समाज

Kanpur News: बीमार युवक को जूनियर डॉक्टर से हुआ एकतरफा प्यार तो पुलिस ने इस तरह उतारा इश्क का बुखार

Janjwar Desk
21 Nov 2022 4:15 PM GMT
बीमार युवक को जूनियर डॉक्टर से हुआ एकतरफा प्यार, पुलिस ने इस तरह उतारा इश्क का बुखार
x

बीमार युवक को जूनियर डॉक्टर से हुआ एकतरफा प्यार, पुलिस ने इस तरह उतारा इश्क का बुखार

Kanpur News: लगातार हर दूसरे दिन एक ही मरीज को बदला हुआ नाम देखकर महिला डॉक्टर (Junior Doctor) को शक हुआ। जिसके बाद उसने अपने सीनियर्स से शिकायत की। शिकायत मिलने के बाद अस्पताल के कर्मचारियों ने आरोपी युवक को पकड़कर पिटाई कर दी...

Kanpur News: उत्तर प्रदेश के कानपुर से बेहद अटपटा मामला सामने आया है। यहां एक मरीज ने कुछ वो कमाल किया जिसके बाद उसे पुलिस (Police) टांग ले गई। बताया जा रहा कि मरीज को एक जूनियर डॉक्टर से इस तरह एकतरफा इश्क हुआ कि वह हर दो दिन बाद नाम बदलकर पर्ची बनवाकर डॉक्टर को दिखाने जाता रहा। मरीज एक दो बार नहीं बल्कि 15 दिनों तक OPD का प्रचा बनवाकर महिला डॉक्टर से इलाज का परामर्श लेने गया।

लगातार हर दूसरे दिन एक ही मरीज को बदला हुआ नाम देखकर महिला डॉक्टर (Junior Doctor) को शक हुआ। जिसके बाद उसने अपने सीनियर्स से शिकायत की। शिकायत मिलने के बाद अस्पताल के कर्मचारियों ने आरोपी युवक को पकड़कर पिटाई कर दी। मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। पकड़े जाने पर आरोपी युवक ने अपनी सफाई में कहा कि, साहब हम तो दवा लेने गये थे, अब दोबारा नहीं जाएंगे।

क्या है पूरा मामला?

युवक की पहचान जाजमऊ निवासी तौफीक के रूप में हुई है। युवक 15 दिन पहले बीमार हुआ था। बीमारी के बाद वह पर्चा बनवाकर कानपुर के हैलट में इलाज कराने पहुँचा। इस दौरान OPD की एक जूनियर महिला डॉक्टर ने मरीज का चेकअप कर दवा लिख दी। लेकिन आरोपी युवक को महिला डॉक्टर से एकतरफा प्यार हो गया। इसके बाद वह 15 दिनों तक ओपीडी का पर्चा बनवाकर महिला डॉक्टर को दिखाने जाने लगा।

इस दौरान युवक अलग-अलग नामों से पर्चा बनवाता रहा। दूसरी तरफ उसे कई दिन से महिला डॉक्टर दिखी नहीं तो युवक उसकी खोजबीन करने लगा और अस्पताल के कर्मचारियों से पूछताछ करने लगा। शक होने पर जूनियर डॉक्टरों ने अपने सीनियर्स से इस बात की शिकायत की।

इस तरह उतरा प्यार का खुमार

अस्पताल कर्मचारियों ने आरोपी युवक की पिटाई करने के बाद पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने तहरीर के आधार पर केस दर्ज कर अदालत में पेश किया। इस कार्रवाई के बाद युवक के दिमाग से प्यार का बुखार उतर गया। आरोपी ने अपनी सफाई में कहा कि वह दवा लेने जाता था, एक या दो बार पर्ची बनवाई। साथ ही युवक ने कहा कि वह अब दोबारा नहीं जाएगा।

ADCP अनीता सिंह ने बताया कि युवक अलग-अलग नामों से कई बार पर्ची बनवाकर अस्पताल में जूनियर डॉक्टर से इलाज कराने के बहाने आता था। इलाज के दौरान वह उसे ताकता था। जूनियर डॉक्टर की शिकायत पर उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। युवक को हिरासत में लेकर आगे की कार्यवाही की जा रही है। पुलिस ने आरोपी तौफीक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

Next Story

विविध