राष्ट्रीय

UP : होटल में कांड करते रंगे हाथ पकड़े गये सीओ उन्नाव कृपाशंकर व महिला सिपाही सस्पेंड, किरकिरी के बाद लिया गया फैसला

Janjwar Desk
10 July 2021 3:20 AM GMT
UP : होटल में कांड करते रंगे हाथ पकड़े गये सीओ उन्नाव कृपाशंकर व महिला सिपाही सस्पेंड, किरकिरी के बाद लिया गया फैसला
x

घर जाने के लिए छुट्टी लेकर सीओ महिला सिपाही के साथ होटल पहुँच गये जहां उनकी पत्नी ने कृपा बरसाते रंगे हाथ उन्हें पकड़ा था.

एसपी ने सीओ के साथ होटल में मिली महिला आरक्षी को निलंबित कर दिया। एसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया कि महिला आरक्षी के खिलाफ विभागीय जांच भी करवाई जाएगी। बताया जा रहा है कि सीओ चिकित्सीय अवकाश लेकर छुट्टी पर चले गए हैं...

जनज्वार, उन्नाव/कानपुर। यूपी के उन्नाव (Unnao) में चर्चा का केंद्र बना सीओ व महिला सिपाही का होटल कांड मामले में शुक्रवार देर शाम कार्रवाई कर दी गई। विभाग की तमाम किरकिरी के बाद पुलिस महानिदेशक ने मामले को संज्ञान में लेते हुए शुक्रवार देर शाम सीओ को निलंबित कर दिया। वहीं जांच को कानपुर स्थानांतरित कर दिया गया है।

एसपी उन्नाव ने आरोपी सीओ को एसपी (SP) कार्यालय में सम्बद्ध कर जांच एएसपी को सौंपी थी। मगर प्रकरण कानपुर से संबंधित होने से इसे स्थानांतरित किया गया। एसपी ने महिला आरक्षी को निलंबित कर दिया है। बता दें कि बीघापुर में तैनात सीओ कृपाशंकर ने 3 दिन पहले घर जाने के लिए एसपी आनंद कुलकर्णी से छुट्टी ली थी। लेकिन घर जाने की बजाय सीओ महिला आरक्षी के साथ कानपुर के मंदाकिनी होटल पहुंच गए।

इस दौरान सीओ का सीयूजी (CUG) व निजी मोबाइल बंद होने पर पत्नी ने हत्या की आशंका जता एसपी आनंद कुलकर्णी से मदद मांगी थी। एसपी ने सर्विलांस के जरिए मोबाइल की लोकेशन निकलवाई तो मामला प्रकाश में आ गया था। एसपी ने एएसपी शशि शेखर सिंह को मामले की जांच दी थी।

वहीं एसपी ने सीओ के साथ होटल (HOTEL) में मिली महिला आरक्षी को निलंबित कर दिया। एसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया कि महिला आरक्षी के खिलाफ विभागीय जांच भी करवाई जाएगी। बताया जा रहा है कि सीओ चिकित्सीय अवकाश लेकर छुट्टी पर चले गए हैं। उधर महिला आरक्षी भी तीन दिन का अवकाश लेकर जा चुकी है।

मामले में शुक्रवार 9 जुलाई को होटल का एक वीडियो सोशल मीडिया (Social Media) पर खूब वायरल हुआ। यहां तक की कुछ लोगों ने बिना जांच पड़ताल किए वीडियो को जोड़कर सीओ मामले को बढ़ चढ़कर प्रसारित किया जाता रहा। वायरल अश्लील वीडियो को लेकर लोगों में तरह तरह की चर्चाओं का सिलसिला जारी रहा।

छुट्टी पर गई महिला आरक्षी ने मामले की पेशबंदी शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि सीओ कृपाशंकर (Kripashankar) महिला आरक्षी पर दबिश पर चलने का दबाव बनाकर कानपुर ले गए थे। उधर, महिला आरक्षी से इस प्रकरण में वकील के माध्यम से सीओ पर केस दर्ज करवाने की तैयारी चल रही है। सूत्रों के मुताबिक महिला आरक्षी के वकील ने शिकायती पत्र तैयार कर एसपी को सौंपने की भी प्रक्रिया शुरू कर दी है।

Next Story

विविध

Share it