Top
समाज

जम्मू- कश्मीर : रेलवे पुलिस के 98 पदों की भर्ती के लिए 22,000 युवाओं ने किया आवेदन

Nirmal kant
30 Dec 2019 6:23 AM GMT
जम्मू- कश्मीर : रेलवे पुलिस के 98 पदों की भर्ती के लिए 22,000 युवाओं ने किया आवेदन
x

रेलवे पुलिस अधिकारियों के 98 पदों के लिए 22,000 युवाओं ने किया आवेदन, प्रत्येक दिन 700 युवक और युवतियों का हो रहा शारीरिक परीक्षण...

श्रीनगर से फैजान मीर की रिपोर्ट

श्रीनगर। जम्मू और कश्मीर के श्रीनगर में रेलवे एसपीओ के पदों की भर्ती के लिए बड़ी संख्या में कश्मीरी युवक और युवतियां शामिल हुए। रविवार 29 दिसंबर को युवा भर्ती के लिए लाइनों में खड़े हुए।

रिष्ठ पुलिस अधीक्षक शफकत अहमद ने बताया, 'हमें रेलवे एसपीओ के पदों के लिए 20,000 से अधिक फॉर्म मिले हैं। हम प्रतिदिन 700 से अधिक लड़के और लड़कियों का शारीरिक परीक्षण कर रहे हैं।'

संबंधित खबर : कश्मीर में करीब 200 मीडिया संस्थानों के 600 पत्रकारों के पास खबर भेजने के लिए सिर्फ एक मीडिया सेंटर

पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा कि विशेष पुलिस अधिकारियों (एसपीओ) के लगभग 98 पदों को भरने के लिए जम्मू-कश्मीर रेलवे पुलिस की भर्ती अभियान में 22,000 से अधिक उम्मीदवारों शामिल हुए।

में खड़े एक युवक ने कहा, मैने तुरंत ही इस पद के लिए आवेदन कर लिया था क्योंकि यह रोजगार पाने का एक अच्छा अवसर था। उन्होंने कहा कि यह एक उत्साहजनक अवसर है।

संबंधित खबर : खामोशी और जख्मों के परे - कश्मीर जो ना भुला पाएगा और ना माफ कर पाएगा

ह विशेष पुलिस अधिकारी (एसपीओ) भर्ती अभियान गुरुवार 26 दिसंबर को शुरू हुआ और आज संपन्न हुआ। भर्ती के दौरान सैकड़ों युवाओं को फॉर्म भरने, 400 मीटर की दौड़ लगाने और शारीरिक परीक्षण देने के लिए कहा गया। आवेदकों का चयन उसी दिन किया गया।

र्ती रैली में आए जीशान खान ने कहा कि रोजगार के लिए हम यहां आए हैं। हमें रोजगार चाहिए इसलिए जहां भी भर्ती होती है वहां चले जाते हैं।

से आए आमिर अहमद भट कहते हैं, 'हम नौजवानों को ये गलतफहमी रहती है कि पुलिस ऐसा होता वैसा होता है। कोई पुलिसवाला गलत करता है तो लोग कहते हैं सभी पुलिसवाले खराब हैं लेकिन ऐसा नहीं है, सभी पुलिस वाले एक जैसे नहीं होते हैं।'

संबंधित खबर : ‘कश्मीर की समूची आबादी सूचना और समाचार के काल कोठरी में दफना दी गई’

शाहबाज अहमद गुरु ने कहा, 'हमारे कश्मीर में बेरोजगारी का मसला बहुत बड़ा है। हम युवा यहां अनुच्छेद 370 और 35 ए हटने की वजह से नहीं आ रहे हैं। कश्मीर में बेरोजगारी का मसला पहले भी था और अब भी है। भर्ती केवल 98 पदों के लिए है बीस बाईस हजार युवा भर्ती होने आए हैं, इससे बेरोजगारी का मसला हल नहीं होगा। जिलावार भर्ती होनी चाहिए।'

Next Story

विविध

Share it