोप लगा है, इसीको लेकर अफगान दूतावास ने इंटरपोल से गिरफ्तारी की मांग की है।

बता दें, अशरफ गनी 15 अगस्त को अफगानिस्तान से भाग गए थे। इसके कुछ देर बाद ही तालिबान ने राजधानी काबुल और राष्ट्रपति निवास पर कब्जा कर लिया था। अफगानिस्तान छोड़ने के पीछे गनी ने तर्क दिया था कि वे देश में खूनखराबा और तबाही रोकने के लिए ये कदम उठा रहे हैं। अफगानिस्तान से भागने के बाद मीडिया में इस तरह की रिपोर्ट्स आई थीं कि अशरफ गनी कई गाड़ियों में पैसे भरकर ले गए हैं।

Next Story