Top
राजनीति

आरोग्य सेतु एप में फिर लगी सेंध, इस बार पाकिस्तानी हैंडलर्स ने किया हैक

Prema Negi
29 May 2020 4:30 AM GMT
आरोग्य सेतु एप में फिर लगी सेंध, इस बार पाकिस्तानी हैंडलर्स ने किया हैक
x

दिल्ली पुलिस द्वारा जारी अलर्ट में सभी अफसरों-कर्मचारियों से पाकिस्तानी हैंडलर्स द्वारा डवलप किये गये आरोग्य सेतु से बचने की सलाह दी गयी है, ऐसे में बड़ा सवाल पहचान कैसे हो?

जनज्वार। खुफिया तंत्र के पास सीमा पार से आये एक इनपुट ने वर्दी वालों के होश उड़ा दिये हैं। पता चला है कि हमारे देश में कोविड-19 से जूझने मे मददगार साबित हो रहा 'आरोग्य सेतु एप्लीकेशन' कुछ पाकिस्तानी हैंडलर्स ने भी तैयार कर लिया है। चूंकि हिंदुस्तानी आरोग्य सेतु एप्लीकेशन को हर वर्दीधारी को भी डाउनलोड करना है, लिहाजा ऐसे में सबसे ज्यादा चिंता बढ़ी है दिल्ली पुलिस की। लिहाजा वक्त रहते ही दिल्ली पुलिस के खुफिया तंत्र ने इस बाबत एक 'विशेष अलर्ट नोट' जारी कर दिया है।

यह भी पढ़ें : आरोग्य सेतु ऐप से हो रहा विदेशी दवा कंपनियों का प्रचार : केमिस्ट एसोसिएशन का आरोप

जारी अलर्ट में दिल्ली पुलिस के सभी अफसरों-कर्मचारियों से पाकिस्तानी हैंडलर्स द्वारा डवलप किये गये आरोग्य सेतु से बचने की सलाह दी गयी है। दिल्ली पुलिस स्पेशल ब्रांच द्वारा जारी इस अलर्ट में साफ-साफ कहा गया है कि, दिल्ली पुलिस महकमे का कोई भी अधिकारी—कर्मचारी हिंदुस्तानी आरोग्य सेतु एप्लीकेशन डाउनलोड जरुर करें, मगर सावधानी बहुत बरतें। ताकि कहीं ऐसा न हो कि वे किसी संदिग्ध एप्लीकेशन को डाउनलोड करके जाने-अनजाने किसी मुसीबत में फंस जायें।

यह भी पढ़ें : सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज ने ‘आरोग्य सेतु’ पर उठाए सवाल, पूछा अगर डेटा लीक हुआ तो जिम्मेदार कौन होगा?

स सब सतर्कता और एहतियाती कदम उठाये जाने के पीछे प्रमुख वजह सीमापार बताई जा रही है। भारतीय खुफिया एजेंसियों को आशंका है कि, कुछ पाकिस्तानी हैंडलर्स ने भी हू-ब-हू हिंदुस्तानी एप्लीकेशन से मिलता जुलता 'आरोग्य सेतु एप्लीकेशन' बना लिया। इसके पीछे हिंदुस्तानी एजेंसियां हांलांकि अभी कुछ खुलकर तो नहीं बोल रही हैं। मगर हर कदम फूंक फूंक कर पूरे मामले की जड़ में पहुंचने के लिए भारतीय पुलिस को अलर्ट जरुर कर दे रही हैं। ताकि कहीं हमारी फोर्स (पुलिस) का कोई जवान या अधिकारी पाकिस्तानी हैंडलर्स की जद में न आ जाये।

यह भी पढ़ें : आरोग्य सेतु ऐप के 9 करोड़ यूजर्स की प्राइवेसी खतरे में, जानिए क्या है पूरा मामला

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल (खुफिया शाखा) द्वारा जारी इस विशेष अलर्ट में सीधे सीधे अपने महकमे को ही अलर्ट रहने का आगाह किया गया है। माना जा रहा है कि अगर विदेशी हैंडलर्स द्वारा बना लिये गये इस ऐप के जरिये हमारी फोर्स के कर्मचारियों के मोबाइल में एक्सेस मिल गया तो बेहद नुकसानदेह साबित हो सकता है, क्योंकि संबंधित पुलिस अफसर या जवान के मोबाइल में एक्सेस मिलते ही उसके फोन का डेटा सेंकेंड्स में असुरक्षित हाथों में पहुंचने की प्रबल संभावनाएं बन सकती हैं।

यह भी पढ़ें : राहुल गांधी ने आरोग्य सेतु एप पर उठाए सवाल, ‘लोगों के डर का फायदा नहीं उठाना चाहिए”

दिल्ली पुलिस खुफिया विभाग के इस अलर्ट में आरोग्य सेतु को अनिवार्य रूप से डाउनलोड तो करने की सलाह दी गयी है, मगर बेहद सतर्कता पूर्वक। ताकि कहीं किसी भी तरह के धोखे की गुंजाइश ही बाकी न रहे। इस अलर्ट में कहा गया है कि दिल्ली पुलिस महकमे में कार्यरत अफसर जवान मिलते जुलते लिंक पर भी क्लिक न करें। सावधानीपूर्वक पहले एप्लीकेशन को देखें उसके बाद ही भारत सरकार के अधिकृत आरोग्य सेतु एप्लीकेशन लिंक को क्लिक करके डाउनलोड करें।

सी बेहद खुफिया पत्र में महकमे के कर्मचारियों को सलाह दी गयी है कि वे ड्यूटी पर तभी पहुंचें जब उन्हें आरोग्य सेतु में उसका स्टेटस एकदम सुरक्षित दिखाई दे रहा हो। जोखिम वाला या मॉडरेट स्टेटस दिखाई देने पर तुरंत विभागीय उच्चाधिकारियों के संज्ञान में भी लाना जरुरी है।

Next Story
Share it