Top
आंदोलन

NRC और CAB के खिलाफ असम की सड़कों पर उतरे लोग, 10 जिलों में लगाया गया कर्फ्यू

Nirmal kant
11 Dec 2019 3:03 PM GMT
NRC और CAB के खिलाफ असम की सड़कों पर उतरे लोग, 10 जिलों में लगाया गया कर्फ्यू
x

एनआरसी और नागरिक संशोधन विधेयक के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग, दस जिलों मे लगाया गया कर्फ्यू, इंटरनेट सेवाओं को किया गया बंद..

जनज्वार। गुवाहाटी में हजारों की संख्या में नागरिकता संशोधन विधेयक और एनआरसी के खिलाफ हजारों की संख्या में लोग सड़कों पर विरोध प्रदर्शन के लिए निकले। इसके बाद प्रदर्शनकारियों और पुलिसकर्मियों के बीच झड़प हुई। गुवाहाटी समेत असम के 10 जिलों में कर्फ्यू लगा दिया गया। साथ ही मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को 24 घंटे के लिए बंद कर दिया गया। राज्य सरकार के अधिकारियों का कहना है कि असम में शांति और कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए इंटरनेट सेवाओं को बंद किया जा रहा है।

संबंधित खबर : ‘यूनाइटेड अगेंस्ट हेट’ की NRC और CAB को लेकर चेतावनी, कानून बना तो देश के कोने-कोने में जाकर करेंगे विरोध प्रदर्शन

तिरिक्त मुख्य सचिव कुमार संजय कृष्ण द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार, लखीमपुर, धेमाजी, तिनसुकिया, डिब्रूगढ़, चरसदेव, शिवसागर, जोरहाट, गोलाघाट, कामरूप (मेट्रो) और कामरूप में इंटरनेट सेवाएं निलंबित रहेंगी।

ने कहा गया है कि विरोध प्रदर्शन को भड़काने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे फेसबुक, व्हाट्सएप, ट्विटर और यूट्यूब आदि का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके जरिए फोटो-वीडियो शेयर कर अफवाहें फैलाने की आशंका को लेकर इंटरनेट सेवाओं को निलंबित किया जा रहा है।

नागरिकता संशोधन विधेयक को लोकसभा द्वारा पारित किए जाने के बाद असम के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शनों के साथ तोड़फोड़ की घटनाएं भी हुई हैं। नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी असम की सड़कों पर उतर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प की भी खबरे सामने आ रही हैं। कई जगहों पर प्रदर्शनकारियों पर काबू पाने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे और लाठीचार्ज भी किया।

खबर : विश्व मीडिया ने कहा मुसलमानों को दोयम दर्जे का नागरिक बनाने के लिए मोदी सरकार ला रही नागरिकता संशोधन बिल

नागरिकता संशोधन विधेयक पर हो रहे भारी प्रदर्शन के बीच त्रिपुरा में बुधवार 11 दिसंबर को सेना बुला ली गई और असम में सेना की टुकड़ी को तैयार रखा गया है। सेना के एक प्रवक्ता ने शिलांग में कहा कि सेना की एक एक टुकड़ी को त्रिपुरा के कंचनपुर और मनु में तैनात किया गया है। जबकि असम के बोंगाईगांव और डिब्रूगढ़ में किसी भी स्थिति से निपटने के लिए एक अन्य टुकड़ी को तैयार रहने को कहा गया है।

Next Story

विविध

Share it