Top
बिहार

अब एंबुलेंस कर्मी गए हड़ताल पर, वेतन वृद्धि और प्रोत्साहन राशि की कर रहे मांग

Janjwar Desk
16 Sep 2020 2:38 AM GMT
अब एंबुलेंस कर्मी गए हड़ताल पर, वेतन वृद्धि और प्रोत्साहन राशि की कर रहे मांग
x

वेतन बढ़ाने और प्रोत्साहन राशि देने की मांग को लेकर एंबुलेंस कर्मियों ने हड़ताल कर दी है। इस दौरान धरना भी दिया। (Photo:social media)

संघ के जिलाध्यक्ष अमित कुमार पाण्डेय ने कहा 'कोरोना काल में अपनी जान जोखिम में डालकर दिन-रात लोगों की सेवा में 102 एंबुलेंस कर्मी लगे रहे, प्रोत्साहन राशि तो दूर, वेतन वृद्धि तक की मांग को नहीं मानी गयी, कोविड-19 के दौरान आठ से 12 घंटे काम लिये गये है, जिसका अतिरिक्त भुगतान किया जाय...

जनज्वार ब्यूरो, पटना। कोरोनाकाल के दौरान बिहार में हड़तालों का सिलसिला भी लगातार साथ-साथ चलता रहा है। पिछले कुछ माह में अपनी-अपनी मांगों को लेकर डॉक्टर, नर्स, फार्मासिस्ट, पारा मेडिकल कर्मी, सफाईकर्मी, ट्रक ऑनर आदि पूर्व में प्रदर्शन-हड़ताल कर चुके हैं। अब बिहार राज्य चिकित्सा कर्मचारी संघ के बैनर तले 102 एंबुलेंस कर्मियों ने अपनी आठ सूत्री मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल कर दी है।

बिहारशरीफ जिला में मंगलवार को 102 एंबुलेंस कर्मियों ने सिविल सर्जन कार्यालय के समक्ष हड़ताल के दौरान धरना भी दिया। 102 एंबुलेंस कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में इस धरना में इनलोगों ने अपनी मांगों के समर्थन में नारेबाजी की।

संघ के जिलाध्यक्ष अमित कुमार पाण्डेय ने कहा 'कोरोना काल में अपनी जान जोखिम में डालकर दिन-रात लोगों की सेवा में 102 एंबुलेंस कर्मी लगे रहे। प्रोत्साहन राशि तो दूर, वेतन वृद्धि तक की मांग को नहीं मानी गयी, जिससे एंबुलेंस चालकों में आक्रोश है। हम सरकार से मांग करते हैं कि कोविड-19 के दौरान आठ से 12 घंटे काम लिये गये है, जिसका अतिरिक्त भुगतान किया जाय।'

एंबुलेंस कर्मियों की मांगों में एक माह का प्रोत्साहन राशि दिए जाने, श्रम कानून का पालन करने आदि की मांग शामिल है।

इधर एंबुलेंस कर्मियों के हड़ताल पर चले जाने से रोगियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं। खासकर प्रसव एवं इमरजेंसी रोगी इससे प्रभावित हो रहे है।

हड़ताल पर गए एंबुलेंस कर्मी रजनीकांत कुमार, अरूण कुमार, सिकंदर कुमार, पंकज कुमार, रौशन सिंह, अनिल कुमार, संजीव कुमार, अशगर अलग, धर्मवीर, निरंजन कुमार, प्रभाकर चंद,वासुदेव कुमार, शैलेंद्र सिह आदि ने कहा कि कई बार विभाग और सरकार को मांगों से अवगत कराएं जाने के बावजूद अबतक कोई सुनवाई नहीं हुई है।

उधर वैशाली जिला में संघ से जुड़े एंबुलेंस कर्मियों ने मांग की है कि श्रम अधिनियम लागू हो। संघ के जिलाध्यक्ष चंदन कुमार ने कहा 'वेतन में कम से कम 2000/- की वृद्धि हो। नाजायज रूप से कटौती बंद हो। कोविड-19 और लॉकडाउन में कार्यरत कर्मियों की प्रोत्साहन राशि का भुगतान हो।' यहां एंबुलेंस कर्मी राकेश पाण्डे, राकेश कुमार, धर्मेंद्र कुमार, मनोहर कुमार, उपेंद्र सिंह, दिवाकर कुमार, जितेंद्र पटेल, विकास, मनोज आदि सम्मिलित हुए।

Next Story

विविध

Share it