राजनीति

Uttarpradesh Election : फेंकू तो थी ही बेचू भी हो गई सरकार, BJP और योगी पर लगातार हमलावर हैं अखिलेश यादव

Janjwar Desk
14 Oct 2021 8:02 AM GMT
Uttarpradesh Election : फेंकू तो थी ही बेचू भी हो गई सरकार, BJP और योगी पर लगातार हमलावर हैं अखिलेश यादव
x

(अखिलेश यादव अपनी सभाओं में बीजेपी और सीएम योगी पर लगातार हमलावर हैं )

Uttarpradesh Election : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि यूपी में बिजली संकट जो चल रहा है, वह भाजपा की देन है, पता चला है कि भाजपा बिजली महंगी करने वाली है..

Vijay Rathayatra : उत्तरप्रदेश (Uttarpradesh) में अगले साल होनेवाले विधानसभा चुनावों (Assembly Election) को लेकर माहौल धीरे-धीरे गरमा रहा है। सभी दल कील-कांटे दुरुस्त करने में लग चुके हैं। एक तरफ से बयानों के तीर छूट रहे हैं तो दूसरी तरफ से जबाबी गोले दागकर माहौल बनाया जा रहा है। इस बीच समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने विजय रथयात्रा (Vijay Rathayatra) निकाली है। इस यात्रा के दौरान वे सीधे तौर पर बीजेपी और सीएम योगी आदित्यनाथ के प्रति हमलावर हैं।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा है कि यूपी में बिजली संकट जो चल रहा है, वह भाजपा की देन है। उन्होंने कहा, "मुझे आज ही पता चला है कि भाजपा बिजली (Electricity Crisis) महंगी करने वाली है। प्रदेश की भाजपा सरकार की ठोको नीति के कारण अराजक स्थिति है।" कानपुर के जाजमऊ पुल से शुरू हुई समाजवादी विजय यात्रा पांच जिलों में पूरी करने के बाद वह कानपुर देहात से गुरुवार सुबह कार्यकर्ताओं से मिलकर लखनऊ के लिए रवाना हो गए।

इससे पहले अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) की आलोचना करते हुए बुधवार को कहा कि बीजेपी उस केंद्रीय मंत्री के खिलाफ कभी कार्रवाई नहीं करेगी, जिनका बेटा लखीमपुर खीरी हिंसा (Lakhimpur Kheri Violence) के सिलसिले में गिरफ्तार हुआ। साथ ही कहा कि बुंदेलखंड की जनता बीजेपी के खिलाफ इतने वोट डालेगी कि उसके वोटों पर बुलडोजर चल जाएगा।

अखिलेश ने 'विजय रथ यात्रा' के दूसरे दिन बुधवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) पर निशाना साधते हुए कहा, ''हमारे बाबा मुख्यमंत्री को दो चीजें पसंद हैं- एक बुल (सांड) और दूसरा बुलडोजर। पिछली बार बुलडोजर की कमान इनके हाथों में दे दी गई थी लेकिन इस बार बुंदेलखंड की जनता ने तय कर लिया है कि बुलडोजर का स्टेयरिंग वह अपने हाथ में रखेगी और बीजेपी के खिलाफ इतने वोट डालेगी कि इनके वोटों पर बुलडोजर चल जायेगा।''

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार, 12 अक्टूबर को कानपुर के जाजमऊ गंगा पुल से समाजवादी विजय यात्रा की शुरुआत की थी। दो दिन में कानपुर, हमीरपुर, महोबा, जालौन और कानपुर देहात में भ्रमण करके भाजपा सरकार की खामियों से जनता को अवगत कराया और सपा सरकार की उपलब्धियों को बताया।

बुधवार शाम कानपुर देहात के अकबरपुर में सभा के बाद वह सर्किट हाउस में ठहरे थे। गुरुवार की सुबह उन्होंने लखनऊ रवानगी से पहले कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। वहां पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि किसानों और नौजवानों के सम्मान का काम सपा ने हमेशा किया है और करती रहेगी।

अन्य दलों से गठबंधन के सवाल पर उन्होंने कहा कि सम्मान समाजवादी लोग करते हैं, चाचा की पार्टी से गठबंधन को लेकर कोई स्पष्ट जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा कि सरकार ने इतने रुपये खर्च किए पर अन्ना मवेशी की समस्या खत्म नहीं हो सकी। भाजपा के लोगों ने कसमें खाईं लेकिन आज गंगा यमुना पांडु सभी नदियां प्रदूषित हैं।

कानपुर देहात स्थित अमूल प्लांट के सामने बुधवार की शाम आयोजित जनसभा में उन्होंने कहा कि हमने ही इस प्लांट को शुरू कराया था। जिले के किसानों व पशुपालकों को दूध बिक्री से मुनाफा हो रहा है। यह सपा सरकार की ही देन है। भाजपा सरकार ने जिले में अपने कार्यकाल में एक भी उद्योग नहीं लगाया है।

वहीं, कानपुर व देहात की धरती से जुड़े रहे पुराने पूर्व सांसद चौधरी हरमोहन सिंह को उन्होंने याद किया, कहा कि जब भी संकट का समय रहा, चौधरी जी हमेशा साथ खड़े रहे। उनका योगदान कानपुर नगर व कानपुर देहात कभी भूल नहीं सकता है। अकबरपुर के पूर्व सांसद राजाराम पाल उनके साथ ही रहे।

इससे पहले बीजेपी पर हमला करते हुए उन्होंने कहा, "भाजपा विकास करने वाली नहीं, नाम बदलने वाली सरकार है। वह सिर्फ उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाकर महंगाई बढ़ा रही है।" ये बातें अखिलेश यादव ने विजय रथयात्रा के दूसरे दिन की हमीरपुर से शुरुआत करते हुए कहीं। सरकार बनने पर गरीबों को 300 यूनिट बिजली फ्री देने के साथ वृद्धावस्था पेंशन तीन गुना करने की घोषणा की।

हमीरपुर, जालौन और कानपुर देहात में रथयात्रा और जनसभाओं में उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड में डिफेंस कारिडोर के नाम पर जनता को गुमराह किया जा रहा है। भाजपा को भारी जीत दिलाने के बाद बुंदेलखंड की जनता को धोखा मिला। किसान अभी भी मात्र एक फसल ही ले रहा है। महंगाई चरम पर है। पेट्रोल के दाम 102 रुपये पहुंच गए।

इससे पहले कालपी के ठक्कर बापा इंटर कालेज मैदान में हुई सभा में उन्होंने कहा कि किसानों और युवाओं को सुनहरे सपने दिखाकर भाजपा ने केंद्र व उत्तर प्रदेश में सरकार बना ली लेकिन सत्ता में आने के बाद हर वर्ग के साथ धोखा किया है।

केंद्र सरकार फेंकू तो थी ही अब बेचू सरकार भी हो गई है। एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन सब बेचे जा रहे हैं। सरकार ईस्ट इंडिया कंपनी की तरह काम कर रही है। वर्ष 2022 के चुनाव में जनता बुल व बुलडोजर की सरकार को वोट की ताकत से उखाड़ फेंकेगी।

Next Story

विविध

Share it