राष्ट्रीय

Kanpur Apartment Rape Case : डेयरी मालिक को फांसी व परिवार को 50 लाख देने की मांग, पुलिस ने 140 लोगों पर दर्ज की FIR

Janjwar Desk
24 Sep 2021 4:08 AM GMT
kanpur news
x

(आरोपी डेयरी मालिक को फांसी की मांग करने को लेकर हंगामा)

Kanpur Apartment Rape Case : तमाम किरकिरी के बाद पुलिस अब इस मामले में जरा भी ढ़ील नहीं देना चाहती है। आरोपी के मामले में कानपुर पुलिस फास्ट ट्रैक कोर्ट में जाने की तैयारी कर रही है। इसके लिए अफसरों ने प्रक्रिया भी शुरू कर दी है...

Kanpur Gulmohar Apartment Rape Case (जनज्वार) : कानपुर के कल्याणपुर (Kalyanpur) स्थित गुलमोहर अपार्टमेंट की दसवीं मंजिल में रेप के बाद फेंककर मारी गई युवती मामले में कल वीरवार पूरे दिन हंगामा चलता रहा। भीड़ ने अरौल-मकनपुर रेलवे स्टोशन सहित तिराहे पर शव रखकर जाम लगा दिया। कुछ अराजकतत्वों ने पथराव भी किया जिसपर पुलिस ने लाठियां पटककर लोगों को खदेड़ा। जिसके चार घंटे बाद भारी पुलिस बल की मौजूदगी में युवती का अंतिम संस्कार कराया जा सका।

कल्याणपुर के गुलमोहर अपार्टमेंट में रहने वाला मॉडल डेयरी (Model Dairy) का मालिक प्रतीक वैश्य (Prateek Vaishya) मंगलवार 21 सितंबर को 19 वर्षीय लड़की को अपने फ्लैट पर ले गया था। जिसके कुछ ही देर बाद फ्लैट की दसवीं मंजिल की बालकनी से युवती की गिरकर मौत हो गई थी। पुलिस का दावा था कि आरोपी ने खुद ही बलात्कार और विरोध पर हत्या की बात कबूल की थी। जिसके बाद आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था।

फास्ट ट्रैक कोर्ट की तैयारी में पुलिस

अपनी हुई तमाम किरकिरी के बाद पुलिस अब इस मामले में जरा भी ढ़ील नहीं देना चाहती है। आरोपी के मामले में कानपुर पुलिस फास्ट ट्रैक कोर्ट में जाने की तैयारी कर रही है। इसके लिए अफसरों ने प्रक्रिया भी शुरू कर दी है। दरअसल अब पुलिस चाह रही है की फास्ट ट्रैक कोर्ट में केस की सुनवाई जल्द होगी और कम समय में आरोपी को सख्त सजा मिल सकेगी। इसी सिलसिले को ध्यान में रखते हुए कानपुर पुलिस (Kanpur Police) एक से दो सप्ताह में ही चार्जशीट दाखिल करेगी।

140 लोगों के खिलाफ दर्ज हुई FIR

युवती का शव उसके गांव पहुँचने पर ग्रामीणों की भीड़ ने रेलवे ट्रैक पर शव (Dead Body) रखकर जाम लगा दिया। पुलिस ने समझाने का प्रयास किया तो भीड़ में शामिल कुछ शरारती तत्वों ने पुलिस व आरपीएफ (RPF) पर रेलवे लाईन के पत्थर फेंकने शुरू कर दिए। जिसके बाद पुलिस को हल्का बल प्रयोग करते हुए लाठियां पटककर लोगों को खदेड़ना पड़ा। पुलिस ने अरौल-मकनपुर रेलवे क्रासिंग जीटी रोड तिराहे पर शव रखकर प्रदर्शन करने वाले 50 नामजद सहित 90 अज्ञात लोगों के खिलाफ बलवा, सेवन क्रिमिनल एक्ट के तहत FIR दर्ज की है।

आरोपी को फांसी व परिवार को 50 लाख मुआवजे की मांग

युवती का शव गांव पहुँचते ही ग्रामीणों में आक्रोश भर गया। सभी लोग आरोपी को फांसी देने सहित गरीब परिवार को 50 लाख रूपये का मुआवजा दिए जाने की मांग पर अड़े रहे। जिसके तहत शव को रेलवे क्रासिंग (Railway Crossing) पर रखकर जाम लगा दिया गया। इस बीच कई राजनैतिक दलों के लोग पहुँचकर नारेबाजी करने लगे। इसके अलावा बार एसोशिएशन अध्यक्ष बलजीत सिंह यादव के नेतृत्व में अधिवक्ताओं का एक प्रतिनिधिमंडल आज शनिवार युवती के गांव जाएगा।

निर्भया की वकील सीमा समृद्धि भी पहुँची पीड़िता के गांव

पीड़िता के परिवार से मिलती निर्भया की वकील सीमा कुशवाहा

कल्याणपुर के गुलमोहर अपार्टमेंट (Kalyanpur Gulmohar Apartment) की दसवीं मंजिल पर जिस युवती की रेप के बाद हत्या की गई, उसका केस दिल्ली गैंगरेप की शिकार निर्भया (Delhi Nirbhaya Gaingrape) की वकील सीमा कुशवाहा लड़ेंगी। सीमा ने परिजनो से कहा है कि वह इसके लिए कोई फीस भी नहीं लेंगी। उन्होने प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिसिया लाठीचार्ज की भी निंदा की है। सीमा कुशवाहा (Seema Kushwaha) ने कहा की वह आरोपी के सजा दिलाने तक चैन से नहीं बैठेंगी। उनकी मांग है की मामले की जांच सीबीआई या एसआईटी से कराई जाए।

Next Story

विविध

Share it