राष्ट्रीय

Bhopal News: मूछों के आगे झुकी MP Police, कांस्टेबल राकेश राणा को नौकरी ज्वाइन करने का मिला न्योता

Janjwar Desk
10 Jan 2022 12:57 PM GMT
Bhopal News: मूछों के आगे झुकी MP Police, कांस्टेबल राकेश राणा को नौकरी ज्वाइन करने का मिला न्योता
x

MP के कांस्टेबल राकेश राणा का सस्पेंशन रद्द


Bhopal News: कांस्टेबल राकेश राणा की जिद के आगे विभाग झुक गया है। निलंबन के तीन दिन बाद एडीजी अनिल कुमार ने राणा को नौकरी जॉइन करने के आदेश दे दिए है। 7 जनवरी को AIG प्रशांत शर्मा ने लंबी मूंछ रखने के कारण राणा के सस्पेंशन का ऑर्डर जारी किया था...

Bhopal News: मध्य प्रदेश पुलिस (MP Police) ने कांस्टेबल राकेश राणा (Rakesh Rana) का निलंबन रद्द कर दिया है। पुलिस कांस्टेबल राकेश राणा को दो दिन पहले ही मध्य प्रदेश पुलिस (MP Police) से लंबी मूंछें और बाल रखने के आरोप में सस्पेंड (Police Constable Suspend) कर दिया गया था। राकेश राणा का साफ कहना था कि उन्हें नौकरी से निकलना मंजूर हैं, परवे अपनी मूंछे नहीं कटवाएंगे। सोशल मीडिया पर मामले के तूल पकड़ने और आलोचनाओं के बाद पुलिस विभाग बैकफुट पर आ गया है। कांस्टेबल राणा को मौखिक तौर पर ड्यूटी ज्वॉइन करने के लिए कह दिया गया है।

लंबी मूंछों के कारण हुए थे सस्पेंड

बता दे लंबी मूंछें रखने के कारण भोपाल में कांस्टेबल के बद पर तैनात राकेश राणा (Constable Rakesh Rana) को सस्पेंड कर दिया गया था। मध्य प्रदेश के सहायक पुलिस महानिरीक्षक (AIG) प्रशांत शर्मा ने इस संबंध एक आदेश जारी किया था, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। प्रशांत शर्मा मध्य प्रदेश सहकारी धोखाधड़ी और लोक सेवा गारंटी के सहायक पुलिस महानिरीक्षक हैं। शर्मा ने बताया था कि कांस्टेबल राकेश राणा भोपाल में पुलिस के मोटर ट्रांसपोर्ट पूल (एमटी पूल) में पदस्थ हैं और वाहन चालक के रूप में कार्यरत थे। शर्मा के अनुसार, राकेश राणा का हुलिया अत्यधिक खराब दिखाई दे रहा है। उन्हें अपने हुलिया ठीक करने के लिए निर्देश दिए गए। लेकिन, उन्होंने आदेश का पालन नहीं किया जिसके बाद इसे अनुशासनहीनता मानकर राणा को 7 जनवरी को निलंबित कर दिया गया।

सोशल मीडिया पर छिड़ी बहस

इसके बाद रविवार 10 जनवरी को ये मामला सोशल मीडिया पर पहुंचा और इसको लेकर बहस छिड़ गई। लोगों का कहना था कि सेना की राजपूत रेजिमेंड में मूंछ (Police Mustache) रख सकते हैं। इतना ही नहीं, पुलिस में भी मूंछों के रखने पर अलग से भत्ता देने की व्यवस्था है। यूपी पुलिस में आईपीएस स्तर के बड़े अधिकारी भी राकेश राणा की तरह की मूंछ रखते हैं, फिर सिर्फ राकेश पर कार्रवाई क्यों? लोगों ने मध्य प्रदेश पुलिस द्वारा उठाए गए इस कदम को गलत बताया और कांस्टेबल के समर्थन में पूरा देश उतर आया। खुद राकेश राणा ने कहा कि, 'मैं निलंबन का सामना कर सकता हूं, लेकिन मूंछें नहीं कटवा सकता, क्योंकि मैं राजपूत हूं और ये मेरे आत्मसम्मान और स्वाभिमान से भी जुड़ी है।'

कांस्टेबल राकेश को मिला एडीजी का साथ

वहीं, अब राकेश राणा (Rakesh Rana) की जिद के आगे विभाग भी झुक गया है। निलंबन के तीन दिन बाद एडीजी अनिल कुमार ने राणा को नौकरी जॉइन करने के आदेश दे दिए है। 7 जनवरी को AIG प्रशांत शर्मा ने राकेश राणा के सस्पेंशन का ऑर्डर जारी किया था। एडीजी अनिल कुमार द्वारा मौखिक तौर पर नौकरी जॉइन करने के आदेश के बाद राकेश राणा ने ड्यूटी पर लौट गए हैं। विभागीय जानकारों का कहना है कि राणा को गलत तरीके से सस्पेंड किया गया था। स्पेशल डीजी कार्रवाई के लिए एडीजी अनिल कुमार से कह सकते थे, लेकिन सीधे आदेश जारी कर दिए गया, जो गलत था।

भोपाल के अभिनंनद से मशहूर

राकेश राणा ने बताया कि वे 2007 से पुलिस सेवा में हैं। 2010 से वे ऐसी ही मूंछें रख रहे हैं। 14 साल में किसी अधिकारी ने उनकी मूंछों के डिजाइन को लेकर कोई आपत्ति नहीं जताई। राणा की मूंछों (Rakesh Rana Mustache) की डिजाइन एयरफोर्स के ग्रुप कैप्टन अभिनंदन से मेल खाता है। राकेश राणा ने बताया कि उनके मूछों के कारण उनके साथी उन्हें भोपाल का अभिनंदन कहकर पुकारते। राणा बताते हैं कि लोग उनकी मूंछों की तारीफ ही करते हैं।

गौरतलब है कि पुलिस विभाग में दाढ़ी रखने का नियम नहीं है। सिर्फ सिख अधिकारियों को ही दाढ़ी रखने की इजाजत हैं। इसके अलावा, अन्य किसी कर्मचारी को लंबी दाढ़ी रखने के लिए इजाजत लेनी होती है। इसके अलावा, मूंछों को लेकर ऐसा कोई प्रावधान नहीं है। कई राज्यों में पुलिसकर्मियों को मूंछों की देखभाल के तौर पर भत्ता भी दिया जाता है।

Next Story

विविध