Top
समाज

प्रयागराज में छात्र को अगवा कर रेलवे ट्रैक पर फेंका, दोनों हाथ कटे

Vikash Rana
22 Feb 2020 8:46 AM GMT
प्रयागराज में छात्र को अगवा कर रेलवे ट्रैक पर फेंका, दोनों हाथ कटे
x

हादसे के बाद आसपास के लोगों की सूचना मिलने पर कोहराम मच गया। मौके पर पुलिस अफसरों के साथ स्थानीय पुलिस ने पहुंचकर खून का सेंपल लेकर वारदात की जांच में जुट गई है...

जनज्वार। उत्तर प्रदेश में एक बार फिर दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। प्रयागराज में उतरांव थाना क्षेत्र के शिवपुर गांव में बदमाशों ने एक नाबालिग छात्र का हाथ बांधकर उसे रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया। हादसे में छात्र के दोनों हाथ कट गए। छात्र का कहना है कि दो लोगों ने उसका अपहरण कर लिया था। मामले की जांच की जा रही है। हालांकि बाद में उसने बताया कि मालगाड़ी खड़ी थी। वह डिब्बे के बीच से जाने लगा उसी समय ट्रेन चलने से उसके हाथ चपेट में आ गया।

शिवपुर गांव निवासी रामआसरे पाल का बेटा आशीष कुमार पाल हंडिया कस्बे के एक प्राइवेट स्कूल में कक्षा चार का छात्र है। वह 20 फरवरी की सुबह लगभग 8 बजे स्कूल जाने के लिए घर से साइकिल से निकला था। वह गांव के बगल रेलवे ट्रैक को पार करके जैसै ही आगे निकला बदमाश उसके मुंह पर गमछा बांधकर सड़क से कुछ दूर ट्रैक पर ले गए पहले उसके साथ मारपीट की गई और फिर उसे बांधकर उसे ट्रैक पर फेंक दिया। उसी समय ट्रेन आ गई जिसकी चपेट में आने से आशीष के दोनों हाथ कट गए।

संबंधित खबर: बागपत रेप पीड़िता को मिली धमकी, कोर्ट में दी गवाही तो उन्नाव कांड की तरह जला देंगे

हादसे के बाद आसपास के लोगों की सूचना मिलने पर कोहराम मच गया। मौके पर पुलिस अफसरों के साथ स्थानीय पुलिस ने पहुंचकर खून का सेंपल लेकर वारदात की जांच में जुट गई है। ग्राम सभा मर्दापर के मजरा शिवर गांव के निवासी राम आसर पाल का बेटा आशीष हंडिया स्थित प्रयागराज पब्लिक स्कूल में कक्षा चार का छात्र है।

के बाद आनन-फानन में छात्र को स्वरुपरानी नेहरू अस्पताल में ले जाया गया जहां स्थिति को गंभीर देखते हुए डॉक्टरों ने छात्र का दूसरा हाथ भी काट दिया। वहीं घटना की सूचना मिलने के बाद कुछ ही देर में एसएसपी, एसपी गंगापार समेत अन्य कई थानों की पुलिस भी घटनास्थल पर पहुंचकर छानबीन में जुट गई है।

संबंधित खबर: नाबालिग लड़की के गायब होने की शिकायत लेकर थाने पहुंचे परिजन तो पुलिस ने कहा पहले जमा करो 20,000 रुपये

घटना पर उतरांव थाना के एसपी गंगापार एनके सिंह कहना है कि घटना पर छात्र से पहले पूछताछ की गई थी। जिसमें उसने अपहरण की बात बताई थी। लेकिन जब दूसरी बार उसके साथ सख्ती से बातचीत की गई तो उसने सच स्वीकार करते हुए बताया कि वह सुबह ट्रैक पर एक मालगाड़ी खड़ी थी। जिसको पार करने के लिए उसने साइकिल खड़ी कर डिब्बे के बीच से उस पार जाने की कोशिश करने लगा। लेकिन उसी दौरान ट्रेन च दी और वह उसकी चपेट में आ गया।

Next Story

विविध

Share it