समाज

कोरोना वायरस का कहर : पंजाब से प्रभावित देशों की यात्रा करने वाले 925 लोगों का पता नहीं

Janjwar Team
9 March 2020 12:17 PM GMT
कोरोना वायरस का कहर : पंजाब से प्रभावित देशों की यात्रा करने वाले 925 लोगों का पता नहीं
x

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि जिन 925 लोगों का अभी तक पता नहीं चल पाया है, उनकी पहचान के लिए काम किया जा रहा है। लेकिन अभी तक इस बारे में हम सफल नहीं हो पाए हैं...

चंडीगढ़ से मनोज ठाकुर की रिपोर्ट

जनज्वार ब्यूरो। पंजाब से कोरोना वायरस प्रभावित देशों में यात्रा करने वाले 5950 लोगों में से 925 लोगों का पंजाब का स्वास्थ्य विभाग अभी तक पता नहीं लगा पाया। इन लोगों की लिस्ट केंद्र की ओर से पंजाब को सौंपी गयी थी। इन लोगों ने उन देशों में यात्रा की थी, जहां कोरोना वायरस का प्रभाव है। इसलिए इन सभी यात्रियों की जांच के साथ-साथ उनकी निगरानी भी की जानी थी।

पंजाब सरकार ने केंद्र को जानकारी देते हुए कहा कि अभी तक अमृतसर और मोहाली एचरपोर्ट पर 51,644 और 5605 यात्रियों की स्क्रिनिंग की गयी है। पंजाब के फूड और ड्रग्ज प्रबंधन कमिश्नर के एस पन्नू ने बताया कि प्रदेश के सभी ड्रग कंट्रोल आफिसर को निर्देश दिए कि वह मास्क और सेनिटाइजर की कमी न होने दे। उन्होंने इस पर करीबी से नजर रखने के भी निर्देश दिए हैं।

विभाग के अधिकारियों ने बताया कि जिन 925 लोगों का अभी तक पता नहीं चल पाया है, उनकी पहचान के लिए काम किया जा रहा है। लेकिन अभी तक इस बारे में हम सफल नहीं हो पाए हैं। अब क्योंकि पंजाब में कई जगह कोरोना वायरस के सदिग्धों की संख्या बढ़ रही है। इसलिए इनकी पहचान करना जरूरी हो गया है। उन्होंने बताया कि ऐसा लग रहा है कि जो लिस्ट केंद्र की ओर से आयी, इसमे इनके नाम पते सही नहीं है। इस वजह से यह लोग नहीं मिल रहे हैं।

संबंधित खबर : कोरोना वायरस की चंडीगढ़ में दस्तक, पीजीआई में भर्ती कराए गए दो संदिग्ध मरीज

टियाला में एक मरीज खुद सिविल अस्पताल में पहुंचा। सिविल सर्जन डाक्टर हरीश मल्हौत्रा ने बताया कि यह व्यक्ति साउथ कोरिया से अभी आया था। यहां आते ही वह तुरंत सिविल अस्पताल में पहुंचा है। इसके सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिए हैं। मरीज को निगरानी में रखा गया है। अभी शुरूआती स्तर पर मरीज ठीक नजर आ रहा है।

धर हिमाचल में भी कोरोना वायरस को लेकर चौकसी बरती जा रही है। धर्मशाला में दलाईलामा टेंपल और ग्यूतो मोनेस्ट्री में एक माह के लिए पर्यटकों व आम लोगों की आवाजाही पर रोक लगा दी है। एक माह के बाद भी स्थिति का जायजा लेकर ही आगे क्या करना है इसका निर्णय लिया जाएगा। हिमाचल में अभी तक कोरोना को कोई मामला सामने नहीं आय है। जो तीन संदिग्ध मरीज सामने आए थे। उनके सैंपल में रिपोर्ट नेगेटिव है।

में भी कोरोना वायरस को लेकर लोगों में दशहत का माहौल बना हुआ है। बाजार में मास्क और सेनिटाइजर की मांग बढ़ गयी है। हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने बताया कि मास्क व सेनिटाइजर की काला बाजारी करने वालों पर नजर रखी जा रही है। यदि कहीं भी गड़बड़ मिली तो उसके खिलाफ ठोस कार्यवाही की जाएगी।

संबंधित खबर : पराली जागरूकता अभियान के नाम पर 4 महीनों में लड्डू, समोसों पर खर्च किए 40 लाख रुपए

न्होंने यह भी बताया कि प्रदेश में स्वास्थ्य विभाग अलर्ट मोड पर है। लोगो से अपील की कि वह डरे नहीं। बस सावधानी रखे। यदि किसी को किसी भी तरह की दिक्कत है तो वह अपने जिला के अस्पताल से तुरंत संपर्क कर सकता है।

Next Story

विविध

Share it