समाज

कानपुर हॉरर : सोती बच्ची को चारपाई समेत उठा रेप और जलाकर मारने के मामले में 3 आरोपी गिरफ्तार

Janjwar Desk
3 July 2021 3:05 AM GMT
कानपुर हॉरर : सोती बच्ची को चारपाई समेत उठा रेप और जलाकर मारने के मामले में 3 आरोपी गिरफ्तार
x

थाना मंगलपुर के जैतापुर गांव में बालिका से रेप के बाद हत्याकर शव जलाने के मामले में तीन हिरासत में लिए गये हैं.

डीएम—एसपी ने गांव पहुँचकर बच्ची के परिजनों से मुलाकात की, अधिकारियों ने सभी आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने का भरोसा दिया था, साथ ही अधिकारियों ने ग्रामीणों से घटना के संबंध में पूछताछ भी की थी...

जनज्वार, कानपुर देहात। यूपी के कानपुर देहात (Kanpur Dehat) स्थित थाना मंगलपुर के गांव जैतापुर में 12 वर्षीय बालिका के साथ क्रूरतम वारदात को अंजाम देने वाले तीन संदिग्ध लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। तीनो गांव के ही रहने वाले हैं जिनसे पुलिस कड़ाई से पूछताछ कर रही है।

इससे पहले शुक्रवार 2 जुलाई को डीएम व एसपी ने गांव पहुँचकर बच्ची के परिजनो से मुलाकात की। अधिकारियों ने सभी आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने का भरोसा दिया था। इसके साथ ही अधिकारियों ने ग्रामीणों से घटना के संबंध में पूछताछ भी की थी।

गौरतलब है कि मंगलवार 30 जून को थाना मंगलवार के गांव जैतापुर में रात को सोती हुई बालिका को आरोपी चारपाई सहित उठा ले गये थे। उसके साथ दुष्कर्म करने के बाद गला घोंटकर हत्या कर दी और शव को आग के हवाले कर दिया था। गुरूवार 1 जुलाई की सुबह बालिका का गांव के बाहर अमरूद के बाग में शव मिला था।

सूचना पाकर एडीजी भानु भास्कर, आईजी मोहित अग्रवाल सहित एसपी देहात केशव कुमार चौधरी भारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुँचे थे। पीड़िता के पिता ने अज्ञात लोगों के खिलाफ दुष्कर्म व हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिस मामले में पुलिस ने शुक्रवार देर शाम तीन संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की है।

बच्ची के शव को जलाकर बाग में फेंका था

पड़ताल के बाद यह साफ हुआ है कि दुष्कर्म करने के बाद हत्या की गई फिर शव को जलाकर बाग में फेंका गया है। क्योंकि जहां शव पड़ा मिला था वहां की घास व आसपास के पेड़ सुरक्षित मिले हैं। जबकि अगर वहां शव को जलाया गया होता तो आसपास के पेड़-पत्तियां झुलसी हुई होतीं। जबकी ऐसा कुछ नहीं पाया गया।

वारदात के बाद जला दिया आधा शरीर

बालिका का शव जिस हालत में मिला था उसमें उसके सिर से लेकर सीने से थोड़ा नीचे तक जला था। चारपाई भी लगभग एक फुट के हिस्से में जली पाई गई थी। एसपी केशव चौधरी के मुताबिक वारदात को कहीं और अंजाम देकर जलाया गया है तथा बाद में लाकर यहां फेंका गया है। शक है की किसी करीबी का हाथ हो सकता है, जो हर एक गतिविधि पर नजर रख रहा था।

सीओ डेरापुर ने बताया कि पकड़े गये संदिग्ध आरोपियों से पूछताछ चल रही है। बाकी गिरप्तारी और जांच के लिए टीमें काम कर रही हैं। पुलिस कई बिंदुओं पर जांच कर रही है। जल्द ही घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।

Next Story

विविध

Share it