Top
राष्ट्रीय

दीपिका पादुकोण से जेएनयू का साथ देने का बदला संघियों ने लिया अब, ट्रेंड कराया #चरसी_दीपिका_पादुकोण

Janjwar Desk
23 Sep 2020 2:56 AM GMT
दीपिका पादुकोण से जेएनयू का साथ देने का बदला संघियों ने लिया अब, ट्रेंड कराया #चरसी_दीपिका_पादुकोण
x
अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का ड्रग केस में नाम आने के बाद उनसे जुड़े तरह-तरह के हैशटैग ट्विटर पर ट्रेंड कर रहे हैं। इसके जरिए उन्हें ड्रग एडिक्ट बताया जा रहा है और इस पर ट्वीट करने वाले ज्यादातर लोग खुद को राष्ट्रवादी और राष्ट्रवादी हिंदू बताने वाले हैं...

जनज्वार। अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का नाम बाॅलीवुड के कथित ड्रग नेटवर्क में आने के बाद 22 सितंबर की शाम से ही दीपिका पादुकोण से जुड़े हैशटैग ट्विटर पर टाॅप ट्रेंड में बने हुए हैं। उनसे जुड़े विभिन्न हैशटैग के माध्यम से दो दिनों से उन्हें लगातार ट्रोल किया जा रहा है और उन्हें चरसी दीपिका पादुकोण बताया जा रहा है।

दीपिका पादुकोण को लेकर #चरसीदीपिकापादुकोण हैशटैग के साथ #Deepika, #MaalHaiKya, #DeepikaMaalChats सहित कई हैशटैग ट्विटर पर टाॅप ट्रेंड बने। इन हैशटैग के माध्यम से दीपिका पादुकोण को ड्रग एडिक्ट बताया जा रहा है। इन हैशटैग पर ट्वीट करने वाले लोगों में ऐसे लोग हैं जो खुद को राष्ट्रवादी, राष्ट्रवादी हिंदू आदि बता रहे हैं। यानी वे संघ व भाजपा के समर्थक समूह हैं और उन्होंने ही इन चरसी दीपिका पादुकोण जैसे हैशटैग को ट्रेंड कराया।


दरअसल, दीपिका पादुकोण जेएयनू प्रकरण के बाद ही संघ-भाजपा समर्थकों की नजर में चढी हुई हैं। अभिनेत्री दीपिका पादुकोण इस साल के शुरुआत में जेएनयू परिसर वहां आंदोलन कर रहे छात्रों के प्रति सहानुभूति व समर्थन जताने पहुंचीं थीं। वे सात जनवरी 2020 को जेएनयू परिसर पहुंची थीं जब वहां विश्वविद्यालय में हुई हिंसा में घायल छात्र आंदोलन कर रहे थे।

उस समय दीपिका पादुकोण दिल्ली में एसिड पीड़ितों पर बनी अपनी फिल्म छपाक के प्रमोशन के लिए थीं। दीपिका ने वामपंथी छात्र संगठनों के प्रतिनिधियों से मुलाकात की थी और उनके प्रति अपना समर्थन जताया था। उस समय जेएनयू परिसर में कुछ नकाशपोशों ने घुसकर छात्रों के साथ मारपीट की थी। इस मामले में भाजपा से जुड़े छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद पर आरोप लगाया गया था। तब दीपिका पादुकोण ने कहा था कि मुझे यह देख कर गर्व होता है कि हम खुद को अभिव्यक्त करने में डर नहीं रहे हैं।


इस घटना के बाद दीपिका पादुकोण संघियों के निशाने पर आ गईं थीं, उनकी तीखी आलोचना की गई और कहा गया कि वे अपनी छपाक के प्रमोशन में जेएनयू प्रकरण का लाभ लेना चाहती हैं।

अब सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले के कारण बाॅलीवुड के ड्रग नेटवर्क की नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो जांच कर रहा है। इस मामले में अबतक दर्जन भर लोग गिरफ्तार हो चुके हैं और कईयों पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है।


एनसीबी ने मंगलवार को दो बड़ी अभिनेत्रियों सारा अली खान व श्रद्धा कपूर को इस मामले में सम्मन भेजा है और दीपिका पादुकोण की मैनेजर करिश्मा को भी पूछताछ के सम्मन भेजा जा चुका है। ऐसे में यह बहुत स्पष्ट है कि दीपिका पादुकोण भी आने वाले कुछ दिनों में इस मामले के जांच दायरे में आ सकती हैं।

Next Story

विविध

Share it