राष्ट्रीय

बसपा से टिकट कटते ही मुख्तार अंसारी को चौतरफा ऑफर, अपने पाले में लपकने की लगी होड़

Janjwar Desk
12 Sep 2021 4:19 AM GMT
बसपा से टिकट कटते ही मुख्तार अंसारी को चौतरफा ऑफर, अपने पाले में लपकने की लगी होड़
x

बसपा से टिकट कटते ही मुख्तार अंसारी को कई दलों ने ऑफर दिया है (file pic)

मुख्तार अंसारी का टिकट बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने काट दिया है, इसके बाद से मुख्तार को अपने पाले में लपकने की होड़ सी लग गई है और टिकट के लिए चौतरफा ऑफर मिलने लगा है.

जनज्वार। उत्तरप्रदेश में अगले वर्ष होनेवाले विधानसभा चुनावों (Vidhansabha election) को लेकर माहौल धीरे-धीरे गरमा रहा है। राजनीतिक दल गोटियां फेंक रहे हैं। नए मोहरे आ रहे हैं तो छँटनीग्रस्त मोहरों को लपकने की होड़ भी चल रही है। मुख्य दलों के (main parties) अलावा कई छोटे दलों ने भी मैदान में उतरने की घोषणा कर बड़े-बड़े धुरंधरों का चुनावी गणित भी उलझा दिया है।

इस बीच जेल में बंद मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) का टिकट बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने काट दिया है। इसके बाद से मुख्तार को अपने पाले में लपकने की होड़ सी लग गई है और उन्हें टिकट के लिए चौतरफा ऑफर मिलने लगा है। ओमप्रकाश राजभर तथा एआईएमआईएम ने उन्हें टिकट देने का खुला निमंत्रण दे दिया है।

सुभासपा के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर (Omprakash Rajbhar) ने मुख्तार अंसारी को गरीबों का मसीहा बताया है। साथ ही उन्होंने उन्हें मनमाफिक सीट देने का ऑफर दिया है। ओमप्रकाश राजभर ने कहा, "मैं उन्हें अपराधी नहीं मानता हूं। जब तक अदालत से सजा नहीं मिल जाए तब तक हम उन्हें कैसे अपराधी बोल सकते हैं"?

ओमप्रकाश राजभर बीजेपी (BJP) के विरुद्ध खासे आक्रामक हैं और प्रतिदिन बयानों के तीर छोड़ रहे हैं। पूर्व कैबिनेट मंत्री और सुभासपा के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने शनिवार को कहा कि मुसलमान (muslim) होने के कारण मुख्तार अंसारी सभी के निशाने पर हैं। राजभर ने कहा कि संसद और यूपी विधानसभा में बैठे आधे से ज्यादा सांसद और विधायक अपराधी हैं।

इटावा में जसवंतनगर विधानसभा क्षेत्र के ताखा में अधिकार सम्मेलन को संबोधित करते हुए राजभर ने कहा कि विधानसभा चुनाव में योगी (Yogi Adityanath) को लोग सत्ता से बेदखल कर देंगे। मुख्तार को लेकर मायावती का बिना नाम लिए राजभर ने उन पर हमला किया। राजभर ने कहा कि बसपा ने पवन पांडेय को टिकट देने की बात कही है। पवन पांडेय क्या अपराधी नहीं है।

वहीं, एआईएमआईएम (AIMIM) के प्रदेश प्रवक्ता असीम वकार ने मुख्तार अंसारी को ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआइएमआइएम) से चुनाव लडऩे का ऑफर दिया है। उन्होंने कहा कि अगर मऊ से मुख्तार अंसारी हमारी पार्टी से चुनाव लड़ सकते हैं तो हम टिकट देने के लिए तैयार हैं।

एआइएमआइएम के उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष शौकत अली ने कहा है कि उनकी पार्टी मुख्तार अंसारी को पार्टी में लेने के लिए तैयार है। शौकत अली कहा कि अगर मुख़्तार चाहेंगे तो यकीनन उन्हेंं टिकट भी दिया जाएगा।

वहीं, ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल-मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली ने भी इस मसले पर कहा, ''अगर मुख्तार अंसारी उनकी पार्टी से संपर्क करेंगे तो वह उन्हें आगामी विधानसभा चुनाव में टिकट देगी और चुनाव जिता कर भी लायेगी क्योंकि अदालत ने उन्हें अब तक अपराधी नही माना हैं।''

गौरतलब है कि बसपा प्रमुख मायावती ने शुक्रवार को घोषणा की थी कि जेल में बंद मुख्तार अंसारी को आगामी विधानसभा चुनाव में मऊ से पार्टी का प्रत्याशी नहीं बनाया जाएगा। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने शुक्रवार को कहा था कि बसपा अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव में 'बाहुबली' अथवा माफिया आदि को उम्मीदवार नहीं बनाने के प्रयास करेगी और इसी के साथ उन्होंने विभिन्न आपराधिक मामलों में जेल में बंद मुख्तार अंसारी को मऊ से दोबारा पार्टी का टिकट नहीं देने की घोषणा की थी।

बांदा जेल में बंद मुख्तार अंसारी के स्थान पर भीम राजभर (Bhim Rajbhar) को पार्टी ने मऊ से अपना प्रत्याशी घोषित किया है। भीम राजभर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष हैं। बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा किपार्टी नेतृत्व ने बसपा उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष भीम राजभर के नाम को मऊ से फाइनल किया है।

Next Story

विविध

Share it