Top
उत्तर प्रदेश

जंगलराज : UP के सीतापुर में छेड़छाड़ से तंग आकर 9वीं की छात्रा ने लगायी फांसी, पिता ने पुलिस को बताया दोषी

Janjwar Desk
20 March 2021 11:55 AM GMT
जंगलराज : UP के सीतापुर में छेड़छाड़ से तंग आकर 9वीं की छात्रा ने लगायी फांसी, पिता ने पुलिस को बताया दोषी
x
पिता ने मामले की तहरीर काजी कमालपुर पुलिस चौकी को दी थी, सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन महज रस्म अदायगी कर मौके से चली गई, छात्रा के पिता ने थाने पहुंचकर भी पुलिस को तहरीर दी, लेकिन इसके बाद भी आरोपी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की ​थी...

जनज्वार, सीतापुर। उत्तर प्रदेश के सीतापुर स्थित थाना इमलिया सुल्तानपुर इलाके में छेड़छाड़ से आहत होकर एक छात्रा ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। छात्रा ने देर रात फांसी लगाई, परिजनों को उसका शव घर के कमरे में ही फंदे पर लटकता मिला। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंच गई है। इमलिया सुल्तानपुर गांव की रहने वाली 15 साल की किशोरी कक्षा 9 की छात्रा थी।

बताया जा रहा है कि 17 मार्च को वह स्कूल से पढ़कर स्कूटी से घर जा रही थी। इस बीच वह काजी कमालपुर से कुसुमा को जाने के लिए मुड़ी। आरोप है कि रास्ते में गांव का ही रहने वाला छोटू आ गया और उसने स्कूटी रोक ली। वह छात्रा का स्कूल बैग छीनकर छेड़छाड़ करने लगा। इसको लेकर छात्रा ने काफी विरोध किया। दोनों के बीच काफी विवाद हुआ।

इसके बाद छात्रा वहां से घर चली आई और पूरी बात परिवार को बताई। पिता ने मामले की तहरीर काजी कमालपुर पुलिस चौकी को दी। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन महज रस्म अदायगी कर मौके से चली गई। छात्रा के पिता ने थाने पहुंचकर पुलिस को तहरीर दी लेकिन इसके बाद भी पुलिस ने आरोपी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की।

शुक्रवार 19 मार्च को छात्रा फिर स्कूल से पढ़कर स्कूटी से घर जा रही थी। उसके साथ उसी जगह पर दोबारा युवक ने छेड़खानी की। किसी तरह से आरोपी के चंगुल से छूटने के बाद किशोरी घर पहुंची। परिवार को फिर से आपबीती बताई। रात में अपनी बहन के साथ कमरे में करीब 11 बजे तक उसने पढ़ाई की। उसके बाद परिवार के सभी लोग सो गए। देर रात उसने कमरे में ही फांसी लगा ली। जिससे उसकी मौत हो गई।

आज सुबह किशोरी का शव फंदे पर लटकता देख परिवार में कोहराम मच गया। पुलिस को सूचना दी गई। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची। किशोरी की खुदकुशी के बाद हरकत में आई काजी कमालपुर चौकी पुलिस ने फिलहाल आरोपी को हिरासत में ले लिया है। घटना को लेकर परिवार ने पुलिस पर संगीन आरोप जड़े। मृतका के परिवार का कहना है कि घटना को लेकर अगर पुलिस पहले ही चेत जाति और समय रहते आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करती तो शायद उनकी बेटी जिंदा होती।

छेड़छाड़ और पुलिसिया कार्रवाई न होने से आहत होकर किशोरी ने जान दे दी है। एसओ इमलिया सुल्तानपुर संत कुमार सिंह ने बताया कि मामले में जांच की जा रही है। तहरीर के आधार पर केस दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

Next Story

विविध

Share it