Top
राजनीति

भीम आर्मी के चंद्रशेखर आये जेल से बाहर, कहा जब तक मैं जिंदा हूं तब तक कोई संविधान विरोधी कानून नहीं होगा लागू

Prema Negi
16 Jan 2020 5:48 PM GMT
भीम आर्मी के चंद्रशेखर आये जेल से बाहर, कहा जब तक मैं जिंदा हूं तब तक कोई संविधान विरोधी कानून नहीं होगा लागू
x

जेल से बाहर आते ही गरजे भीम आर्मी चीफ, कहा बाबा साहब के संविधान को हम सब मिलकर बचाएंगे, किसी को डरने की जरूरत नहीं है, जब तक मैं जिंदा हूं तब तक कोई संविधान विरोधी कानून लागू नहीं होगा....

जनज्वार। CAA-NRC के खिलाफ हुए प्रदर्शन के दौरान जामा मस्जिद इलाके से गिरफ्तार किये गये भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद को आज 16 जनवरी की शाम को जेल से ​रिहा कर दिया गया है। आजाद के खिलाफ धारा 147, 148, 149, 186 और 120 बी के तहत मामला दर्ज किया गया था।

अपने ट्वीटर हैंडल पर इस खबर को साझा करते हुए चंद्रशेखर आजाद ने लिखा है, 'दोस्तो जय भीम, मैं वापिस आ गया हूँ आपका प्यार साथ है तो किसी जेल की परवाह नहीं। बाबा साहब के संविधान को हम सब मिलकर बचाएंगे, किसी को डरने की जरूरत नहीं है। जब तक मैं जिंदा हूं तब तक कोई संविधान विरोधी कानून लागू नहीं होगा। जय भीम, जय संविधान,जय भारत #RavanisBack'

यह भी पढ़ें : 14 दिन की न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल भेजे गए चंद्रशेखर आजाद, उदित राज बोले सरकारी टूल बनकर काम कर रही न्यायपालिका

photo : twitter

रिहा होने के बाद भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि मैं कल यानी 17 जनवरी को दोपहर 1 बजे जामा मस्जिद का दौरा करूंगा। बाद में मैं रविदास मंदिर, एक गुरुद्वारा और एक चर्च भी जाऊंगा।

संबंधित खबर : पश्चिम बंगाल में अपने साथियों के साथ लुंगी टोपी पहनकर पत्थरबाजी करता पकड़ा गया बीजेपी कार्यकर्ता

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद को दरियागंज हिंसा मामले में दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट से कल 15 जनवरी को जमानत मिल गई थी। CAA-NRC के खिलाफ दिल्ली के दरियागंज में हुई हिंसा के मामले में चंद्रशेखर आजाद को गिरफ्तार किया गया था। कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि चंद्रशेखर 16 फरवरी तक किसी भी तरह से कोई प्रदर्शन नहीं करेंगे। इसके अलावा कोर्ट ने शाहीन बाग में चल रहे आंदोलन में शामिल होने से उन पर रोक लगाई गयी है, मगर चंद्रशेखर आजाद का जेल से बाहर आते ही यह घोषणा करना कि वे कल जामा मस्जिद इलाके में जायेंगे, कोर्ट के आदेश का उल्लंघन भी होगा।

सके अलावा कोर्ट ने चंद्रशेखर आजाद को चार हफ़्ते के लिए दिल्ली छोड़ने के लिए कहा है। साथ ही उन्हें चार हफ्ते तक हर शनिवार को सहारनपुर थाने में जाकर हाजिरी लगाने के लिए कहा गया है।

चंद्रशेखर आजाद की रिहाई के बाद वरिष्ठ पत्रकार दिलीप मंडल ने ट्वीट किया है, 'आदेश है कि @BhimArmyChief प्रदर्शन में हिस्सा नहीं लेंगे। अब कौन नहीं जानता कि आजाद जहां खड़े होते हैं, वहीं प्रदर्शन हो जाता है। 200 कारों के काफिले में आजाद इस समय दिल्ली की सड़कों पर है।'

Next Story

विविध

Share it