राष्ट्रीय

प्रधानमंत्री कार्यालय का सलाहकार बनकर ADG से मिलने पहुंचा, गिरफ्तार शख्स के बारे में हुआ सनसनीखेज खुलासा

Janjwar Desk
18 Jun 2021 9:11 AM GMT
प्रधानमंत्री कार्यालय का सलाहकार बनकर ADG से मिलने पहुंचा, गिरफ्तार शख्स के बारे में हुआ सनसनीखेज खुलासा
x
पुलिस जांच के दौरान शख्स के बारे में सनसनीखेज खुलासा हुआ। व्यक्ति पहले सरकारी सेवा में था। हाल ही में रिटायरमेंट के बाद उज्जैन के ऋषि नगर क्षेत्र में रह रहा था...

जनज्वार डेस्क। उज्जैन की माधवनगर पुलिस ने एक बुजुर्ग व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार व्यक्ति खुद को पीएमओ का सलाहकार बताकर लोगों के साथ धोखाधड़ी करता था। वह वरिष्ठ अधिकारियों को फर्जी आईडी से मेल करता था। माधवनगर पुलिस ने शंका होने पर इसकी जांच की है। उसमें बुजुर्ग व्यक्ति फर्जी पाया गया है।

खबरों के मुताबिक माधवनगर थाना मनीष लोधा को सूचना मिली थी कि अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक उज्जैन जोन के कार्यालय में एक व्यक्ति आया है और अपने आप को केन्द्रीय सर्तकता आयोग का सदस्य बता रहा है। साथ ही एडीजी से मिलना चाहता है। उसकी गतिविधियां संदिग्ध लगीं तो माधवनगर पुलिस की टीम वहां पहुंची और जांच की। जांच के दौरान पता चला कि एडीजी ऑफिस में आए शख्स का नाम प्रमोद कुमार मेहता है। 65 वर्षीय शख्स बी-09 ऋषिनगर मेन रोड उज्जैन का रहने वाला है।

वह खुद को केंद्रीय सतर्कता आयोग का सदस्य बता रहा था। पुलिस जांच के दौरान शख्स के बारे में सनसनीखेज खुलासा हुआ। व्यक्ति पहले सरकारी सेवा में था। हाल ही में रिटायरमेंट के बाद उज्जैन के ऋषि नगर क्षेत्र में रह रहा था। सोहरत और ख्याति प्राप्त करने के उद्देश्य से केंद्रीय सदस्यता आयोग का सदस्य और पीएमओ का सलाहकार बताया था। जांच के दौरान यह बात पूरी तरह से असत्य पाया गया।

पूछताछ में उसने बताया कि मैं केंद्रीय सतर्कता आयोग का सदस्य नहीं हूं। मैं सिर्फ अधिकारियों से मेल जोल बढ़ाने के लिए ये सब करता था। इससे मेरे निजी काम आसानी से हो जाते थे। अधिकारियों को मेल करने के लिए प्रमोद prmd.mht@gmail.com आईडी का इस्तेमाल करता था। इसमें उसने खुद को सीवीसी सदस्य के रूप में उल्लेखित किया है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही अधिकारियों को किए मेल में उसने सीसी में पीएमओ, एनएसए, कैबिनेट सेक्रेटरी ऑफ इंडिया को भी रखा है।

Next Story

विविध

Share it