Top
उत्तर प्रदेश

बीमार बेटे को चारपाई पर लेकर लुधियाना से मध्य प्रदेश पैदल ही चल पड़ा भूखा-प्यासा पिता

Raghib Asim
16 May 2020 4:20 AM GMT
बीमार बेटे को चारपाई पर लेकर लुधियाना से मध्य प्रदेश पैदल ही चल पड़ा भूखा-प्यासा पिता
x

जनज्वार। लॉकडाउन में काम-धंधे बंद हो गए है, जिसके चलते प्रवासी मजदूर अपने-अपने राज्यों को लौट रहे है। जिसके चलते हरदिन हाईवे पर दिल को झकझोर देने वाली तस्वीरें और वीडियो देखने को मिल रहे है। एक ऐसी तस्वीर उत्तर प्रदेश के कानपुर स्थित रामदेवी हाईवे पर दिखी। यहां एक पिता अपने बीमार बेटे को चारपाई पर लिटाकर लुधियाना से मध्य प्रदेश की तरफ ले जा रहे है।

संबंधित खबर : 15 जनवरी से 23 मार्च तक विदेश से आने वाले सिर्फ 19% यात्रियों की हुई स्क्रीनिंग, RTI से बड़ा खुलासा

ध्य प्रदेश के सिंगरौली गांव निवासी राजकुमार लुधियाना में मजदूरी करते थे और वहीं पर परिवार के साथ रहते थे। लॉकडाउन के चलते फैक्ट्री बंद हो गई तो उनके सामने रोटी का संकट खड़ा हो गया। स्थानीय प्रशासन से मदद की गुहार लगाई लेकिन सहयोग नहीं मिला। जिसके कारण राजकुार ने अपने अन्य 18 साथियों के साथ पैदल ही घर जाने का बीडा उठाया।

संबंधित खबर : कोरोना वायरस का कहर- पंजाब से प्रभावित देशों की यात्रा करने वाले 925 लोगों का पता नहीं

राजकुमार ने बताया कि उनका 15 वर्षीय बेटा बृजेश बीमार था। गर्दन में चोट होने के कारण उसका पैदल चलना मुमकिन नहीं था। इसलिए उन्होंने बेटे को चारपाई में लिटाने के बाद उसमें रस्सी के सहारे एक बल्ली बांधी। परिवार के साथ गांव के लोगों के मिलाकर कुल 18 लोग थे जो बारी-बारी से उस चारपाई को कंधे पर उठाकर बीमार बेटे को अपने साथ पैदल लेकर घर जा रहे थे। रास्ते में उन्होंने करीब 50 किमी. का सफर वाहन से तय किया।

Next Story
Share it