Top
अंधविश्वास

बिहार में डायन बताकर 65 साल की महिला को किया अधमरा, हालत गंभीर

Prema Negi
9 March 2020 7:36 AM GMT
बिहार में डायन बताकर 65 साल की महिला को किया अधमरा, हालत गंभीर

मजदूरी करके लौटे शख्स की बिगड़ी तबीयत तो पड़ोसी बुजुर्ग महिला को डायन बताकर लाठी-डंडों के साथ टूट पड़े आधा दर्जन लोग, ओझा ने बताया था बुजुर्ग महिला है डायन और उसने टोटके से किया है बीमार...

जनज्वार। अंधविश्वास और महिलाओं का भारतीय समाज में खास रिश्ता है। अंधविश्वास की सबसे ज्यादा शिकार भी महिलायें ही बनती हैं और इसे फैलाने में भी उनकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है। ऐसा इसलिए क्योंकि हमारा समाज अभी तक उन्हें इतना जागरुक नहीं कर पाया है और शिक्षा का वह मॉडल विकसित नहीं कर पाया है कि वह पुरुष वर्चस्ववादी सत्ता के चंगुल से बाहर निकल पायें। डायन के नाम पर बड़ी संख्या में महिलाओं की हत्या और लिंचिंग की खबरें समाज में आम हो गयी हैं।

यह भी पढ़ें : अंधविश्वास खत्म करने वाला 10 करोड़ का बजट खत्म करेगी महाराष्ट्र सरकार

सा ही एक मामला अब बिहार में सामने आया है। पटना के बिहटा थाना क्षेत्र के कंचनपुर गांव में एक 65 वर्षीय बुजुर्ग महिला को डायन बताकर ग्रामीणों ने अधमरा कर दिया। यह घटना 2—3 दिन पहले की बतायी जा रही है।

जानकारी के मुता​बिक कंचनपुर गांव में एक महिला के बेटे की तबीयत बिगड़ी तो उसने आरोप लगाया कि सेवा राम की 65 वर्षीय बुजुर्ग पत्नी सुगिया देवी डायन और उसी ने जादू-टोना किया है, जिस कारण उसका बेटा बीमार हो गया है। यह बात उसने पड़ोसियों को बतायी। अंधविश्वास में आकर पड़ोसियों ने 65 साल की बुजुर्ग महिला पर रहम नहीं खाया, बल्कि उसे बुरी तरह पीटा। पिटाई में बुजुर्ग महिला अधमरी हो गयी। किसी तरह कुछ ग्रामीणों के बीचबचाव करने पर बुजुर्ग महिला की जान बच पायी।

भी पढ़ें : कोरोना से बचने के लिए कानपुर में हुआ हवन, लोग बोले वायरस से बचाएंगे बजरंग बली

बुजुर्ग महिला को डायन के नाम पर बुरी तरह पीटने की शिकायत लेकर सुगिया देवी का पोता उन्हें जख्मी हालत में बिहटा थाना लेकर पहुंचा, जहां उसने पुलिस से मदद की गुहार लगाई। पिटाई से लहुलूहान हुई बुजुर्ग महिला सुगिया की गंभीर हालात देखकर पुलिस ने उसे इलाज के लिए अस्पताल भेजा। महिला की हालत अभी गंभीर बनी हुयी।

पुलिस के पास दर्ज की गयी शिकायत में डायन के नाम पर पीटी गयी महिला सुगिया के पोते ने पुलिस को बताया कि उनके पड़ोसी का बेटा मजदूरी करता है। जब वह मजदूरी करने के बाद घर लौटा तो उसकी तबीयत बिगड़ गई। पड़ोसी उसे बजाय डॉक्टर के पास ले जाने के एक ओझा के पास ले गए। ओझा ने उन्हें झाड़ फूंक के बाद उन्हें बताया कि डायन के जादू के कारण यह बीमार हुई है। इतना ही नहीं ओझा ने ही बताया कि सुगिया देवी डायन है और उसी ने जादू से इसे बीमार किया है।

यह भी पढ़ें - अंधविश्वास: करंट की चपेट में आया युवक, इलाज की बजाय गोबर में दबाने से हुई मौत

झा की बात पर यकीन कर पड़ोसी तकरीबन आधा दर्जन लोगों के साथ सुगिया देवी के घर पहुंच गये। बगैर कोई बातचीत किये उन लोगों ने 65 साल की बुजुर्ग महिला पर धावा बोल दिया। उन लोगों ने सुगिया देवी पर लाठी-डंडों और ईंटों से वार किया, जिससे उसकी हालत काफी बिगड़ गयी।

अंधविश्वास की हाइट छूती इस घटना के संबंध में बिहटा पुलिस का कहना है कि हमने गंभीर हालत में पीड़ित महिला को अस्पताल में भर्ती कर दिया है। घटना की जांच-पड़ताल कर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी। फिलहाल हम मामले की जांच कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें : ‘मासिक धर्म के दौरान खाना बनाने वाली स्त्री का होता है कुतिया के रूप में पुनर्जन्म’

ब बिहटा एसएचओ अवधेश कुमार से जनज्वार ने जानना चाहा कि इस मामले में क्या कार्रवाई की गयी है, तो उन्होंने कहा हम मामले की जांच कर रहे हैं और एफआईआर दर्ज कर ली गयी है। साथ ही यह भी कहा कि एक बुजुर्ग महिला को पीटे जाने का मामला जरूर सामने आया है, मगर पिटाई क्यों की गयी, यह हम अभी नहीं बता सकते। हालांकि उन्होंने यह बताने से साफ इंकार कर दिया कि एफआईआर में पीड़ित पक्ष ने क्या शिकायत दर्ज करायी है। अलबत्ता यह जरूर कहा कि एफआईआर में तो कोई भी आरोप लगा दिया जाता है, यह हम जांच के बाद बता पायेंगे कि असल मामला क्या था।

संबंधित खबर — शर्मनाक : मोदी के गुजरात में 68 छात्राओं के कपड़े उतारकर माहवारी दिखाने का मामला आया सामने, पुलिस ने शुरू की जांच

Next Story

विविध

Share it